News Nation Logo
Banner

सीएसआईआर-सीएमईआरआई बना रहा मैला ढोने की मशीनीकृत प्रणाली

सीएसआईआर-सीएमईआरआई बना रहा मैला ढोने की मशीनीकृत प्रणाली

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 01 Sep 2021, 10:05:02 AM
Council of

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली: एक शीर्ष सरकारी शोध निकाय एक मशीनीकृत मैला ढोने की प्रणाली विकसित कर रहा है, जिसे भारतीय सीवरेज प्रणाली की विविध प्रकृति और इसके घुटन के तरीके के गहन अध्ययन के बाद शुरू किया गया था।

विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग की एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि सीएसआईआर-सीएमईआरआई (वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद - केंद्रीय यांत्रिक इंजीनियरिंग अनुसंधान संस्थान) द्वारा विकसित प्रौद्योगिकी डिजाइन में मॉड्यूलर है, ताकि स्थितिजन्य आवश्यकताओं के अनुसार अनुकूलित तैनाती रणनीति सुनिश्चित की जा सके।

यह प्रणाली संसाधनों के सतत उपयोग पर भी ध्यान केंद्रित करती है, अर्थात पानी, क्योंकि यह चोक सीवरेज सिस्टम से घोल को सोख लेता है और उसी के पर्याप्त निस्पंदन के बाद, सेल्फ प्रोपेलिंग नोजल (एसपीएन) का उपयोग करके चोकेज को साफ करने के लिए इसे पुनर्निर्देशित करता है।

यह सीएसआईआर-सीएमईआरआई तकनीक मशीनीकृत मैला ढोने के साथ-साथ पानी के शुद्धिकरण के लिए इन-सीटू विकल्प प्रदान करती है। प्रौद्योगिकी का डिजाइन ऐसा है कि फिल्टर मीडिया को बदलने/फिर से डिजाइन करने की क्षमता के साथ अनुकूलित आवश्यकताओं/आवश्यकताओं के अनुसार जल निस्पंदन तंत्र को बदला/संशोधित किया जा सकता है।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि वाहन पर लगे निस्पंदन इकाइयां सतह के नाले और बाढ़ वाले क्षेत्रों के पानी को बढ़ाने और उपयोग करने में सक्षम होंगी और इसे कृषि, घरेलू और पीने के पानी के उपयोग के लिए उपयुक्त पानी में शुद्ध करेंगी।

बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में प्रचलित पेयजल की कमी को कुछ हद तक तात्कालिक और यथास्थान जल शोधन समाधान प्रदान करके कुछ हद तक हल किया जा सकता है।

यह बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में एक समेकित प्रौद्योगिकी समाधान प्रदान करता है, क्योंकि यह बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में जल निकासी चोकेज को साफ करने में सक्षम होगा, जो बाढ़ के रुके हुए पानी के लिए एक आउटलेट प्रदान करने में मदद करेगा, साथ ही बाढ़ आपदा क्षेत्रों में जल शोधन समाधान प्रदान करेगा।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 01 Sep 2021, 10:05:02 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.