News Nation Logo
Banner

किसान आंदोलन के पूरे सप्ताह का कार्यक्रम तय, 23 फरवरी को पगड़ी संभाल दिवस

किसान आंदोलन (Farmers Protest) को तेज करने के मकसद से सयुंक्त किसान मोर्चा ने अगले पूरे सप्ताह का कार्यक्रम तय किया है जिसके तहत 23 फरवरी को पगड़ी संभाल दिवस मनाया जाएगा. सयुंक्त किसान मोर्चा की जनरल बॉडी की बैठक में रविवार को फेसला लिया गया कि 23 फर

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 22 Feb 2021, 12:42:56 AM
farmers protest 5

Farmers Protest (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

किसान आंदोलन (Farmers Protest) को तेज करने के मकसद से सयुंक्त किसान मोर्चा ने अगले पूरे सप्ताह का कार्यक्रम तय किया है जिसके तहत 23 फरवरी को पगड़ी संभाल दिवस मनाया जाएगा. सयुंक्त किसान मोर्चा की जनरल बॉडी की बैठक में रविवार को फेसला लिया गया कि 23 फरवरी को पगड़ी संभाल दिवस मनाया जाएगा. बैठक की अध्यक्षता किसान नेता इंदरजीत सिंह ने की. इस मौके पर किसान संगठनों के नेताओं ने संयुक्त किसान मोर्चा में शामिल संगठन कीरती किसान यूनियन पंजाब के प्रधान दातार सिंह के निधन पर श्रद्धांजलि दी. मोर्चा ने एक बयान में कहा कि 23 फरवरी को पगड़ी संभाल दिवस चाचा अजीत सिंह एवं स्वामी सहजानंद सरस्वती की याद में मनाया जाएगा. सरदार अजीत सिंह देशभक्त एवं क्रांतिकारी थे. वह शहीद भगत सिंह के चाचा थे.

बैठक में मौजूद भारतीय किसान यूनियन (लाखोवाल) के जनरल सेक्रेटरी हरिंदर सिंह ने बताया कि इस दिन किसान अपने आत्मसम्मान का इजहार करते हुए अपनी क्षेत्रीय पगड़ी पहनेंगे.

किसान नेता डॉ. दर्शनपाल ने मोर्चा की तरफ से एक बयान में कहा कि अगले दिन 24 फरवरी को 'दमन विरोधी दिवस' की घोषणा की जाती है जिसमें किसान आंदोलन पर हो रहे चौतरफा दमन का विरोध किया जाएगा. इस दिन सभी तहसील व जिला मुख्यालयों पर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिए जाएंगे.

और पढ़ें: विपक्षी दलों पर कृषि मंत्री का करारा हमला, कहा- किसानों को बरगला रहे हैं कुछ राजनीतिक दल

संयुक्त किसान मोर्चा ने बताया कि 26 फरवरी को दिल्ली मोर्चे के तीन महीने पूरे होने पर युवाओ के योगदान को सम्मानपूर्वक 'युवा किसान दिवस' मनाया जाएगा. इस दिन मोर्चे के सभी मंच युवाओं द्वारा संचालित किए जाएंगे. अलग अलग राज्यों के युवाओं से दिल्ली बॉर्डर्स पहुंचने की अपील की जाती है.

इसके बाद गुरु रविदास जयंती और शहीद चंद्रशेखर आजाद के शहादत दिवस पर 27 जनवरी को 'मजदूर किसान एकता दिवस' मनाया जाएगा. मोर्चा ने कहा कि सभी देशवासियों से अपील की जाती है कि वे दिल्ली धरनों पर आकर मोर्चे को मजबूत करें.

तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में देश की राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर डेरा डाले किसान की अगुवाई कर रहे संगठनों का संघ संयुक्त किसान मोर्चा ने बताया कि मोर्चे के तीसरे पड़ाव सम्बंधी बड़ी घोषणाएं 28 तारीख को फिर एक बैठक के बाद की जाएगी.

First Published : 22 Feb 2021, 12:42:56 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.