News Nation Logo
Banner

Delhi Chakka Jam : चक्का जाम में उपद्रव रोकने 50 हजार सुरक्षाकर्मियों की दिल्ली में तैनाती

Kisan Andolan : दिल्ली पुलिस को इंटेलिजेंस इनपुट मिला है कि किसान आंदोलन के समर्थन के नाम पर कुछ राजनीतिक पार्टियां दिल्ली की सड़कों पर उतर चक्का जाम कर सकते हैं. आंदोलन की आड़ में एक बार फिर हिंसा की जा सकती है.  

News Nation Bureau | Edited By : Kuldeep Singh | Updated on: 06 Feb 2021, 07:07:26 AM
chakka jam

चक्का जाम में उपद्रव रोकने 50 हजार सुरक्षाकर्मियों की दिल्ली में तैनात (Photo Credit: न्यूज नेशन)

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने आज चक्का जाम का ऐलान किया है. 26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा से सबक लेते हुए पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम हुए हैं. दिल्ली की सभी सीमाओं को सील कर दिया गया है. सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर 12 से 16 लेयर की बैरीकेडिंग की गई है. ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा से उपजे अविश्वास के चलते अब दिल्ली पुलिस के लिए किसान संगठनों के नेताओं के किसी भी दावे पर भरोसा करना मुश्किल हो रहा है.  

50 हजार सुरक्षाकर्मी तैनात
चक्का जाम से निपटने के लिए दिल्ली में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. 50 हजार से ज्यादा सुरक्षाकर्मियों को दिल्ली की सुरक्षा में तैनात किया गया है. 
दिल्ली पुलिस के अलावा रिजर्व पुलिस फोर्स और पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों की बॉर्डर समेत विभिन्न संवेदनशील इलाकों में तैनाती होगी. आईटीबीपी, सीआरपीएफ और आएएफ को भी कानून-व्यवस्था चाक-चौबंद रखने का जिम्मा दिया जाएगा. स्पेशल सेल की SWAT टीम और एनएसजी को भी आपात परिस्थिति में बेहद कम वक्त पर तैनाती के स्टैंड बाय मोड में रखा जा रहा है.

किसान नेताओं पर नहीं है भरोसा 
किसान नेताओं ने ट्रैक्टर रैली में किसी भी प्रकार की हिंसा ना करने का दिल्ली पुलिस को लिखित आश्वासन दिया था लेकिन गणतंत्र दिवस के मौके पर जो कुछ हुआ उसके बाद पुलिस को किसान नेताओं की जुबान से भरोसा नहीं है. दिल्ली में एक बार फिर किसी भी प्रकार की हिंसा ना हो इसे लेकर पुलिस पूरी तरह अलर्ट है. पुलिस को दिल्ली के कुछ इलाकों में फ्लैश मॉब की भी आशंका है. इसी को देखते हुए  क्राइम ब्रांच, स्पेशल सेल, इंटेलिजेंस यूनिट, डीआईयू और पीसीआर के साथ-साथ सभी जिलों की पुलिस को विशेष तौर पर एहतियात बरतने के लिए कहा गया है.  

बॉर्डर किए गए सील
किसान संगठनों के चक्का जाम के ऐलान के बाद सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर को पहले ही सील किया जा चुका है. इसके साथ ही पुलिस ने बदरपुर बॉर्डर, रजोकरी बॉर्डर, कापसहेड़ा बॉर्डर, चिल्ला बॉर्डर, डीएनडी, कालिंदी कुंज, महाराजपुर बॉर्डर, अप्सरा बॉर्डर, भोपुरा बॉर्डर समेत सभी प्रमुख बॉर्डर्स पर पुलिस और अर्धसैनिक बलों को शुक्रवार देर शाम से ही तैनात कर दिया गया है. वहीं दिल्ली के अंदर भी लाल किला, आईटीओ, अक्षरधाम, इंडिया गेट, राजपथ, विजय चौक, संसद भवन, जंतर-मंतर, प्रधानमंत्री आवास, गृह मंत्री और अन्य केंद्रीय वरिष्ठ मंत्रियों के आवास के बाहर भी कड़ा पहरा रहेगा.  

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 06 Feb 2021, 07:05:08 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.