News Nation Logo
Banner

देवेंद्र फडणवीस का बड़ा खुलासा, पीएम मोदी से बैठक का हवाला देकर गठबंधन करने पहुंचे थे अजित पवार

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि एनसीपी के अजित पवार ही सरकार बनाने केलिए उनके पास आए थे. उन्होंने हमें यह बताया था कि शरद पवार भी उनके फैसले के साथ हैं.

By : Nitu Pandey | Updated on: 08 Dec 2019, 10:41:10 PM
देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार

देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि एनसीपी के अजित पवार ही सरकार बनाने केलिए उनके पास आए थे. उन्होंने हमें यह बताया था कि शरद पवार भी उनके फैसले के साथ हैं. एक मराठी न्यूज चैनल से बातचीत में देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि अजित पवार ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शरद पवार के बीच हुई मुलाकात में सारी बातें तय हो गई हैं. इस बात की जानकारी वो (शरद पवार) बाद में देंगे.

देवेंद्र फडणवीस ने आगे का कि अजित पवार ने सरकार बनाने को लेकर यह भी कहा था कि एनसीपी के अधिकतर विधायक बीजेपी के साथ आना चाहते हैं. कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं संभव है. उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से किसी भी विधायक को तोड़ने या खरीद-फरोख्त की कोशिश नहीं हुई. अजित पावर हमारे पास आए थे मिलकर सरकार बनाने के लिए.

उन्होंने बताया कि अजित पवार ने विश्वास दिलाया था कि एनसीपी के विधायक बीजेपी के साथ गठबंधन करने को तैयार हैं. उन्होंने कुछ विधायकों से हमारी बात भी करवाई थी.

इसे भी पढ़ें:PM नरेंद्र मोदी ने महिलाओं और बच्चों में भरोसा पैदा करने के लिए पुलिस को दिए ये टिप्स

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम ने कहा कि हम जानते थे कि यह एक जुआ है, लेकिन राजनीति में ऐसा होता है. हालांकि हम इस मामले में असफल रहे.

बता दें कि महाराष्ट्र चुनाव परिणाम के बाद ऐसा लगा था कि शिवेसना-बीजेपी मिलकर सरकार बनाएगी. दोनों को जनता ने पूर्ण बहुमत दी थी. लेकिन ढाई साल सीएम पद को लेकर शिवसेना और बीजेपी में अनबन चला. बीजेपी शिवसेना से सीएम पद साझा नहीं करना चाहती थी. जिसके बाद शिवसेना ने गठबंधन तोड़ दिया. जब महाराष्ट्र में शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी मिलकर सरकार बनाने की कोशिशों में जुटी थीं, तब अचानक 23 नवंबर को देवेंद्र फडणवीस ने अजित पवार के समर्थन से सीएम पद की शपथ ले ली. अजित पवार को डिप्टी सीएम बनाया गया.

और पढ़ें: Delhi Fire: आग से जिंदा बचे इस व्यक्ति ने बताई खौफनाक हादसे की कहानी, सुनकर रुह कांप उठेगी

लेकिन शरद पवार ने यह कहा कि इस सरकार में उनकी कोई हां नहीं है. एनसीपी के सारे विधायक उनके साथ हैं. काफी सियासी घमासान होने के बाद देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार को इस्तीफा देना पड़ा. इसके बाद महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनी.

First Published : 08 Dec 2019, 10:41:10 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×