News Nation Logo
Banner

गोरखपुर हादसा: पीएम मोदी पर शिवसेना ने साधा निशाना, कहा- गरीबों के मन की बात नहीं समझे

शिवसेना ने मुखपत्र सामना में योगी सरकार के साथ-साथ मोदी सरकार पर भी निशाना साधते हुए इस घटना को 'सामूहिक बालहत्या' करार दिया है।

News Nation Bureau | Edited By : Pradeep Tripathi | Updated on: 14 Aug 2017, 11:28:09 AM

नई दिल्ली:

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हुई बच्चों की मौत पर शिवसेना ने बीजेपी की आलोचना की है। शिवसेना ने मुखपत्र सामना में योगी सरकार के साथ-साथ मोदी सरकार पर भी निशाना साधते हुए इस घटना को 'सामूहिक बालहत्या' करार दिया है।

शिवसेना ने स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह को आड़े हाथों लिया है और उन्हें हटाने की मांग की है।

सामना में शिवसेना ने सिद्धार्थनाथ सिंह के उस बयान की आलोचना की है जिसमें उन्होंने कहा था कि अगस्त में बच्चों की मौत होती ही है।

शिवसेना ने सामना में लिखा है, 'उत्तर प्रदेश का बाल हत्या तांडव- स्वतंत्रता दिवस का अपमान है। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर अस्पताल में 70 बच्चों की मौत को 'सामूहिक बालहत्या' ही कहेंगे, यह गरीबों की बदकिस्मती है। गरीबों का दुख, उनकी वेदना और उनकी 'मन की बात ' को समझने के बजाए, उनकी वेदनाओं की खिल्ली उड़ाई जा रही है। जो हुआ है... उसके लिए जिम्मेदार कौन है।'

और पढ़ें: एंबी वैली 37,392 करोड़ रिज़र्व प्राइस पर होगी नीलाम

शिवसेना ने प्रधानमंत्री मोदी पर भी हमला करते हुए कहा है, 'केंद्र में सत्ता परिवर्तन होने के बावजूद, आज भी सरकारी अस्पतालों में गरीब और ग्रामीण लोगों के लिए 'अच्छे दिन' नहीं आए हैं।'

शिवसेना ने पूछा है को उत्तर प्रदेश के मंत्री कहते हैं कि अगस्त के महीने में बच्चे मरते ही हैं। लेकिन सवाल ये उटता है कि अगस्त के महीने में सिर्फ गरीबों के बच्चे ही क्यों मरते हैं, अमीरों के बच्चों के साथ ऐसा क्यों नहीं होता।'

और पढ़ें: पाकिस्तान ने अपने स्वतंत्रता दिवस पर फिर गाया कश्मीर राग

First Published : 14 Aug 2017, 11:25:21 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो