logo-image

Delhi Air Pollution: दिल्ली-NCR में फॉग और स्मॉग का डबल अटैक, जानें कब तक सताएगा प्रदूषण

Delhi Air Pollution: आनंद विहार स्टेशन सुबह 9 बजे पीएम10 464 और पीएम2.5 438 के साथ गंभीर श्रेणी में था, वहीं कार्बन मोनोऑक्साइड (सीओ) 106 पर मध्यम श्रेणी में था. बवाना स्टेशन पर पीएम2.5 446 पर पहुंच गया

Updated on: 14 Nov 2023, 07:31 PM

New Delhi:

Delhi Air Pollution: दीपावली से पहले धनतेरस में हुई बरसात ने पूरे त्यौहार के मजे को दोगुना कर दिया. लोगों को प्रदूषण और स्मॉग से निजात मिली थी और जमकर लोगों ने त्योहार के मजे उठाए और खूब पटाखे जलाए. दीपावली के बीतते ही एनसीआर में जमकर हुई आतिशबाजी का असर अब दिखाई देने लगा है. स्मॉग के साथ अब फॉग का दोगुना असर लोगों को झेलना पड़ेगा. नोएडा और गाजियाबाद की अगर बात करें तो यहां पर एक्यूआई अब 300 के पार पहुंच गया है और जल्द ही 400 के आंकड़े को छूने की बात सामने आ रही है.

गाजियाबाद में 362 और नोएडा में 364 एक्यूआई दर्ज

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो आने वाले दिनों में बरसात होने के कुछ खास असर नहीं दिखाई दे रहे हैं. इसलिए एनसीआर के लोगों को स्मॉग के साथ फॉग का दोगुना वार झेलना पड़ेगा. आज की अगर बात करें तो गाजियाबाद और नोएडा में एक्यूआई 300 के पार दर्ज किया गया. सीपीसीबी के आंकड़ों के मुताबिक, गाजियाबाद में 362 और नोएडा में 364 एक्यूआई दर्ज किया गया है और यह आंकड़े सीपीसीबी की एप पर आज सुबहे 11 बजे की अपडेट के बाद दर्ज किए गए हैं. मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो आने वाले दिनों में लोगों को प्रदूषण के बेहद खराब स्तर का सामना करना पड़ सकता है.

दिल्ली में इन इलाकों की वायु गुणवत्ता काफी खराब

राष्ट्रीय राजधानी में वायु प्रदूषण के स्तर में कोई गिरावट नहीं देखी गई है, मंगलवार सुबह एक्यूआई बहुत खराब श्रेणी में बना हुआ है. सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के आंकड़ों के अनुसार, शहर में समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 373 दर्ज किया गया. आनंद विहार स्टेशन सुबह 9 बजे पीएम10 464 और पीएम2.5 438 के साथ गंभीर श्रेणी में था, वहीं कार्बन मोनोऑक्साइड (सीओ) 106 पर मध्यम श्रेणी में था. बवाना स्टेशन पर पीएम2.5 446 पर पहुंच गया, जो गंभीर श्रेणी में था और पीएम10 322 पर पहुंच कर बहुत खराब श्रेणी में था, जबकि सीओ 82 पर पहुंच गया, संतोषजनक स्तर पर और एनओ2 20 पर पहुंच गया, जो अच्छी श्रेणी में था.

इन इलाकों में सांस लेना भी दूभर

द्वारका सेक्टर-8 स्टेशन पर मंगलवार सुबह पीएम2.5 474 पर पहुंच गया, जो गंभीर श्रेणी में है, जबकि पीएम10 भी 410 पर था. इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे टी3 क्षेत्र में हवा की गुणवत्ता गंभीर श्रेणी में थी, पीएम2.5 417 पर और पीएम10 244 पर, खराब श्रेणी में जबकि सीओ 100 पर, संतोषजनक श्रेणी में पहुंच गया. आईटीओ स्टेशन पर पीएम2.5 436 पर था, जो गंभीर श्रेणी में था और पीएम10 316 पर था, जो बहुत खराब श्रेणी में था. एनओ2 मध्यम स्तर पर 143 पर पहुंच गया, जबकि सीओ 90 पर, संतोषजनक स्तर पर था.

इन इलाकों में पूअर एयर क्वालिटी

जहांगीरपुरी में पीएम2.5 404 दर्ज किया गया, जो गंभीर श्रेणी में है, जबकि पीएम10 378 तक पहुंच गया, जो बहुत खराब श्रेणी में है. कार्बन मोनोऑक्साइड संतोषजनक स्तर पर 78 पर और एनओ2 13 पर, अच्छी श्रेणी में था. विशेष रूप से, शून्य और 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा माना जाता है, 51 और 100 के बीच संतोषजनक, 101 और 200 के बीच मध्यम; 201 और 300 के बीच खराब, 301 और 400 के बीच बहुत खराब और 401 और 500 गंभीर माना जाता है.