News Nation Logo
Banner

क्या लाइसेंसी हथियार जमा करने का सर्कुलर गुजरात चुनाव की शुरुआत का संकेत है?

क्या लाइसेंसी हथियार जमा करने का सर्कुलर गुजरात चुनाव की शुरुआत का संकेत है?

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 15 May 2022, 12:20:01 AM
Depoit licene

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

गांधीनगर:   गुजरात सरकार के गृह विभाग ने एक सर्कुलर जारी कर पुलिस आयुक्तों, जिला कलेक्टरों और जिला पुलिस अधीक्षकों को निष्पक्ष, न्यायपूर्ण और निडर चुनाव के लिए लाइसेंसी हथियार जमा कराने की प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया है।

यह सर्कुलर राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के 28 अप्रैल के पत्राचार के जवाब में जारी किया गया, जिसमें कहा गया है कि यह चुनाव से संबंधित सर्वोच्च प्राथमिकता है।

यह विधानसभा चुनाव होने का संकेत है जो दिसंबर 2022 में होने वाले हैं।

हालांकि, मई में होने वाले ग्राम पंचायत चुनाव राज्य चुनाव आयोग द्वारा स्थगित कर दिए गए हैं और 2,400 ग्राम पंचायतों में प्रशासक नियुक्त किए गए हैं।

इस तरह के सर्कुलर से राज्य के प्रमुख लाइसेंसी हथियार डीलर हैरान रह गए। नाम न जाहिर करने की शर्त पर उन्होंने कहा कि इस तरह की अधिसूचनाएं चुनाव घोषित होने के बाद ही जारी की जाती हैं और उन्होंने इस तरह के सर्कुलर के बारे में पहले कभी नहीं सुना था।

उन्होंने आगे कहा कि अहमदाबाद में 6,000 लाइसेंसधारी हथियार मालिक हैं। हर चुनाव के दौरान उनके पास कम से कम 300 से 400 हथियार जमा होते हैं। गुजरात में करीब 50,000 से 55,000 लाइसेंसी हथियार के मालिक हैं।

गांधीनगर के एक अनुभवी पत्रकार कृष्णकांत झा ने कहा, यह घटनाक्रम जल्द चुनाव का संकेत देता है, लेकिन जमीनी हकीकत मेल नहीं खाती। उन्हें पिछले कुछ दशकों में इस तरह के परिपत्रों को अग्रिम रूप से जारी किया जाना याद नहीं है।

झा ने कहा, चुनाव आयोग को चुनाव कराने के लिए कम से कम 33 दिनों की जरूरत है। आज 14 मई है। अगर आज से 33 दिनों की गणना की जाती है, तो चुनाव 18 जून को हो सकते हैं। 15 जून तक राज्य में मानसून आ जाता है। मानसून आ जाने पर आम तौर पर चुनाव नहीं होते हैं। लेकिन नरेंद्र मोदी के शासन में हमेशा असाधारण स्थिति होती है, जिसके लिए असाधारण उपाय किया जाता है। यह मेरे अनुभव में एक नई घटना है।

पिछले दो दशकों से विभाग में कार्यरत एक कर्मचारी ने संकेत दिया कि चुनाव कराने के लिए आयोग को सिर्फ 21 दिनों की जरूरत है।

उन्होंने नाम जाहिर न करने की शर्त पर कहा कि आयोग किसी भी समय चुनाव कराने के लिए हमेशा तैयार है।

कांग्रेस, हालांकि जल्द चुनाव होने की संभावना नहीं देख रही है। पार्टी प्रवक्ता मनीष दोशी ने तकनीकी कारण बताते हुए कहा कि अंतिम मतदाता सूची अभी तैयार नहीं हुई है। मतदाता सूची में अंतिम अपडेट और सुधार के लिए कम से कम 15 दिनों का समय चाहिए।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 15 May 2022, 12:20:01 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.