News Nation Logo

कोरोना से जिन परिवारों में हुई मौत, ओम बिरला उनकी बेटियों की शादी का उठाएंगे बीड़ा

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने एक और बड़ी पहल की हैं. उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल में जिन परिवारों में कोरोना से मौत है, जैसे माता-पिता या कमाने वाले सदस्य की मृत्यु.  ऐसे परिवारों की विवाह योग्य बेटियों की शादी का  बीड़ा वह उठाएंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 27 May 2021, 09:14:29 PM
OM Birla

कोरोना से जिन परिवारों में हुई मौत, ओम बिरला उनकी बेटियों कराएंगे शादी (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की एक और बड़ी पहल
  • जनसहयोग से समाज करेगा ऐसी बेटियों का कन्यादान: बिरला
  • इन बेटियों को नहीं महसूस होने देंगे अभिभावकों की कमी: बिरला

नई दिल्ली:

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने एक और बड़ी पहल की हैं. उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल में जिन परिवारों में कोरोना से मौत है, जैसे माता-पिता या कमाने वाले सदस्य की मृत्यु.  ऐसे परिवारों की विवाह योग्य बेटियों की शादी का  बीड़ा वह उठाएंगे. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि जनसहयोग से समाज करेगा ऐसी बेटियों का कन्यादान. इन बेटियों को अभिभावकों की कमी नहीं महसूस होने देंगे. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि प्रबुद्धजनों और सामाजिक कार्यकर्ताओं को ऐसे परिवारों को चिन्हित करे और उनकी मदद की जाए. 

यह भी पढ़ें :कोविशील्ड की जगह कोवैक्सीन लगाने के मामले में एएनएम पर गिरी गाज

वर्चुअल संवाद के दौरान एक सामाजिक कार्यकर्ता ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से कहा कि इन परिवारों की विवाह योग्य बेटियों के बारे में भी विचार करना होगा. यह सुनकर बिरला ने कहा कि यह बेटियां भी अब हमारी जिम्मेदारी हैं. हम मिलकर इनका विवाह करवाएंगे. विवाह समारोह की व्यवस्थाओं में कोई कमी नहीं आने देंगे. इन बेटियों को विवाह के बाद भी माता-पिता की कमी महसूस नहीं होने दी जाएगी. बिरला ने कहा कि वसुधैव कुटुंबकम् की भावना के साथ इन परिवारों का न सिर्फ ध्यान रखना है, बल्कि ऐसे परिवारों की सहायता के लिए लम्बी अवधि की कार्ययोजना भी तैयार करनी है. बिरला ने कहा कि हमने ऐसे परिवारों के बच्चों की निशुल्क स्कूली शिक्षा की व्यवस्था की है. जो बच्चे इंजीनियरिंग या मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करना चाहते हैं, उनके लिए निशुल्क कोचिंग का भी व्यवस्था है.

यह भी पढ़ें :तेलंगाना में जूनियर डॉक्टर्स एसोसिएशन ने खत्म की हड़ताल

बिरला ने कहा, हम इन परिवारों के बड़े सदस्यों को कौशल विकास विभाग से प्रशिक्षण दिलाकर तथा बैंक से ऋण की व्यवस्था कर उनको अपने पैरों पर खड़ा कर आत्मनिर्भर बनाने में भी सहायता करेंगे. प्रबुद्धजन और सामाजिक कार्यकर्ता अपने आसपास के ऐसे परिवारों को चिन्हित और सूचीबद्ध कर उपलब्ध करवाएं. बिरला ने कहा कि कोविड के केसों में कमी आई है, लेकिन इसका खतरा अभी टला नहीं है. हमें किसी भ्रम में नहीं रहकर सजगता और सतर्कता बरतनी है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 27 May 2021, 09:14:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.