News Nation Logo
Banner

क्या 94 हजार NRI पंजाब के लिए बनेंगे खतरा? जानें सीएम अमरिंदर सिंह ने क्या कहा

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Captain Amarinder Singh) ने बताया कि 94000 एनआरआई में से ज्यादातर को ट्रैक कर लिया गया है.

News Nation Bureau | Edited By : Nitu Pandey | Updated on: 24 Mar 2020, 06:46:41 PM
Amarinder Singh

कैप्टन अमरिंदर सिंह (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

पंजाब में कोरोना वायरस (Coronavirus) को तबाही मचाने से रोकने के लिए अमरिंदर सिंह सरकार हर मुमकिन कोशिश कर रही है. लॉकडाउन से जब बात नहीं बनी तो राज्य में कर्फ्यू लागू कर दिया गया. ताकि लोगों को घरों में रखा जा सकें. इसके साथ ही उन 94 हजार एनआरआई से भी निपटा जा रहा है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Captain Amarinder Singh) ने बताया कि 94000 एनआरआई (NRI) में से ज्यादातर को ट्रैक कर लिया गया है.

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बयान जारी करते हुए बताया कि पिछले दिनों पंजाब में 94000 एनआरआई लौट कर आए. इनमें से ज्यादातर को ट्रैक कर लिया गया है. इस समय 30000 एनआरआई आइसोलेट हैं. अन्य लोगों का पता लगाने के लिए कोशिश जारी है.

उन्होंने बताया कि जो लोग आइसोलेट हैं उनपर कड़ी निगरानी रखी जा रही है. सैंपल लेकर जांच कराई जा रही है. पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ी है, लेकिन हालातों को जल्दी ही नियंत्रित कर लिया जाएगा.

इसे भी पढ़ें:महाराष्ट्र में कोरोना ने बरपाया कहर, पहला ऐसा राज्य जहां सैकड़ा का आंकड़ा हुआ पार, 106 पॉजीटिव

इसके साथ ही लॉकडाउन की वजह से पैदा हुई समस्या पर कहा, 'पंजाब के जिला आयुक्तों को जहां तक संभव हो, फेरीवालों / वितरकों के माध्यम से किराने का सामान, दूध, फल और सब्जियों जैसी आवश्यक वस्तुओं की डोर-टू-डोर डिलीवरी सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है.'

और पढ़ें:कोरोना के आगे हार रहा अमेरिका! एक दिन में 10 हजार मामले सामने आए, ट्रंप ने दी चेतावनी

इससे पहले पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू ने कहा था, 'हमने केंद्र से 150 करोड़ रुपये मांगे हैं. पंजाब में बहुत NRIs हैं, पिछले 3-4 महीनों में 90000 लोग यहां आए हैं. इसलिए हमें बुनियादी ढांचे के साथ-साथ अलगाव वार्डों और अन्य चीजों के लिए धन की आवश्यकता है, 5 सांसदों ने डॉ हर्षवर्धन से भी मुलाकात की है.'

First Published : 24 Mar 2020, 06:46:41 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×