News Nation Logo
Banner

दिल्ली में लावारिस बैग मिलने से अफरा-तफरी, जांच करने पर मिला लैपटॉप और अन्य दस्तावेज (लीड-2)

दिल्ली में लावारिस बैग मिलने से अफरा-तफरी, जांच करने पर मिला लैपटॉप और अन्य दस्तावेज (लीड-2)

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 19 Jan 2022, 06:15:02 PM
Delhi Police

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   गणतंत्र दिवस समारोह से पहले पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके में बुधवार को दो लावारिस बैग मिले, जिससे इलाके में लोगों के बीच दहशत फैल गई।

हालांकि जब इन बैग की जांच कराई गई तो इसमें कोई भी विस्फोटक नहीं मिला।

दरअसल महज पांच दिन पहले ही पूर्वी दिल्ली के ही गाजीपुर इलाके में एक बैग में तीन किलोग्राम आईईडी बरामद हुआ था, जिसके बाद उसे डिफ्यूज कर दिया गया था। गाजीपुर फूल मंडी में मिले आईईडी के बाद पूर्वी दिल्ली के त्रिलोकपुरी इलाके में लावारिस बैग मिलने पर लोगों के बीच भय पैदा हो गया था।

पुलिस ने आईएएनएस से घटनाक्रम की पुष्टि करते हुए बताया कि हालांकि, बैग में कोई विस्फोटक नहीं था और यह बैग किसी ने अनजाने में वहां छोड़ दिया था।

पुलिस उपायुक्त (पूर्वी जिला) प्रियंका कश्यप ने कहा कि कल्याणपुरी थाने में दोपहर करीब साढ़े बारह बजे एक पीसीआर कॉल आई। उन्होंने बताया कि मेट्रो फ्लाईओवर पिलर नंबर 59 के पास दो संदिग्ध बैग लावारिस पड़े थे।

डीसीपी ने कहा, सूचना मिलने पर, पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे और पूरे इलाके को सील कर दिया गया था।

इस बीच दिल्ली पुलिस का बम निरोधक दस्ता भी मौके पर पहुंचा और पाया कि इसमें कुछ भी संदिग्ध नहीं है।

अधिकारियों ने कहा, बैग में कुछ दस्तावेज थे। यह पाया गया कि यह बैग सोमेश गुप्ता नामक एक व्यक्ति का है। उसे बुलाया गया है और आगे की जांच जारी है।

उन्होंने आगे कहा कि एक बैग में एक लैपटॉप और एक मोबाइल फोन भी मिला, जबकि दूसरे में उसके मालिक के कुछ दस्तावेज और निजी सामान मिला है।

बरामदगी से इलाके में दहशत फैल गई, क्योंकि यह घटना 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) से कुछ दिन पहले ही दिल्ली की गाजीपुर फूल मंडी इलाके में मिले एक लावारिस बैग की घटना से पांच दिन बाद घटी।

गणतंत्र दिवस से पहले शहर में संभावित आतंकी हमले की खुफिया सूचना मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा व्यवस्था को पहले ही मजबूत कर दिया है।

दिल्ली के पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने एक दिन पहले एक आदेश में कहा था कि रिपोटरें के अनुसार, कुछ आपराधिक या असामाजिक तत्व या आतंकवादी भारत के लिए शत्रुतापूर्ण कार्यों को अंजाम दे सकते हैं, जो आम जनता, गणमान्य व्यक्तियों और महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं।

इसे देखते हुए, अस्थाना ने पैरा-ग्लाइडर, पैरा-मोटर्स, हैंग ग्लाइडर, मानव रहित हवाई वाहन (यूएवी), मानव रहित विमान प्रणाली (यूएएस), माइक्रो-लाइट एयरक्राफ्ट जैसे एरियल या हवा में उड़ने वाले डिवाइस के उपयोग पर भी प्रतिबंध लगा दिया।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 19 Jan 2022, 06:15:02 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.