News Nation Logo
Banner

फानी तूफान का बढ़ा खतरा, किसी भी स्‍थिति से निपटने को नौसेना के विमान तैयार

फानी तूफान को लेकर भारतीय मौसम विभाग ने खतरे की चेतावनी जारी कर दी है. मौसम विभाग ने मंगलवार को ओडिशा के तटीय इलाकों में भारी बारिश का अनुमान जताया है.

News Nation Bureau | Edited By : Drigraj Madheshia | Updated on: 01 May 2019, 06:34:21 PM

नई दिल्‍ली:

फानी तूफान को लेकर भारतीय मौसम विभाग ने खतरे की चेतावनी जारी कर दी है. मौसम विभाग ने मंगलवार को ओडिशा के तटीय इलाकों में भारी बारिश का अनुमान जताया है. मौसम विभाग के मुताबिक ओडिशा के बोध, कालाहांडी, संबलपुर, देवगढ़ और सुंदरगढ़ में भारी बारिश की आशंका है. वहीं भारतीय नौसेना ने किसी भी स्‍थिति से निपटने के लिए आईएनएस देवगा और आईएनएस राजाली में नौसेना के विमान तैयार रखे हैं. वहीं ओडिशा की गैर-जरूरी यात्रा को फिलहाल के लिए टालने की सलाह जारी की गई है.

यह भी पढ़ेंः चक्रवात 'फानी' को लेकर ओडिशा और आंध्र के बाद यूपी में भी अलर्ट जारी, मौसम वैज्ञानिकों ने किसानों से की ये अपील

ओडिशा के गोपालपुर और चांदबाली तटीय इलाकों में इसके भारी प्रकोप की आशंका जताई गई है. यहां से ये तूफान 3 मई तक दक्षिण में पुरी की तरफ बढ़ेगा. हवा की रफ्तार भी काफी तेज होने की आशंका है तकरीबन 175-185 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा की रफ्तार होगी इसकी रफ्तार बढ़कर 205 प्रति किमी घंटा भी हो सकती है.

यह भी पढ़ेंः Cyclone Fani Updates: चक्रवात फानी अगले कुछ घंटों में दिखाएगा खतरनाक रूप, इन राज्यों पर होगा खतरा

हवा की रफ्तार 150-160 किमी प्रति घंटा से 170 किमी प्रति घंटा तक पहुंच चुकी है. गंजम, पुरी, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा में 170 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा की रफ्तार देखी जा रही है. इसके अलावा गजापति, खुर्द, कटक, जयपुर, भद्रक, बालासोर में 130 किमी प्रति घंटा जबकि नयागढ़, अंगुल, कियोंझर, मयूरभंज, ढेंकनाल में 80-90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने के आसार हैं.

यह भी पढ़ेंः ओड़िशा में हाई अलर्ट, 3 मई को पुरी जिले में Fani चक्रवात आने की संभावना

इसके अलावा ओडिशा के बाकी अन्य जिलों में 30-40 से लेकर 50 किमी प्रति घंटे तक हवा की रफ्तार देखी जा सकती है.
ओडिशा समुद्री तट पर हवा की रफ्तार 2 मई को बेहद खराब स्थिति में हो सकती है जबकि 4 मई तक हालात और भी खराब होने की आशंका जताई गई है. फोनी चक्रवात तूफान को लेकर मछुआरों को समुद्र तट पर ना जाने की सलाह जारी की गई है. 2 मई से 4 मई तक पश्चिम बंगाल में बंगाल की खाड़ी के निकट भारी बारिश और तेज रफ्तार की हवा चलने की आशंका है.

यह भी पढ़ेंः Fani चक्रवाती तूफान को लेकर Indian Air Force और Navy हाई अलर्ट, जानें क्या है तैयारी

पुरी से दक्षिण पश्चिम की तरफ 460 किमी और दक्षिण पूर्व की तरफ विशाखापट्टनम पर इसके खतरे के आसार जताए गए हैं. ओडिशा में फोनी चक्रवात तूफान से खतरे को देखते हुए स्कूलों और कॉलेजों को बंद करने का आदेश दिया गया है.सभी शैक्षणिक संस्थानों को 2 मई से अगले सरकारी आदेश तक बंद रखने के आदेश दिए गए हैं. सभी परीक्षाओं को भी फिलहाल के लिए स्थगित कर दिया गया है.

सीएम ने मतदान स्थगित करने का अनुरोध किया
ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने चुनाव आयोग को लिखे लेटर में 66 पटकुरा विधानसभा क्षेत्रों में भी मतदान को स्थिगत करने के लिए अनुरोध किया है. केंद्रपाड़ा में 19 मई को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होने हैं.

सीएम ने कहा है कि केंद्रपाड़ा के राजनगर ब्लॉक में तेज खतरनाक फोनी तूफान के चलते भूस्खलन का खतरा है इसलिए मतदान को फिलहाल के लिए स्थिगत कर दिया जाए. ओडिशा के राहत आयुक्त की तरफ से पर्यटकों को जल्द से जल्द 2 मई की शाम तक पुरी से निकल जाने का निर्देश जारी किया गया है. 

First Published : 01 May 2019, 06:31:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो