News Nation Logo

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता कैप्टन सतीश शर्मा का निधन

Former Congress MP Captain Satish Sharma passed away: कांग्रेस पार्टी को बुधवार देर एक बड़ी क्षति पहुंची है. कांग्रेस के दिग्गत नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कैप्टन सतीश शर्मा (Captain Satish Sharma) का गोवा में निधन हो गया.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 17 Feb 2021, 11:49:00 PM
Captain Satish Sharma

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस नेता कैप्टन सतीश शर्मा का निधन (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Former Congress MP Captain Satish Sharma passed away: कांग्रेस पार्टी को बुधवार देर एक बड़ी क्षति पहुंची है. कांग्रेस के दिग्गत नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कैप्टन सतीश शर्मा (Captain Satish Sharma) का गोवा में निधन हो गया. लंबे समय तक कैप्टन सतीश शर्मा अमेठी लोकसभा क्षेत्र में गांधी परिवार के प्रतिनिधि थे. वे पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के करीबी भी माने जाते थे. कई राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी उनके निधन पर दुख जताया है. इस पर कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने उनके निधन पर शोक जताया. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि कैप्टन सतीश शर्मा के निधन के बारे में सुनकर काफी दुखी हूं. उनका व्यवहार अपने से छोटे साथियों के लिए हमेशा प्रोत्साहित करने वाला रहा. उन्हें हमेशा याद किया जाएगा.

कैप्टन शर्मा तीन बार राज्यसभा सदस्य रहे 

कैप्टन सतीश शर्मा रायबरेली और अमेठी से सांसद रह चुके थे और साल 1993 से 1996 तक वे केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री के पद पर रहे थे. आंध्र प्रदेश के सिकंदराबाद में 11 अक्टूबर 1947 को जन्मे कैप्टन शर्मा पेशेवर पायलट थे. वह 3 बार राज्यसभा सदस्य भी बने और उन्होंने मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड और का प्रतिनिधित्व किया.

 

पहली बार वह जून 1986 में राज्यसभा सदस्य बने और बाद में राजीव गांधी के निधन के बाद 1991 में अमेठी से लोकसभा सदस्य चुने गए. इसके बाद जुलाई 2004 से 2016 तक वह राज्यसभा सदस्य रहे. कैप्टन सतीश शर्मा के परिवार में उनकी पत्नी, एक बेटा और एक बेटी हैं.

रायबरेली में कांग्रेस की कराई थी वापसी

रायबरेली से 1957 में पहली बार फिरोज गांधी कांग्रेस की सीट पर जीतकर दिल्ली पहुंचे थे, लेकिन 1967 में इंदिरा गांधी की जीत के बाद ये सीट सुर्खियों में आई. रायबरेली लोकसभा सीट पर 1996 और 1998 में भाजपा के अशोक सिंह पहली बार कमल खिलाने में सफल हुए थे, लेकिन इसके बाद कांग्रेस के गढ़ में बीजेपी दोबारा वापसी नहीं कर पाई. 1999 में कैप्टन शर्मा ने कांग्रेस की वापसी करवाते हुए शानदार जीत दर्ज की थी. इसके बाद से कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी लगातार इस सीट से सांसद हैं.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 17 Feb 2021, 10:32:59 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.