News Nation Logo

आतंकी युसुफ को लेकर दिल्ली पुलिस बलरामपुर पहुंची, 3 को किया गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस के साथ यूपी एटीएस की टीम भी उनके साथ आतंकी से पूछताछ कर रही है. दिल्ली पुलिस और यूपी एटीएस की टीम आतंकी युसुफ को लेकर उसके गांव पहुंची है

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 22 Aug 2020, 09:07:46 PM
isis terrorist yusuf

आतंकी युसुफ के तीन साथी और गिरफ्तार (Photo Credit: फाइल)

नई दिल्ली :

दिल्ली पुलिस (Delhi Police) आईएसआईएस (ISIS) आतंकी यूसुफ को लेकर उसके गृह जनपद उत्तर प्रदेश के बलरामपुर पहुंची हैं. दिल्ली पुलिस के साथ यूपी एटीएस की टीम भी उनके साथ आतंकी से पूछताछ कर रही है. दिल्ली पुलिस और यूपी एटीएस की टीम आतंकी युसुफ को लेकर उसके गांव पहुंची है, जहां पूछताछ में उसके तीन और साथियों को गिरफ्तार किया गया है. दिल्ली पुलिस और यूपी एटीएस अब संयुक्त रूप से  इस्लामिक स्टेट आतंकी (ISIS) के आतंकी यूसुफ की निशानदेही पर बलरामपुर जिले में लगातार छापेमारी कर रही है. दिल्ली पुलिस और यूपी एटीएस के इस संयुक्त अभियान में इस बात का पता लगाया जा रहा है कि युसुफ के नेटवर्क में और कौन-कौन शामिल है या फिर उसके कितने साथी अभी भी पुलिस की गिरफ्त के बाहर हैं और उनका क्या प्लान है. 

आतंकी यूसुफ खान को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया था, पूछताछ में पता चला कि उसके मंसूबे बेहद खतरनाक थे. शुरुआती पूछताछ में पता चला है कि वह भीड़भाड़ वाली जगह या किसी बड़े नेता को निशाना बनाकर आत्मघाती आतंकी हमले (Suicidal Terrorist Attack) को अंजाम देने की फिराक में था. अपने खतरनाक मंसूबों को अंजाम देने के लिए उसने विस्फोटकों से भरी जैकेट भी तैयार कर ली थी. इस खुलासे के बाद खुफिया एजेंसियां सकते में हैं. विस्फोटक (Explosives) युक्त जैकेट बरामद करने के लिए यूसुफ के गांव में गहरी छापेमारी चल रही है. अब यूसुफ से इस एंगल से भी पूछताछ चल रही है कि वह अकेले ही आत्मघाती हमला अंजाम देने के प्रयास में था या किसी और को भी इसके लिए तैयार किया गया था.

अफगानिस्तान के आतंकी हैंडलर्स के संपर्क में था
देश की राजधानी दिल्ली के धौलाकुआं इलाके में मुठभेड़ के बाद पकड़े गए इस्लामिक स्टेट आतंकी ने कई बड़े खुलासे किए हैं. शुरुआती जांच में पता चला है कि आतंकी को इस्लामिक स्टेट के कमांडर्स अफगानिस्तान से कंट्रोल कर रहे थे. गिरफ्तार आतंकी को इस्लामिक स्टेट द्वारा खुरासान प्रांत के कमांडरों द्वारा अफगानिस्तान से ऑपरेट किया जा रहा था और वह भारत में आतंकी वारदातों की योजना बना रहा था. वह कश्मीर की आईएस संस्थाओं के संपर्क में भी था. उसे जांच के लिए अपने मूल स्थान, बलरामपुर यूपी ले जाया गया. 

एक महीने में करने थे आतंकी हमले
बता दें कि दिल्ली पुलिस ने जब आतंकी को गिरफ्तार करने की कोशिश की उस वक्त वह एक बाइक पर सवार था. सूत्रों के मुताबिक, इस आतंकी के पास 15 किलो विस्फोटक था. हालांकि पुलिस का कहना है कि उसके पास से प्रेशर कुकर से बना आईईडी बरामद हुआ है, जिसके वजन की फिलहाल जानकारी नहीं मिली है. आतंकी ने बताया है कि वह जगह जगह पर रेकी कर किसी बड़े हमले की योजना तैयार कर रहा था. जानकारी के मुताबिक राम मंदिर भूमि पूजन के बाद एक महीने के भीतर आतंकी हमला करने की थी योजना थी. राम मंदिर, सीएए उपद्रव में उपद्रवियों से वसूली, संपत्तियों की कुर्की के नए क़ानून और यूपी एनकाउंटर में मारे गए अपराधियों का बदला लेने की तैयारी थी. बता दें कि यूपी सरकार आज ही विधानसभा में उपद्रवियों के ख़िलाफ़ वसूली और संपत्ति कुर्की का विधेयक लेकर आई है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 22 Aug 2020, 08:47:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.