News Nation Logo

अरब सागर में तौकते चक्रवात के कहर से 22 की मौत

भारतीय नौसेना ने अब तक उस बजरे से 188 लोगों को बचाया है. इसके अलावा कई अन्य फंसे या बहते जहाजों से भीषण मौसम की स्थिति में सबसे बड़े खोज और बचाव अभियान में से एक में बचाया गया है.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 19 May 2021, 11:05:12 PM
Death of 22 due to cyclone wreaking havoc in Arabian Sea

अरब सागर में तौकते चक्रवात के कहर से 22 की मौत (Photo Credit: IANS)

highlights

  • अरब सागर में तौकते चक्रवात के कहर से 22 की मौत
  • जहाज बार्ज पापा-305 में सवार थे सभी लोग
  • बार्ज पर कुल 261 व्यक्ति सवार थे

मुंबई:

चक्रवाती तूफान तौकते की चपेट में आए अरब सागर में चलते जहाज बार्ज पापा-305 में सवार कम से कम 22 लोगों की भीषण त्रासदी में मौत हो गई. अधिकारियों ने यहां बुधवार को यह जानकारी दी. उनके शवों को भारतीय नौसेना के जहाजों द्वारा मुंबई लाया गया है जो पिछले 48 घंटों से बचाव अभियान पर गए थे. पश्चिमी नौसेना कमान ने 22 लोगों की मौत की पुष्टि की, जबकि मुंबई से लगभग 175 किलोमीटर दूर बॉम्बे हाई फील्ड्स के पास अभी भी तड़के समुद्र में लापता 50 अन्य लोगों का पता लगाने के प्रयास चल रहे हैं.

आईएनएस कोच्चि शवों को मुंबई बंदरगाह ले आया है, साथ ही कई अन्य लोगों को बचा लिया गया है. जैसे ही चक्रवात तौकते ने महाराष्ट्र के तटीय क्षेत्रों को तबाह कर दिया और गुजरात की ओर बढ़ गया, बॉम्बे हाई फील्ड के अपतटीय विकास क्षेत्र में बदकिस्मत बार्ज सोमवार देर रात डूब गया था.

यह भी पढ़ें : जानिए कौन हैं सौम्या वर्मा जिसका टूलकिट केस में आया नाम

बार्ज पर कुल 261 व्यक्ति सवार थे.

भारतीय नौसेना ने अब तक उस बजरे से 188 लोगों को बचाया है. इसके अलावा कई अन्य फंसे या बहते जहाजों से भीषण मौसम की स्थिति में सबसे बड़े खोज और बचाव अभियान में से एक में बचाया गया है. बुधवार सुबह से मौसम में सुधार होने के कारण अरब सागर में बचाव अभियान अभी भी जारी है.

यह भी पढ़ें : बाब रामदेव का बड़ा बयान, कोरोना से कुंभ को जोड़ना एक बड़ी साजिश

प्रधानमंत्री ने तौकते प्रभावित गुजरात के लिए 1,000 करोड़ के राहत पैकेज की घोषणा की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राज्य में आए चक्रवाती तूफान तौकते से बुरी तरह प्रभावित होने के बाद गुजरात को तत्काल 1,000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की. भीषण चक्रवाती तूफान से हुई तबाही के बाद बुरी तरह से प्रभावित तीन जिलों भावनगर, अमरेली, गिर-सोमनाथ और केंद्र शासित प्रदेश दीव में स्थिति का जायजा लेने के लिए पीएम अपने गृह राज्य में थे. मंगलवार को तौकते से हुई भारी तबाही के बाद प्रधानमंत्री मोदी बुधवार को अपने गृह राज्य पहुंचे और उन्होंने और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के साथ भावनगर, अमरेली, गिर-सोमनाथ और केंद्र शासित प्रदेश दीव के प्रभावित जिलों का दौरा करने के लिए हवाई मार्ग का सहारा लिया.

भारतीय वायुसेना के हेलिकॉप्टर में बैठकर दो घंटे के सर्वेक्षण के बाद प्रधानमंत्री ने अहमदाबाद में सरदार वल्लभभाई पटेल अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे की इमारत में गुजरात के सीएम और राज्य प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की. तौकते से हुई तबाही पर प्राथमिक आकलन के संबंध में पीएम को एक प्रस्तुति दी गई. नुकसान के आकलन, बहाली और राहत कार्य के बारे में भी विवरण पर चर्चा की गई.

बैठक के बाद पीएम ने वित्तीय सहायता की घोषणा की. गुजरात में तत्काल राहत गतिविधियों के लिए 1,000 करोड़ रुपये दिये. नुकसान की सीमा का आकलन करने के लिए केंद्र सरकार राज्य का दौरा करने के लिए एक अंतर-मंत्रालयी टीम तैनात करेगी. पीएम ने गुजरात के सीएम से कहा कि केंद्र ने राज्य के प्रभावित इलाकों में बुनियादी ढांचे की बहाली और पुर्ननिर्माण के लिए हर संभव मदद का आश्वासन दिया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 19 May 2021, 08:24:20 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.