News Nation Logo
Banner

Delhi Violence: कौन हैं ताहिर हुसैन जिनपर लगा है अंकित शर्मा के हत्या का आरोप

दिल्ली में नागरिकता काननू (CAA) की आग दिनों-दिन फैलती जा रही है और इसमें अबतक कई मासूम लोगों लोगों की जान जा चुकी हैं. उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा थमने और तनावपूर्ण शांति कायम होने के बावजूद पुलिस ने बुधवार को इंटेलीजेंस ब्यूरो (IB) के सुरक्षा सहाय

News Nation Bureau | Edited By : Vineeta Mandal | Updated on: 27 Feb 2020, 11:20:05 AM
Delhi violence

Delhi violence (Photo Credit: (फाइल फोटो))

नई दिल्ली:

दिल्ली में नागरिकता काननू (CAA) की आग दिनों-दिन फैलती जा रही है और इसमें अबतक कई मासूम लोगों लोगों की जान जा चुकी हैं. उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंसा थमने और तनावपूर्ण शांति कायम होने के बावजूद पुलिस ने बुधवार को इंटेलीजेंस ब्यूरो (IB) के सुरक्षा सहायक का शव बरामद किया.  पुलिस को यह शव हिंसाग्रस्त क्षेत्र के चांदबाग से बरामद हुआ था. मृतक की शिनाख्त उत्तरपूर्वी दिल्ली के खजूरी खास निवासी अंकित शर्मा के रूप में हुई है. अंकित की मौत गोली लगने से मानी जा रही है और उसके शरीर पर पीटे जाने के भी कई निशान दिख रहे हैं. अंकित मंगलवार शाम से लापता था. उसके पिता रविंदर शर्मा भी आईबी में कार्यरत हैं. 

ये भी पढ़ें: Delhi Violence: AAP पार्षद ताहिर हुसैन की छत पर मिले पेट्रोल बम, तेजाब की बोतलें और गुलेल बम

वहीं अंकित शर्मा के हत्या में आम आदमी पार्टी (AAP) के पार्षद मोहम्मद ताहिर हुसैन की संदिग्ध भूमिका मानी जा रही है. ताहिर पर अंकित की हत्या का आरोप लग रहे हैं. वहीं आप पार्षद ने एक वीडियो जारी करते हुए इस मामले पर अपनी सफाई दी है.

उन्होने कहा, 'बहुत सारी भीड़ जबरदस्ती मेरा गेट तोड़ अंदर आना चाहती थी, मैंने पुलिस बुलाई, वो आए, हमारे मकान की तलाशी ली गई. जब कोई दंगाई नहीं दिखा तो मैं पुलिस के सहयोग से जान बचाकर बाहर निकला. पुलिसवालों की निगरानी एक दिन रही उसके बाद पुलिस चली गई. मैं एक सच्चा, अच्छा भारतीय मुसलमान हूं, मैं आगे भी हिंदू-मुसलमान भाईचारे के लिए काम करता रहूंगा. मैं खुद जान बचाकर परिवार के साथ एक रिश्तेदार के पास हूं. मैं बच्चे की सौगंध खाकर कहता हूं कि इन सबसे मेरा कोई लेना-देना नहीं हैं. मैं इस तरह की घटिया राजनीति नहीं कर सकता.'

कौन  ताहिर हुसैन-

माय नेता डॉटकॉम पर मिली जानकारी के मुताबिक, ताहिर हुसैन साल 2017 में निर्वाचन क्षेत्र 059-E-नेहरू विहार से आप के टिकट पर पार्षद बने थे. इसके अलावा वो पेशे से बिजनेसमैन है और उन्होंने अपनी संपत्ति 18 करोड़ घोषित की है. इस पर दी गई जानकारी की माने तो ताहिर पर कोई भी आपराधिक मुकदमा दर्ज नहीं है.

वहीं अंकित शर्मा के भाई ने एक चैनल से कहा, 'ये सीएए - एनआरसी के नाम पर जो लोगों को मार रहे हैं, उसे बंद करें. मेरा घर तो बर्बाद हो गया. वो ड्यूटी से आ रहे थे. साढ़े चार बजे उन्हें गली के बाहर ले गए. खींच कर ले गए. निगम पार्षद के लोग उस मकान में लेकर गए. चार को लेकर गए. तीन की बॉडी मिल चुकी है. एक की नहीं मिली है.'

बता दें, इससे पहले बताया जा रहा था कि एक ऐसा वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें ताहिर हुसैन को हिंसा कर रहे युवकों के साथ डंडा लेते हुए देखा जा सकता था. ये वीडियो बीजेपी नेता कपिल मिश्रा की तरफ से शेयर किया गया था. उनका दावा था कि इस वीडियो में छत पर मरून स्वेटर में दिख रहा शख्स आप पार्षद ताहिर हुसैन है. उन्होंने ट्वीट किया, हम तो शुरू से कह रहे है की इन दंगो में कही ना कही आम आदमी पार्टी के लोग शामिल हैं. इस वीडिओ में साफ नज़र आ रहा है निगम पार्षद ताहिर के घर से पेट्रोल बम फेंके जा रहे है. शक है IB अफ़सर #Ankit की हत्या में इन लोगों का हाथ है.'

और पढ़ें: दिल्ली हिंसा पर भावुक हुईं ममता बनर्जी, कविता लिखकर बयां किया दर्द

राष्ट्रीय राजधानी में दशकों बाद हुई इतनी भयानक हिंसा में अबतक 27 लोगों की मौत हो चुकी है और लगभग 200 लोग घायल हो गए हैं. अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी कि ये हिंसा नागरिकता संशोधन विधेयक (CAA) विरोधियों और समर्थकों के बीच रविवार को शुरू हुई हिंसा के बाद भड़की थी.

First Published : 27 Feb 2020, 10:57:23 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×