News Nation Logo

BREAKING

Banner

Corona Virus के चलते पूरा देश 21 दिनों का लॉक डाउन, जानिए इस दौरान क्या करें और क्या न करें

देशव्यापी लॉकडाउन के ऐलान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि देशवासियों को बिल्कुल घबराने की जरूरत नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि जरूरी सेवाएं और दवाएं मिलती रहेंगी.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 24 Mar 2020, 10:35:29 PM
narendra modi pm

पीएम नरेंद्र मोदी (Photo Credit: ट्विटर)

नई दिल्ली:

मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान देश वासियों को कोरोना वायरस (Corona Virus)को प्रकोप से बचाने के लिए अगले 21 दिनों तक पूरे देश में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है. हालांकि अभी रविवार को ही पूरे देश में जनता कर्फ्यू लगा था जिसके बाद पीएम मोदी ने एक बार फिर कोरोना के कहर से देशवासियों को बचाने के लिए यह कड़ा फैसला लिया है. इस दौरान पीएम मोदी ने यह भी बताया कि लॉकडाउन का मतलब सब कुछ बंद यह कर्फ्यू जैसा ही है लेकिन इसमें आपको जरूरी सामान मिलता रहेगा. 

देशव्यापी लॉकडाउन के ऐलान के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा कि देशवासियों को बिल्कुल घबराने की जरूरत नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि जरूरी सेवाएं और दवाएं मिलती रहेंगी. उन्होंने कहा कि मेरे देशवासियों, घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं है, जरूरी सेवाएं, दवाएं वगैरह उपलब्ध रहेंगी. केंद्र और राज्य सरकारें एक साथ मिलकर काम करेंगी, ताकि लोगों को जरूरी चीजें मिलती रहें. हम लोग एक साथ मिलकर कोविड-19 के खिलाफ लड़ेंगे और एक तंदुरुस्त और स्वास्थ्य भारत का निर्माण करेंगे. जय हिंद

जानिए लॉकडाउन के बाद क्या करें और क्या न करें

यह भी पढ़ें-PM Modi on Corona Virus: आज रात 12 बजे से पूरे देश में 21 दिनों के लिए संपूर्ण लॉकडाउन : पीएम मोदी

सिर्फ जरूरी कामों के लिए ही घर से निकलें
21 दनों के इस लॉकडाउन के दौरान काम कर रहे लोगों के लिए बड़ी चुनौती रहेगी. वहीं सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों को 21 दिनों तक छुट्टी दे दी गई है. इस दौरान किसी भी सरकारी या प्राइवेट कर्मचारी की तनख्वाह नहीं काटी जाएगी. इसलिए जितना हो सके बाहर निकले से बचें. अगर सरकार आपके लिए इतना बड़ा कदम उठा रही है तो आप सरकार को उसके इस प्रयास के लिए प्रोत्साहित करें और बाहर न निकलें. बहुत जरूरी कामों के लिए घर से बाहर निकलें. इन 21 दिनों में जब आपका सोशल डिस्टेंस खत्म हो जाएगा तभी कोरोना फैलने से रुकेगा. इन 21 दिनों में सिर्फ फायर सर्विस, बिजली वाले, पानी वाले, मीडिया वाले, पुलिस, डॉक्टर, दवा की दुकान वाले ही घरों से निकलें

यह भी पढ़ें-अब Corona Virus के बारे में बच्चों को बताएगा सुपर हीरो 'वायु', जानिए सरकार का मास्टर प्लान

आम आदमी तभी बाहर निकल सकता है जब बहुत ही जरूरी काम हो
आम नागरिक अपनी जरूरत की चीजों को लेने के लिए ही घर से बाहर निकल सकते है, क्योंकि लॉकडाउन में कर्फ्यू जैसी स्थिति नहीं रहती है. हालांकि इस दौरान उसे अपने जरूरी दस्तावेज साथ रखने होंगे ताकि जवाब मांगने पर वो अपनी पहचान बता सके. जब आपसे पूछा जाए तो आप संतोषजनक उत्तर दें कि आप किस काम के लिए बाहर जा रहे हैं,  दूध लेने, सब्जी लेने या अस्पताल किस वजह से बाहर जा रहा है. अगर उसकी जरूरत सही पाई जाती है तो उसे जाने दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें-Corona Virus Fear: न्यूजीलैंड में कोरोनावायरस के चलते लॉकडाउन की घोषणा

बाहर निकलने के अलावा आप कुछ भी कर सकते हैं लेकिन घर में रहकर
इन 21 दिनों के लॉकडाउन के दौरान आप अपने घरों से बाहर नहीं निकलेंगे तभी सराकार को कोरोना पर विजय हासिल होगी. सबसे बेहतर तरीका तो घर में रहकर ही 21 दिन बिताने चाहिए लेकिन जरूरी काम के लिए हर किसी को बाहर निकलना ही पड़ता है. इस दौरान आप ध्यान रखें कि आप सोशल डिस्टेंस बनाकर रखेंगे यानि कि दूसरे लोगों से लगभग 3 फीट की दूरी मेंटेन रखना है. इसके अलावा आप इंटरनेट से देश दुनिया की खबर तो लेते ही रहेंगे.  

लॉकडाउन के दौरान ये काम न करें
मोदी सरकार के इस लॉकडाउन को सफल बनाने के लिए आपक बिना किसी वजह के घर से न निकलें. इसके अलावा जब भी आप घर से बाहर निकलें सड़क पर निकलने के बाद यदि पुलिस या प्रशासनिक अधिकारी आपसे पूछताछ करता है तो शांतिपूर्वक अपने घर से बाहर निकलने की वजह बताइए. बिना वजह के अपने घर के बाहर पैनिक नहीं क्रिएट करें और सड़कों पर गुट बनाकर चलने से बचें. 

ब्लैक मार्केटिंग से बचें और सामान स्टोर नहीं करें ताकि सबका काम चल सके
मोदी सरकार ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए 21 दिनों के लिए पूरे देश में लॉकडाउन का ऐलान कर दिया है. और ये लॉकडाउन आज रात 12 बजे के बाद से शुरू हो जाएगा. आपको बता दें कि जैसे सरकार ऐसे किसी लॉकडाउन या फिर कर्फ्यू की बात करती है तो लोगों के मन  में एक भय बैठ जाता है कि अब बाजारों के बंद होने की वजह से कुछ सामान बाहर नहीं मिलेगा. इस मुसीबत से बचने के लिए हम जरूरत से ज्यादा सामान खरीद लाते हैं और बाजारों में इसकी वजह से कालाबाजारी शुरू हो जाती है जिसका खामियाजा भी आमा आदमी को ही भुगतना पड़ता है.  

First Published : 24 Mar 2020, 10:35:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×