News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

CDS चीफ बिपिन रावत ने कोरोना वॉरियर्स को कहा थैक्यू, फिर कही ये अहम बातें

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत (Bipin Rawat) और तीनों सेना प्रमुखों ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. यह पहला मौका है जब सीडीएस तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ मीडिया से बातचीत की.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 01 May 2020, 09:50:45 PM
bipin rawat

तीनों सेना प्रमुखों के साथ पीसी करते सीडीएस चीफ रावत (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बिपिन रावत (Bipin Rawat) और तीनों सेना प्रमुखों ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की. यह पहला मौका है जब सीडीएस तीनों सेनाओं के प्रमुखों के साथ मीडिया से बातचीत की. सीडीएस चीफ बिपिन रावत ने कोरोना से अगर हम लड़ना चाहते हैं तो हमें लॉकडाउन का पालन करना होगा.

सीडीएस प्रमुख बिपिन रावत ने सबसे पहले कोविद-19 वॉरियर्स को धन्यवाद देते हुए कहा कि डॉक्टरों, नर्सों, स्वच्छता कर्मचारियों, पुलिस, होमगार्ड, डिलीवरी बॉय और मीडिया जो मुश्किल समय में आगे बढ़ने के लिए सरकार के संदेश के साथ लोगों तक पहुंच रहे हैं. उन्हें बहुत-बहुत धन्यवाद.

अनुशासन और धैर्य से हम कोरोना को दे सकते हैं मात

बिपिन रावत ने आगे कहा कि कोरोना ने बहुत कम संख्या में आर्मी, एयरफोर्स और नेवी को प्रभावित किया है. कोरोना से मुकाबला करना है तो अनुशासन और धैर्य का परिचय देना होगा. मुझे विश्वास है कि हम इससे जीतेंगे.

इसे भी पढ़ें:महाराष्ट्र में लॉकडाउन को लेकर उद्धव सरकार उठायेगी ये कदम, फिलहाल राहत की नहीं उम्मीद

कोरोना ने तीनों सेनाओं को नहीं प्रभावित किया है

उन्होंने कहा था कि सशस्त्र बलों के रूप में हम कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में अपनी जिम्मेदारी समझते हैं. हमें यह सुनिश्चित करना है कि हम सुरक्षित रहें, क्योंकि हमारे सैनिक, नाविक और एयरफोर्स इस वायरस से प्रभावित होते हैं, तो हम अपने लोगों की सुरक्षा कैसे करेंगे. कोरोना ने बहुत कम संख्या में तीनों सेनाओं को प्रभावित किया है.

चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने कहा कि कोरोना वॉरियर्स को सलाम करने के लिए नौसेना के हेलीकॉप्टर कोविड-19 रोगियों का इलाज कर रहे अस्पतालों पर फूल बरसाएंगे.

और पढ़ें:मोदी सरकार का बड़ा फैसला, लॉकडाउन को 3 मई से 17 मई तक के लिए बढ़ाया गया

नौसेना की ओर से अपने युद्धपोतों को 3 मई को शाम को तटीय क्षेत्रों में संरचनाओं में तैनात किया जाएगा. नौसेना के युद्धपोतों को भी जलाया जाएगा और उनके हेलिकॉप्टरों का इस्तेमाल अस्पतालों में पंखुड़ियों की बौछार के लिए किया जाएगा. उन्होंने बताया कि भारतीय वायुसेना कोरोना योद्धाओं के प्रति आभार प्रदर्शित करने के लिये तीन मई को देश भर में ‘फ्लाई पास्ट’ करेगी .

जैविक युद्ध का परिणाम है कोरोना अभी कहना जल्दीबाजी होगी

इसके साथ ही उन्होंने कोरोना वायरस को जैविक हथियार के सवाल पर कहा कि इस निष्कर्ष पर पहुंचना उचित नहीं है कि कोरोना वायरस महामारी जैविक युद्ध का परिणाम है.

तीनों सेनाएं ऐसे कोरोना वॉरियर्स को करेंगी धन्यवाद

1. एयरफोर्स जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर से केरल के त्रिवेंद्रम तक और असम के डिब्रूगढ़ से गुजरात के कच्छ तक फ्लाईपास्ट करेगी. इसमें फाइटर प्लेन और ट्रांसपोर्ट प्लेन शामिल होंगे.
2. देशभर के अस्पतालों में हेलिकॉप्टर से फूल बरसाए जाएंगे जहां कोरोना पेशेंट का इलाज हो रहा है.
3.आर्मी हर जिले के कोरोना अस्पताल के पास माउंटेन बैंड परफॉर्मेंस देगी.
4. 3 मई को कोरोना के खिलाफ जंग में शामिल पुलिस बलों के समर्थन में सशस्त्र बल पुलिस मेमोरियल पर फूल चढ़ाएंगे. नेवी के शिप्स में लाइटिंग होगी.

First Published : 01 May 2020, 06:53:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो