News Nation Logo

WhatsApp को नई प्राइवेसी पॉलिसी वापस लेने के लिए सरकार का निर्देशः सूत्र

सोशल मीडिया ऐप वॉट्सएप (WhatsApp) पिछले कुछ समय से अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर लगातार मीडिया की सुर्खियों में बना हुआ था. अब केंद्र सरकार ने व्हाट्सएप को अपनी प्राइवेसी पॉलिसी वापस लेने का निर्देश दे दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 19 May 2021, 04:45:53 PM
Whatsapp

सांकेतिक चित्र (Photo Credit: फाइल )

highlights

  • प्राइवेसी पॉलिसी वापस ले व्हाट्सएपः सरकार
  • कुछ दिनों से सुर्खियों में था प्राइवेसी पॉलिसी का मुद्दा
  • आईटी मिनिस्ट्री ने व्हाट्सएप से पॉलिसी वापस लेने को कहा

नई दिल्ली:

सोशल मीडिया ऐप वॉट्सएप (WhatsApp) पिछले कुछ समय से अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर लगातार मीडिया की सुर्खियों में बना हुआ था. अब केंद्र सरकार ने व्हाट्सएप को अपनी प्राइवेसी पॉलिसी वापस लेने का निर्देश दे दिया है. आईटी मिनिस्ट्री ने व्हाट्सअप की नई गाइडलाइंस को वापस लेने को कहा है. आपको बता दें कि इसके पहले दिल्ली हाई कोर्ट ने व्हाट्सएप की पॉलिसी को लेकर केंद्र सरकार और वॉट्सएप से जवाब मांगा था. मीडिया के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने वॉट्सऐप को अपनी नई पॉलिसी को वापस लेने का आदेश दिया है.

केंद्र सरकार ने व्हाट्सएप को इस बात का जवाब देने के लिए अगले 7 दिनों तक का समय दिया है. अगर 25 मई तक व्हाट्सएप ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी तो इसके खिलाफ सरकार आवश्यक कदम उठाएगी. आई टी मंत्रालय ने इस संबंध में 18 मई को एक पत्र भी भेजा है. आईटी मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि वॉट्सऐप का प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव गोपनीयता, डेटा सुरक्षा के मूल्यों को कमजोर करते हैं, भारतीय नागरिकों के अधिकारों को नुकसान पहुंचाते हैं. आपको बता दें कि वॉट्सऐप की नई प्राइवेसी पॉलिसी 15 मई से लागू हो चुकी है. 

इसके पहले 9 मई को गोपनीयता नीति को लेकर आलोचना का सामना कर रहे व्हाट्सएप ने कहा था कि उपयोगकर्ताओं के व्हाट्सएप अकाउंट को 15 मई से कोई समस्या नहीं आएगी और करटेल्ड फंक्शंस का सामना नहीं करेंगे. अगर वे समय तक नए मानदंडों को स्वीकार करने में विफल रहते हैं तो उन्हें बाद में सीमित कार्यों से गुजरना होगा. भारत में 400 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं के साथ दो अरब से ज्यादा उपयोगकर्ताओं के साथ फेसबुक के स्वामित्व वाले मैसेजिंग प्लेटफॉर्म ने चेतावनी दी थी कि नई नीति को स्वीकार करने में विफल रहने के परिणामस्वरूप उपयोगकर्ताओं को 'लगातार रिमाइंडर' के बाद कुछ कार्यक्षमता खोनी पड़ेगी.

व्हाट्सएप ने एफएक्यू में कहा, 'हर किसी को समीक्षा करने का समय देने के बाद, हम उन लोगों को याद दिलाना जारी रखते हैं जिन्हें समीक्षा और स्वीकार करने का मौका नहीं मिला है. कई हफ्तों की अवधि के बाद, अनुस्मारक प्राप्त करने वाले लोग स्थायी हो जाएंगे.' लगातार अनुस्मारक के बाद, उपयोगकर्ता अपडेट स्वीकार करने तक व्हाट्सएप पर सीमित कार्यक्षमता का सामना करेंगे. एक ही समय में सभी उपयोगकतार्ओं के लिए यह नहीं होगा.

सीमित कार्यक्षमता के कुछ हफ्तों के बाद, आप इनकमिंग कॉल या सूचनाएं प्राप्त नहीं कर पाएंगे और व्हाट्सएप आपके फोन पर संदेश और कॉल भेजना बंद कर देगा. हालांकि, अगर आप अपडेट स्वीकार नहीं करते हैं, तो व्हाट्सएप आपके खाते को नष्ट नहीं करेगा. कंपनी ने सूचित किया, '15 मई को व्हाट्सएप के किसी भी खाते को नष्ट नहीं किया जाएगा और न ही कार्यक्षमता खत्म होगी.'

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 19 May 2021, 04:09:58 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.