logo-image
लोकसभा चुनाव

Cyclone Remal Update: चक्रवात 'रेमल' से कहीं उखड़े पेड़ तो कहीं घरों को बनाया मलबे का ढेर, एक व्यक्ति की मौत

Cyclone Remal Live Updates: चक्रवाती तूफान रेमल रविवार रात बंगाल तट से टकराने के बाद कमजोर पड़ गया. हालांकि, इसके असर से अभी भी इलाके में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है.

Updated on: 27 May 2024, 03:16 PM

New Delhi:

Cyclone Remal Live Updates: बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान रेमल रविवार देर रात बंगाल और बांग्लादेश के तटों से टकरा गया. इसके बाद इन इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश का दौर जारी है. तेज हवाओं से कई इलाकों में पेड़ उखड़ गए और विद्युत आपूर्ति ठप हो गई. मौसम विभाग के मुताबिक, चक्रवाती तूफान के लैंडफॉल के समय हवा की रफ्तार 135 किलोमीटर प्रति घंटा रही. इसी दौरान रेमल तूफान पश्चिम बंगाल के सागर द्वीप और बांग्लादेश के खेपुपाड़ा के बीच समुद्र तट से टकराया गया.

मौसम विभाग के मुताबिक, तट से टकराने के बाद चक्रवाती तूफान रेमल कमजोर पड़ गया. हालांकि, केंद्र और राज्य सरकारें अब भी इस पर नजर बनाए हुए हैं. साथ ही बंगाल में हाई अलर्ट घोषित किया गया है. वहीं कोलकाता एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया. तटीय इलाकों में राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) की 14 टीमें तैनात की गई हैं. साथ ही नौसेना और भारतीय तटरक्षक बल को अलर्ट पर रखा गया है.

कई राज्यों में भारी बारिश की आशंका

मौसम विभाग की मानें तो चक्रवात रेमल के प्रभाव से कई राज्यों में भारी बारिश हो सकती है. बता दें कि मानसून से पहले बंगाल की खाड़ी में आने वाला ये पहला चक्रवात है. इसी के सात ही भारत मौसम विज्ञान विभाग ने पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के तटीय जिलों में दो दिनों तक अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी दी है. इसके साथ ही असम और मेघालय में भी अत्यधिक भारी बारिश होने की आशंका है. IMD का कहना है कि चक्रवात रेमल कुछ और समय तक लगभग उत्तर की ओर और फिर उत्तर-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ता रहेगा.

135 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलीं हवाएं

जिस वक्त चक्रवात रेमल बंगाल और बांग्लादेश तट से टकराया, उस वक्त हवाओं की रफ्तार 135 किमी प्रति घंटा रही. भारी बारिश के चलते तमाम पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए. तट से टकराने से पहले रविवार देर शाम से ही चक्रवात रेमल का लैंडफॉल शुरू हो गया और तेज हवाओं के साथ बारिश ने जनजीवन अस्त-व्यस्त कर दिया.

कोलकाता समेत बंगाल के कई इलाकों में हो रही बारिश

चक्रवात रेमल के प्रभाव से अभी भी बंगाल की राजधानी कोलकाता और राज्य के कई जिलों में बारिश हो रही है और तेज हवाएं चल रही है. चक्रवात के चलते राज्य सचिवालय नबान्न में कंट्रोल रूम खोला गया है. राहत सामग्रियों, जरूरी दवाओं के साथ अन्य सभी जरुरी चीजों का भंडारण किया गया है. वहीं  प्रभावित होने वाले लोगों के लिए राहत शिविरों की भी पर्याप्त संख्या में इंतजाम किया गया है. इसके साथ ही मछुआरों को फिलहाल समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है.

calenderIcon 12:15 (IST)
shareIcon

चक्रवात रेमल के बाद राज्यपाल ने किया क्षेत्र का दौरा

Cyclone Remal Update: चक्रवात रेमल के बंगाल तट से कराने के बाद अब भी तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है. इस बीच पश्चिम बंगाल के राज्यपाल सीवी आनंद बोस राजभवन टास्क फोर्स के साथ क्षेत्र के दौरे पर निकले. इस दौरान उन्होंने राहत बचाव कार्यों का जायजा लिया.



calenderIcon 11:18 (IST)
shareIcon

समुद्र में उठ रही लहरें और चल रही तेज हवाएं

Cyclone Remal Live Updates: चक्रवात रेमल बंगाल और बांग्लादेश तट से टकराने के बाद कमजोर पड़ गया. लेकिन ये चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया. जिसके असर से सोमवार सुबह पूर्व मेदिनीपुर में समुद्र में ऊंची लहरें उठती दिखीं. और तेज हवाएं चलती दिखाई दीं.



calenderIcon 11:15 (IST)
shareIcon

कई इलाकों में गिरे पेड़, अभी भी चल रहीं हवाएं

Cyclone Remal Live Updates: चक्रवात रेमल रविवार देर रात बंगाल तट से कराया. उसके बाद पूरे राज्य में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई. जिससे तमाम पेड़ टूट गए और बिलजी के पोल उखड़ गए. चक्रवात रेमल के टकराने के बाद सुंदरबन में सोमवार सुबह कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला.


calenderIcon 11:11 (IST)
shareIcon

चक्रवात रेमल से रेलवे यातायात पर नहीं पड़ा कोई असर

Cyclone Remal Live Updates: बंगाल की खाड़ी से उड़े चक्रवात रेमल ने रविवार रात पश्चिम बंगाल में जमकर तांडव मचाया, लेकिन इससे रेलवे यातायात पर कोई फर्क नहीं पड़ा. इस मामले पूर्वी रेलवे के सीपीआरओ कौशिक मित्रा ने बताया कि, "...सौभाग्य से चक्रवात ने रेलवे को प्रभावित नहीं किया. कल रात से हावड़ा, आसनसोल और मालदा डिवीजनों में सामान्य सेवाएं चल रही हैं, कोई भी ट्रेन रद्द नहीं की गई है. हमें सियालदह डिवीजन में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ा है, लेकिन हमारे अधिकारियों ने रात भर काम किया है और बहाली का काम जोरों पर है.''



calenderIcon 09:37 (IST)
shareIcon

भारी बारिश से कोलकाता के कई इलाके जलमग्न

Cyclone Remal Update: चक्रवात रेमल के बंगाल तट से टकराने के बाद कोलकाता समेत राज्य के कई इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है. जिसके चलते कई इलाकों में पानी भर गया है. कोलकाता के बउबाजार इलाके में भी भारी बारिश के चलते पानी भर गया. जिससे लोगों को आने जाने में काफी परेशानी हो रही है.



calenderIcon 09:17 (IST)
shareIcon

चक्रवात रेमल कमजोर होकर चक्रवाती तूफान में बदला

Cyclone Remal Live Updates: बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवात रेमल देर रात बंगाल और बांग्लादेश के तट से टकरा गया. मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, अब ये चक्रवात आज यानी 27 मई की सुबह 05.30 बजे कैनिंग से लगभग 70 किमी उत्तर पूर्व और मोंगला से 30 किमी पश्चिम दक्षिण पश्चिम में कमजोर होकर चक्रवाती तूफान में बदल गया. मौसम विभाग का कहना है कि सिस्टम के धीरे-धीरे और कमजोर होने की संभावना है.



calenderIcon 08:32 (IST)
shareIcon

हेलीकॉप्टर से की जा रही निगरानी

Cyclone Remal Live Updates: चक्रवार रेमल के तट से तकराने के बाद पश्चिम बंगाल में सैकड़ों पेड़ और बिजली के पोल उखड़ गए हैं. रेमल से हुए नुकसान के बारे में अभी तक ज्यादा जानकारी सामने नहीं आई है. लेकिन भारतीय तटरक्षक प्रभाव के बाद की चुनौतियों का जवाब देने के लिए अल्प सूचना पर एक आपदा प्रतिक्रिया टीम, जहाजों और होवरक्राफ्ट के साथ चक्रवात रेमल के लैंडफॉल की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं.



calenderIcon 08:29 (IST)
shareIcon

भारी बारिश से कई इलाकों में भरा पानी

Cyclone Remal Live Updates: चक्रवाती तूफान रेमल रविवार देर रात बंगाल तट से कराया. इसके बाद राज्य में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है. भारी बारिश के चलते कोलकाता के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं और जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है.



calenderIcon 07:26 (IST)
shareIcon

बारिश और तेज हवाओं से उखड़े पेड़

Cyclone Remal Live Update: चक्रवाती तूफान रेमल रविवार देर रात बंगाल तट से टकरा गया. जिसके चलते तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही है. रेमल के प्रभाव से पश्चिम बंगाल के अलीपुर इलाके में कई पेड़ उखड़ गए हैं. साथ ही विद्यत पोल उखड़ने से विद्युत आपूर्ति भी ठप हो गई है.