News Nation Logo
Banner

National Herald Case : ईडी सोनिया से वही सवाल पूछेगी जो राहुल से पूछे गए थे

‘यंग इंडिया’ के प्रवर्तकों और शेयरधारकों में सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी सहित कांग्रेस के कुछ अन्य नेता शामिल हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 25 Jun 2022, 11:45:23 PM
Sonia Gandhi

जुलाई के मध्य तक ईडी के समक्ष पेश होना है सोनिया गांधी को. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • सोनिया गांधी को जुलाई के मध्य तक होना है पेश
  • ईडी सोनिया से वही सवाल दागेगी जो राहुल से पूछे

नई दिल्ली:  

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने तलब किया है. उनसे वही सवाल पूछे जाएंगे जो राहुल गांधी से उनके पांच दिनों के पूछताछ के दौरान पूछे गए थे. ईडी के सूत्रों ने यह जानकारी दी. ईडी ने सोनिया गांधी को जुलाई के मध्य में जांच में शामिल होने के लिए कहा है. उनसे पहले 23 जून को पूछताछ की जानी थी जिसको स्वास्थ्य आधार पर स्थगित कर दिया गया था. सूत्रों ने कहा, 'हमें यंग इंडिया और एसोसिएटेड जर्नल लिमिटेड (एजेएल) के बीच सौदे में उनकी भूमिका के बारे में पूछना है.'

इस तरह की रही हिस्सेदारी
इससे पहले राहुल गांधी ने कहा था कि स्वर्गीय मोतीलाल वोरा इन मामलों को देख रहे थे. वोरा की यंग इंडिया में 12 फीसदी हिस्सेदारी थी जबकि राहुल गांधी और सोनिया गांधी के पास 76 फीसदी हिस्सेदारी थी. ईडी के अनुसार पूरे सौदे में गांधी परिवार प्रमुख लाभार्थी थे. अधिकारियों के अनुसार, कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं और गांधी परिवार से पूछताछ ईडी की जांच का हिस्सा है, ताकि ‘यंग इंडियन’ और ‘एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड’ (एजेएल) के हिस्सेदारी पैटर्न, वित्तीय लेन-देन और प्रवर्तकों की भूमिका को समझा जा सके. ‘यंग इंडिया’ के प्रवर्तकों और शेयरधारकों में सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी सहित कांग्रेस के कुछ अन्य नेता शामिल हैं.

जमानत पर हैं सोनिया-राहुल
गौरतलब है कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने पिछले साल फरवरी में सुब्रमण्यम स्वामी की याचिका पर सोनिया, राहुल को नोटिस जारी किया था. याचिका में निचली अदालत में इस मामले में सबूत पेश करने का अनुरोध किया गया था. सोनिया, राहुल ने 2015 में अलग-अलग 50,000 रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही जमानत राशि अदा करने के बाद अदालत से जमानत हासिल की थी. हालांकि उन्होंने दिल्ली उच्च न्यायालय में दलील दी कि स्वामी की याचिका गलत तथ्यों पर आधारित है और ‘समय से पहले’ दायर की गई है. 

First Published : 25 Jun 2022, 11:45:23 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.