News Nation Logo
Banner

चुनाव आयोग ने तीन जून को ईवीएम हैक करने की दी चुनौती, केजरीवाल ने कहा था 90 सेकेंड में हैक कर देंगे

5 राज्यों के विधानसभा और एमसीडी चुनाव के परिणाम आने के बाद अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों के ईवीएमस से छेड़छाड़ को लेकर सवाल उठाए जाने के बाद चुनाव आयोग ने ईवीएम हैक करने की चुनौती दी है।

News Nation Bureau | Edited By : Kunal Kaushal | Updated on: 20 May 2017, 11:21:03 PM
चुनाव आयोग ने तीन जून को ईवीएम हैक करने की दी चुनौती (फाइल फोटो)

highlights

  • चुनाव आयोग ने ईवीएम हैक करके दिखाने की दी चुनौती
  • 3 जून को सभी राजनीतिक पार्टियो को मिलेगा मौका

नई दिल्ली:

5 राज्यों के विधानसभा और एमसीडी चुनाव के परिणाम आने के बाद अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों के ईवीएम से छेड़छाड़ को लेकर सवाल उठाए जाने के बाद चुनाव आयोग ने ईवीएम हैक करने की चुनौती दी है। इसके लिए चुनाव आयोग ने देश के सभी दलों को 3 जून से वोटिंग के लिए इस्तेमाल होने वाले ईवीएम को हैक करके दिखाने के लिए समय दिया है।

इससे पहले इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन को लेकर राजनीतिक दलों की आशंकाओं को दूर करने के लिये चुनाव आयोग ने शनिवार को EVM और VVPAT का लाइव डेमो दिया। यह पूरी प्रक्रिया मीडिया के सामने कराई गयी।

राजनीतिक दलों ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के दौरान ईवीएम में छेड़छाड़ की शिकायत की थी और मांग की थी कि चुनाव आयोग भविष्य में होने वाले सभी चुनावों को बैलट पेपर से कराए।

चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों की आशंकाओं को निराधार बताया था और 12 मई को सर्वदलीय बैठक कर सभी राजनीतिक दलों को ईवीएम से छेड़छाड़ करने की औपचारिक तौर पर खुली चुनौती दी थी।

इस सर्वदलीय बैठक में मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने पार्टियों को चुनौती देते हुए कहा था कि राजनीतिक दल सिद्ध करके दिखाएं कि एडवांस्ड तकनीकी एवं प्रशासनिक सुरक्षा इंतजाम के बावजूद ईवीएम के साथ छेड़छाड़ कैसे की जा सकती है।

ये भी पढ़ें: कश्मीर में अलगाववादियों के ख़िलाफ़ सरकार लेगी एक्शन, हाफिज सईद से फंड लेने का है आरोप

गौरतलब है कि दिल्ली के सीएम अरिवंद केजरीवाल ने विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर ईवीएम हैक करने की पूरी तकनीक बताई थी। आम आदमी पार्टी के विधायक और इंजीनियर रह चुके सौरभ भारद्वाज ने विधानसभा में लाइव ईवीएम हैंकिंग का डेमो देकर दिखाया था।

बैठक में मौजूद बीजेपी, माकपा, भाकपा ,अन्नाद्रमुक, द्रमुक सहित अनेक पार्टियों ने वीवीपीएटी मशीन से जुड़ी ईवीएम के इस्तेमाल का खुला समर्थन किया था। लेकिन बीएसपी, आप, तृणमूल कांग्रेस ने मतपत्रों के जरिए मतदान के पुराने तरीके को ज्यादा बेहतर और पारदर्शी बताया।

ये भी पढ़ें: एयरफोर्स चीफ़ मार्शल बी एस धनोवा ने 12000 अफसरों को ख़त लिखकर ऑपरेशन के लिए तैयार रहने का दिया संदेश

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 20 May 2017, 04:06:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.