News Nation Logo

चक्रवाती तूफान यास का पूर्वोत्तर राज्यों पर असर पड़ने का अंदेशा

भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि चक्रवाती तूफान यास के तीन पूर्वोत्तर राज्यों - असम, मेघालय और सिक्किम को प्रभावित करने की संभावना है, जिसके चलते 26-27 मई को मध्यम से भारी बारिश हो सकती है.

By : Shailendra Kumar | Updated on: 24 May 2021, 11:59:54 PM
Cyclone Yaas

चक्रवाती तूफान यास का पूर्वोत्तर राज्यों पर असर पड़ने का अंदेशा (Photo Credit: न्यूज नेशन)

गुवाहाटी/अगरतला:

भारतीय मौसम विभाग ने सोमवार को कहा कि चक्रवाती तूफान यास के तीन पूर्वोत्तर राज्यों - असम, मेघालय और सिक्किम को प्रभावित करने की संभावना है, जिसके चलते 26-27 मई को मध्यम से भारी बारिश हो सकती है. विभाग के अधिकारियों ने कहा कि बारिश की तीव्रता चक्रवात की चाल पर निर्भर करेगी. असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने एक ट्वीट में कहा, "चक्रवात यास के 26-27 मई को (पूर्वोत्तर) क्षेत्र को प्रभावित करने की संभावना है. माननीय गृहमंत्री अमित शाह ने फोन कर असम, सिक्किम और मेघालय की तैयारियों के बारे में जानकारी ली है."

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, "उन्हें सूचित किया गया है कि आपातकालीन सेवाओं पर काम जारी है. यहां के प्रति उनकी निरंतर चिंता को देखते हुए गृहमंत्री का आभारी हूं." त्रिपुरा में आईएमडी के निदेशक दिलीप साहा ने कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के कई राज्यों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है. साहा ने आईएएनएस को बताया, "क्षेत्र में कुछ स्थानों पर भारी बारिश भी हो सकती है. हालांकि, बारिश और हवा की गति तूफान की ताकत और दिशा पर निर्भर करेगी."

चक्रवात 'यास' इस वक्त बालेश्वर से लगभग 650 किलोमीटर दक्षिण दक्षिण पूर्व में है. यह उत्तर दिशा में ओडिशा तट की ओर बढ़ रहा है. 25 मई की सुबह तक तूफान प्रचंड चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा. 26 मई की शाम तक बालासोर और मिदिनीपुर पहुंचेगा. आज कुछ जगहों पर 90-110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. कल करीब 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलेंगी. इसके बाद 26 मई को हवाएं 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक पहुंच सकती हैं. उत्तरी आंध्र, ओडिशा और पश्चिम बंगाल तट अलर्ट पर हैं.

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की नौवीं बटालियन की पांच टीमें संभावित चक्रवाती तूफान यास से निपटने के लिए पश्चिम बंगाल के लिए रवाना हो गई हैं. एनडीआरएफ बटालियन के कमांडेंट विजय कुमार सिन्हा ने सोमवार को कहा कि वायुसेना की विशेष उड़ान रविवार को पटना हवाईअड्डे से एनडीआरएफ की नौवीं बटालियन के सेकेंड कमांड ऑफिसर हरविंदर सिंह के नेतृत्व में टीमों को लेकर पश्चिम बंगाल के लिए रवाना हुई. सभी पांच टीमें अत्याधुनिक आपदा प्रबंधन और संचार उपकरणों से लैस हैं.

सिन्हा ने बताया कि इन टीमों को नई दिल्ली में एनडीआरएफ मुख्यालय के आदेश के अनुसार पश्चिम बंगाल के कोलकाता, उत्तर 24 परगना और दक्षिण 24 परगना में तैनात किया जाएगा. टीमों में कुल 145 एनडीआरएफ कर्मी शामिल हैं. उन्होंने कहा कि चक्रवात यास को लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल तथा अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. इसका सबसे ज्यादा असर बंगाल और ओडिशा पर पड़ने की संभावना है.

 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 24 May 2021, 11:44:49 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.