News Nation Logo

दिल्ली हिंसा पर अमित शाह का सोनिया-प्रियंका पर हमला, कहा- CAA पर कांग्रेस ने भड़काया

दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) पर गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) पर बगैर नाम लिए जमकर हमला बोला.

News State | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 11 Mar 2020, 07:44:09 PM
Amit Shah Loksabha

दिल्ली हिंसा पर लोकसभा में जवाब देते हुए अमित शाह. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • लोकसभा में दिल्ली हिंसा पर गृहमंत्री अमित शाह ने दिया जवाब.
  • गांधी परिवार पर लगाया भड़काऊ भाषण देने का आरोप.
  • कहा- बगैर धर्म-जाति देखे हिंसा करने वालों पर कार्रवाई.

नई दिल्ली:

लोकसभा (Loksabha) में दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) पर जवाब देते हुए गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) पर बगैर नाम लिए जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि 14 दिसंबर को दिल्ली में आयोजित रैली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने सीएए (CAA) के विरोध में लोगों से सड़कों पर उतरने का आह्वान किया था. इसके बाद ही शाहीन बाग सीएए विरोध का दिल्ली में केंद्र बना. उन्होनें कहा कि सत्तारूढ़ दल पर हेट स्पीच का आरोप लगाने वालों को पहले इस ओर भी ध्यान देना चाहिए. इसके साथ ही अमित शाह ने वारिस पठान समेत उमर खालिद के भड़काऊ भाषणों को लेकर भी विपक्ष पर जोरदार हमला बोला.

यह भी पढ़ेंः Loksabha LIVE: अमित शाह का बड़ा खुलासा- अंकित शर्मा की हत्या का सुराग भी वीडियो फुटेज में, विपक्ष का हंगामा जारी

रामलीला मैदान से कांग्रेस ने भड़काया
लोकसभा में बुधवार को दिल्ली हिंसा को लेकर विपक्ष ने मोदी सरकार पर जमकर तीर छोड़े. अधीर रंजन चौधरी ने तो गृहमंत्री अमित शाह के लिए यहां तक कह दिया कि वह अहमदाबाद में डोनाल्ड ट्रंप के साथ थे औऱ इधर दिल्ली सुलग रही थी. इसका जवाब देते हुए अमित शाह ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की रामलीला मैदान पर रैली को लेकर कांग्रेस पर बड़ा हमला बोला. उन्होंने बगैर नाम लिए कहा कि कांग्रेस के नेताओें ने सीएए पर आर-पार की लड़ाई का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि रैली में कहा गया कि सड़कों पर निकलो. अगर अभी नहीं निकलोगे तो कब निकलोगे. उन्होंने कहा कि इसके बाद आरोप बीजेपी पर लगाया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः दिल्ली हिंसा में दानिश ने पूछताछ में किया खुलासा, PFI ने भड़काई सीएए विरोधी हिंसा

सीएए पर भ्रम न फैलाए कांग्रेस और विपक्ष
गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि देशभर में सीएए के समर्थन में भी रैलियां निकली हैं. ये भ्रम फैलाया जा रहा है कि प्रो-सीएए वाले लोग निकले इसलिए हिंसा हुई. कांग्रेस के नेता लोगों को घर के बाहर निकलने के लिए कहते हैं. ये हेट स्पीच नहीं है तो क्या है. इस बयान के बाद 16 दिसंबर को शाहीन बाग का धरना शुरू हो गया. एक स्पीच होती है 17 फरवरी को. 24 फरवरी को ट्रंप जब भारत आएंगे तो हम बताएंगे कि भारत की सरकार क्या कर रही है. इसके बाद हिंसा की शुरुआत होती है. वारिस पठान 19 फरवरी को कहते हैं कि जो चीज मांगने से नहीं मिलती उसे छीननी पड़ती है. इसके बाद 24 फरवरी को दंगे होते हैं.

यह भी पढ़ेंः भारतीय जनता पार्टी ने बिहार में राज्यसभा उम्मीदवार का ऐलान किया, जानें कौन है प्रत्याशी

हिंसा करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा
गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि हिंसा के लिए जो भी जिम्मेदार होगा उसको छोड़ा नहीं जाएगा. 100 से ज्यादा हथियार बरामद किया गया है. हिंसा को फंड देने वाले 3 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. किसी भी निर्दोष को सजा नहीं दी जाएगी. पूरे सबूत के बाद गिरफ्तारी की जा रही है. गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि उत्तर-पूर्व इलाका उत्तर प्रदेश के बॉर्डर से जुड़ा हुआ है. गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में कहा दिल्ली में हिंसा फैलाने के लिए 300 से ज्यादा लोग यूपी से आए थे. यह गहरी साजिश थी.

First Published : 11 Mar 2020, 07:33:00 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.