News Nation Logo

'टूलकिट' मामले में आरोपी दिशा रवि पहुंची कोर्ट, लगाई यह अर्जी

किसानों (Farmers) के विरोध से संबंधित 'टूलकिट' साझा करने के आरोप में गिरफ्तार 21 वर्षीया जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है.

News Nation Bureau | Edited By : Dalchand Kumar | Updated on: 16 Feb 2021, 02:19:00 PM
Disha Ravi

'टूलकिट' मामले में आरोपी दिशा रवि पहुंची कोर्ट, लगाई यह अर्जी (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • 'टूलकिट' मामले में आरोपी दिशा रवि पहुंची कोर्ट
  • दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में लगाई अर्जी
  • मां और वकीलों से मिलने की मांगी इजाजत

नई दिल्ली:

किसानों (Farmers) के विरोध से संबंधित 'टूलकिट' (Toolkit) साझा करने के आरोप में गिरफ्तार 21 वर्षीया जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि (Disha Ravi) ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. दिशा रवि ने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) में याचिका दाखिल की है. इस याचिका में दिशा ने अपनी मां और वकीलों से मिलने की इजाजत मांगी है. इसके साथ ही दिशा ने रिमांड और केस से जुड़े दूसरे दस्तावेजों की भी मांग की है. बता दें कि रविवार को दिशा रवि को गिरफ्तार किया गया था. दिशा फिलहाल पुलिस की स्पेशल सेल (Police Special Cell) की हिरासत में हैं.  

यह भी पढ़ें : टूलकिट मामले में दिल्ली पुलिस ने Zoom को लिखा लेटर, 11 जनवरी की मीटिंग की जानकारी मांगी

दिल्ली पुलिस की साइबर क्राइम सेल के मुताबिक, दिशा रवि 'टूलकिट' गूगल डॉक की संपादक हैं और दस्तावेज तैयार करने एवं इसके प्रसार में एक प्रमुख साजिशकर्ता हैं. उन्होंने व्हाट्सएप ग्रुप शुरू किया और दस्तावेज का मसौदा तैयार करने के लिए सहयोग किया. पुलिस ने बताया कि उसने अन्य लोगों के साथ मिलकर दस्तावेज का मसौदा तैयार किया था. पुलिस ने अनुसार, इस प्रक्रिया में उन्होंने भारत के खिलाफ नफरत फैलाने के लिए खालिस्तानी पोएटिक जस्टिस फाउंडेशन के साथ सहयोग किया. दिशा ने ही ग्रेटा थनबर्ग के साथ टूलकिट डॉक साझा किया था.

यह भी पढ़ें : किसान ट्रैक्टर रैली से 15 दिन पहले ही बनाया गया था टूलकिट, और भी कई सनसनीखेज खुलासे

पुलिस के अनुसार, किसानों के विरोध के दौरान की घटनाएं और 26 जनवरी को लालकिले के पास हिंसा - ये सारी घटनाएं ठीक उसी तरह से हुईं जैसे कि कथित तौर पर 'टूलकिट' में विस्तृत 'एक्शन प्लान' का जिक्र था. दिल्ली पुलिस ने टूलकिट बनाने वालों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124-ए, 120-ए और 153-ए के तहत राजद्रोह, आपराधिक षड्यंत्र और घृणा को बढ़ावा देने के आरोप में 4 फरवरी को एफआईआर दर्ज की थी. टूलकिट को अंतर्राष्ट्रीय जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने भी साझा किया था. हालांकि दिशा की गिरफ्तारी से सियासी हलकों में हलचल देखने को मिली. विपक्षी दलों ने इसकी निंदा भी की.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 16 Feb 2021, 02:10:53 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो