News Nation Logo

द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार को करेंगी नामांकन, पीएम मोदी समेत मौजूद रहेंगे दिग्गज नेता

द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के लिए बीजेपी ने बड़े पैमाने पर व्यवस्था की है. नामांकन में ही द्रौपदी मुर्मू भारत की पसंद दिखे इसका पूरा ख्याल बीजेपी रख रही है और बीजेपी की ताकत भी दिखाई दे इसके लिए भी पूरी रणनीति बनाई है.

Written By : विकास चंद्रा | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 23 Jun 2022, 08:52:33 PM

highlights

  • शुक्रवार दोपहर करेंगी द्रौपदी मुर्मू नामांकन
  • बीजेपी ने आयोजन भव्य बनाने की तैयारी की

नई दिल्ली:  

एनड़ीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू दिल्ली पहुंचते ही सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने उनके सरकारी आवास पर पहुंची. उसके बाद उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की. राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार को अपना नामांकन करेंगी. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित बीजेपी के मुख्यमंत्री तमाम केंद्रीय मंत्री और एनडीए के घटक दल के सांसद और दिग्गज नेता मौजूद रहेंगे. द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के लिए बीजेपी ने बड़े पैमाने पर व्यवस्था की है. नामांकन में ही द्रौपदी मुर्मू भारत की पसंद दिखे इसका पूरा ख्याल बीजेपी रख रही है और बीजेपी की ताकत भी दिखाई दे इसके लिए भी पूरी रणनीति बनाई है. नामांकन में ही द्रौपदी मुर्मू सबकी पसंद दिखाई दे. लिहाजा बीजेपी ने अपने सभी राज्यों के विधायकों और सांसदों को प्रस्तावक और समर्थक बनाया है. यही नहीं, एनडीए के घटक दलों के विधायक और मंत्री भी प्रस्तावक और समर्थक बने हैं. बीजेपी ने इस बात का खास ध्यान रखा है कि द्रौपदी मुर्मू के प्रस्तावकों और समर्थकों में अधिक से अधिक आदिवासी समाज के विधायक और सांसद रहें. 

कई राज्यों से आदिवासी नेता भी बुलाए गए
ऐसे में बीजेपी ने राजस्थान और मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड, उड़ीसा, बिहार और दक्षिण भारत से अपने आदिवासी सांसद विधायकों को प्रस्तावक और समर्थक बनाया है ताकि आदिवासी समाज के साथ देश को संदेश जा सके कि बीजेपी पहली पार्टी है जिसने आदिवासी समाज की चिंता की है. द्रौपदी मुर्मू के नामांकन पत्र पर उनके गृह प्रदेश उड़ीसा के बीजेडी के दो मंत्री टुकुनी साहू और जय राम सारका ने भी अपने हस्ताक्षर किए हैं, जबकि बीजेडी एनडीए की घटक दल नही है, तो वही बीजेपी की सहयोगी पार्टी लोक जनशक्ति की तरफ से केंद्रीय मंत्री पशुपति कुमार पारस और अपना दल से अनुप्रिया पटेल प्रस्तावक बनी हैं.

पूरी मैनेटजमेंट टीम देख रही है चुनाव प्रक्रिया को
नामांकन में कहीं कोई कमी न रह जाए लिहाजा बीजेपी ने पुख्ता इंतजाम किए हैं. बीजेपी ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए एक मैनेजमेंट टीम ही बना दी है जिसके संयोजक केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत हैं. पार्टी ने केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव को नामांकन की पूरी प्रक्रिया देखने के लिए ताकि सही ढंग से नामांकन हो इसके लिए जिम्मेदारी सौंपी है, तो वही बीजेपी ने पार्टी महासचिव तरुण चुग को द्रौपदी मुर्मू की दिल्ली में होने वाली मुलाकातों, बैठकों और अलग-अलग राज्यों में होने वाले चुनावी दौरे की जिम्मेदारी सौंपी है. नामांकन पत्र सही से दाखिल हो कानूनी प्रक्रिया ठीक ढंग से हो, इसके लिए जिम्मेदारी केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी को दी गई है और आज प्रहलाद जोशी के सरकारी निवास पर ही सभी प्रस्ताव को और समर्थकों ने द्रौपदी मुर्मू के नामांकन पत्र पर अपने हस्ताक्षर किए.

चार सेटों में किया जाएगा नामांकन
हालांकि अभी तक बीजेपी की तरफ से अधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है लेकिन न्यूज़ नेशन को मिली जानकारी के मुताबिक नामांकन के लिए नामांकन पत्रों के चार सेट तैयार किए गए हैं. पहले सेट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सहित तमाम केंद्रीय मंत्रियों ने अपने हस्ताक्षर किए हैं. नामांकन के लिए तैयार किए गए चारों सेटों को पूरी सावधानी और जानकारों की निगरानी में तैयार कराए गए हैं. तैयार नामांकन पत्रों के साथ प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू शुक्रवार को दोपहर 12 बजे संसद भवन में राज्यसभा के सेक्रेटरी जनरल के कार्यालय में अपना नामांकन पत्र दाखिल करेंगी. गौरतलब है कि इस बार राष्ट्रपति चुनाव के लिए रिटर्निंग ऑफिसर राज्यसभा के सेक्रेटरी जनरल हैं.

First Published : 23 Jun 2022, 08:52:33 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.