News Nation Logo

ED दफ्तर ले जाए गए मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों को झेल रहे YES बैंक के पूर्व CEO राणा कपूर

बता दें, ईडी की टीम ने पहले मनी लॉन्ड्रिंग (पीएमएलए) के तहत राणा कपूर के खिलाफ मकुदमा दर्ज किया. इसके बाद ईडी के अधिकारियों ने पीएमएलए के तहत राणा कपूर के घर की तलाशी ली

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 07 Mar 2020, 01:23:09 PM
rana kapoor 72 5

राणा कपूर (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के आरोपों को झेल रहे यस बैंक (Yes Bank) के पूर्व CEO राणा कपूर को ED दफ्तर ले जाया गया है जहां उनसे पूछताछ की जाएगी. दरअसल उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था जिसेक बाद उनकी तलाश की जा रही थी. उनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज है. बता दें, ईडी की टीम ने पहले मनी लॉन्ड्रिंग (पीएमएलए) के तहत राणा कपूर के खिलाफ मकुदमा दर्ज किया. इसके बाद ईडी के अधिकारियों ने पीएमएलए के तहत राणा कपूर के घर की तलाशी ली. इसके साथ ही राणा कपूर के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया, ताकि वो देश छोड़कर विदेश न भाग जाए. ईडी की टीम ने ऐसे वक्त में राणा कपूर के घर तलाशी ली, जब यस बैंक संकट के दौर से गुजर रहा है.

यह भी पढ़ें: यस बैंक संकट पर SBI ने कहा '49 प्रतिशत शेयर खरीदने की योजना'

बता दें, साल 2004 में राणा कपूर और अशोक कपूर के जरिए यस बैंक को शुरू किया गया था, जिन्हें उस दौर में दिग्गज प्रोफेशनल माना जाता था. राणा कपूर ने दिल्ली स्थित श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से पढ़ने के बाद न्यूजर्सी के रटगर्स यूनिवर्स‍िटी से एमबीए किया था.

यह भी पढ़ें: Yes Bank: राणा कपूर के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी, मनी लॉन्ड्रिंग के तहत मुकदमा दर्ज

उन्होंने बैंक ऑफ अमेरिका में 16 साल तक नौकरी की थी. आपको बता दें कि देश के कई दिग्गज प्रोफेशनल के जरिए शुरू किया गया निजी क्षेत्र का यस बैंक संकट में फंस गया है. इसके बोर्ड का संचालन रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपने हाथों में लेते हुए इससे महीने में 50 हजार रुपये तक की ही निकासी होने की सीमा तय कर दी है. सरकार ने इसे संकट से दूर करने के लिए कवायद भी शुरू कर दी है.

First Published : 07 Mar 2020, 12:55:39 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.