News Nation Logo

देवेंद्र फडणवीस की 'अधीरता' और 'सत्तालोलुपता' ले डूबी बीजेपी कोः संजय राउत

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 01 Dec 2019, 02:44:16 PM
शिवसेना नेता संजय राउत ने साधा देवेंद्र फडणवीस पर निशाना.

highlights

राउत ने 'सामना' में अपने स्तंभ 'रोखठोक' में देवेंद्र फडणवीस पर साधा निशाना.
कहा-उनकी 'अधीरता' और 'सत्तालौलुपता' से शिवसेना-बीजेपी का गठबंधन टूटा.
महाराष्ट्र में जो हुआ, वह देश को भी स्वीकार है. पांच साल चलेगी उद्धव सरकार.

Mumbai:  

हालिया दिनों में महाराष्ट्र की सियासी उठापटक के बीच अगर कोई सबसे ज्यादा मुखर रहा है, तो वह हैं शिवसेना के सांसद संजय राउत. बात चाहे बीजेपी पर हमला करने की हो या एनसीपी-कांग्रेस के रूप में नया सियासी गठबंधन बनाने की संजय राउत ने शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' से तीर चलाने में कोई कोताही नहीं बरती. अब शिवसेना के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बहुमत हासिल कर लेने के बाद संजय ने रविवार को 'सामना' के ही अपने लेख से एक बार फिर पूर्व मुख्यमंत्री और अब विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि उनकी 'अधीरता' और 'सत्तालौलुपता' की वजह से शिवसेना-बीजेपी का गठबंधन टूटा. इशारों ही इशारों में उन्होंने बीजेपी आलाकमान को भी अपने निशाने पर लिया.

यह भी पढ़ेंः हैदराबाद के बाद बिहार के समस्तीपुर में मिली लड़की की लाश, फूटी हुई थी एक आंख

'सामना' में अपने स्तंभ से लिया आड़े हाथों
रविवार को राउत ने 'सामना' में अपने स्तंभ 'रोखठोक' में लिखा कि फडणवीस की सत्ता हासिल करने की जल्दबाजी और बचकानी टिप्पणियां ही प्रदेश में बीजेपी को ले डूबीं. नतीजतन अब उन्हें विपक्ष में बैठना पड़ गया. राउत ने दावा किया कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे, एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और कांग्रेस नेता सोनिया गांधी के साथ आने से महाराष्ट्र में जो हुआ, वह देश को भी स्वीकार है. बिना किसी का नाम लिए बीजेपी के केंद्रीय नेतृत्व पर तीखा हमला करते हुए राउत ने कहा कि महाराष्ट्र, दिल्ली की तरह चल रहे 'भीड़ तंत्र' के आगे नहीं झुका. अहम यह है कि उद्धव ठाकरे मोदी-शाह के दबदबे को खत्म कर सत्ता में आए. राउत ने भरोसा जताया कि उद्धव सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी.

यह भी पढ़ेंः भारतीय सुरक्षाबलों ने आतंकियों की बड़ी चाल की नाकाम, जब्त किया हथियारों का जखीरा

देवेंद्र को लिया आड़े हाथ
राउत ने अपने स्तंभ में आगे कहा, 'देखकर मजा आ रहा है कि जो लोग अजित पवार के फडणवीस के साथ गठजोड़ को शरद पवार की पहले से तय योजना बता रहे थे, वह अब महाविकास आघाड़ी सरकार बनने के बाद एनसीपी प्रमुख के आगे नतमस्तक हो रहे हैं.' गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के दौरान फडणवीस ने कहा था कि राज्य में कोई विपक्षी दल नहीं बचेगा और शरद पवार का काल खत्म हो रहा है. राउत ने कहा कि अपने इन्हीं टिप्पणियों की वजह से वह (फडणवीस) खुद विपक्षी नेता बन गए. फडणवीस ने कहा था कि वह वापस लौटेंगे, लेकिन सत्ता में आने की उनकी जल्दबाजी 80 घंटे के भीतर बीजेपी को ले डूबी.

First Published : 01 Dec 2019, 02:42:08 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.