News Nation Logo
Banner

देश में कोरोना वैक्सीन के कारण पहली मौत की पुष्टि, टीका लगने के 30 मिनट बाद तक इस बात पर दें ध्यान

देश में कोरोना वैक्सीन ( Corona Vaccine ) की वजह से एक मौत की पुष्टि हुई है, इस बात का खुलासा कोरोना वैक्सीन से 31 लोगों की मौत होने के आरोपों की जांच कर रही एक समिति ने किया है

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 15 Jun 2021, 09:14:52 PM
corona vaccination

corona vaccination (Photo Credit: news nation)

highlights

  • देश में कोरोना वैक्सीन की वजह से एक मौत की पुष्टि हुई
  • वैक्सीन की वजह से केवल एक 68 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हुई है
  • वैक्सीन से 31 लोगों की मौत की जांच कर रही एक समिति

नई दिल्ली:

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर ( second wave of coronavirus) भारी तबाही मचा चुकी है. हालांकि अभी कोरोना मौतों का सिलसिला जारी है, लेकिन वायरस के प्रभाव में कमी आई है. वहीं, कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए देश में वैक्सीनेशन अभियान ( Corona Vaccination ) जारी है. जिसके तहत रोजाना लाखों लोगों को टीका लगाया जा रहा है. इसके साथ ही केंद्र और राज्य मिलकर लोगों से अधिक से अधिक वैक्सीन ( Corona Vaccine ) लगवाने की अपील कर रहे हैं. इस बीच देश में कोरोना वैक्सीन की वजह से एक मौत की पुष्टि हुई है. इस बात का खुलासा कोरोना वैक्सीन से 31 लोगों की मौत होने के आरोपों की जांच कर रही एक समिति ने किया है.

यह भी पढ़ें : कृषि मंत्री तोमर से मिले उत्तराखंड के CM रावत, राज्य के विकास के लिए उठाई ये मांग

क्या है एडवर्स इवेंट फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन?

दरअसल, कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत से ही इसके टीके के साइड इफेक्ट को लेकर तरह-तरह के दावे किए जाते रहे हैं. इस बीच कुछ लोगों द्वारा कोरोना वैक्सीन की वजह से 31 लोगों की मौत होने का दावा किया गया था. जिसके बार सरकार ने कोरोना वैक्सीन के गंभीर साइड इफेक्ट की समीक्षा की है. आपको बता दें कि वैक्सीन के साइड इफेक्ट की वजह से होने वाली मौत को वैज्ञानिक भाषा में एडवर्स इवेंट फॉलोइंग इम्यूनाइजेशन यानी Adverse Events Following Immunization कहा जाता है. केंद्र सरकार ने AEFI के लिए एक कमेटी का गठन किया था. इस कमेटी ने कथित वैक्सीन की वजह से हुई 31 मौत संबंधी मामले में जांच की है. कमेटी ने बताया कि वैक्सीन की वजह से केवल एक 68 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हुई है. बताया गया कि बुजुर्ग की मौत टीका लगने के बाद एनाफिलैक्सीस (anaphylaxis) से हुई है, जो एक प्रकार का एलर्जिक रिएक्शन होता है. आपको बता दें कि 8 मार्च 2021 को बुजुर्ग को कोरोना वैक्सीन की पहली खुराक दी गई थी, जिसके कुछ दिन ही उसकी मौत हो गई थी. 

यह भी पढ़ें : दिल्ली में धीमी पड़ी कोरोना वायरस की रफ्तार, जानिए 24 घंटे में कितने केस हुए दर्ज

वैक्सीन लगने के बाद 30 मिनट तक प्रतीक्षा करने की जरूरत

एईएफआई कमेटी के चेयरमैन डॉ. एनके आरोड़ा ने जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वैक्सीन के साइड इफेक्ट की वजह से देश में पहली मौत हुई है. उन्होंने कहा कि एनाफिलेक्सि के कारण कोरोना वैक्सीनेशन से जुड़ी यह पहली मौत है. यह वैक्सीन लगने के बाद 30 मिनट तक प्रतीक्षा करने की जरूरत पर जोर देता है. उन्होंने कहा कि इस अवधि के दौरान अधिकांश एनाफिलेक्टिक प्रतिक्रियाएं होती हैं. जबकि समय पर इलाज मिलने से मौतों को रोका जा सकता है. 

First Published : 15 Jun 2021, 09:01:08 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.