News Nation Logo
Banner

एविएशन सेक्टर के लिए काल साबित हुआ कोरोना वायरस, हजारों लोग हुए बेरोजगार

Coronavirus (Covid-19): आंकड़ों के मुताबिक 31 मार्च 2020 को एयरलाइंस में जहां 74887 लोग काम किया करते थे वह 31 जुलाई 2020 को घटकर 69589 पर जा पहुंचा है.

Written By : आमिर हुसैन | Edited By : Dhirendra Kumar | Updated on: 16 Sep 2020, 02:27:22 PM
Hardeep Singh Puri

हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

Coronavirus (Covid-19): कोरोना वायरस महामारी की वजह से हर सेक्टर में नौकरियों पर तलवार चली है. ऐसे में एविएशन सेक्टर (Aviation Sector) भी इससे अछूता नहीं रहा है. कोविड-19 का एविएशन सेक्टर में रोजगार पर भारी असर देखने को मिला है. कोविड-19 के दौर में हजारों लोगों को अपना रोजगार गंवाना पड़ा है. कोरोना काल में एविएशन सेक्टर में 18,027 लोगों ने रोजगार गंवाया है.

यह भी पढ़ें: करण की 'ड्रग्स पार्टी'! शिवसेना समर्थक ने कहा- सरकार को लिखेंगे पत्र

31 जुलाई को एयरलाइंस में काम करने वालों की संख्या घटकर 69589 हो गई

आंकड़ों के मुताबिक 31 मार्च 2020 को एयरलाइंस में जहां 74887 लोग काम किया करते थे वह 31 जुलाई 2020 को घटकर 69589 पर जा पहुंचा है. वैसे ही एयरपोर्ट पर 31 मार्च 2020 को 67,760 लोग काम किया करते थे वह 31 जुलाई 2020 तक घटकर 64514 लोगों पर जा पहुंचा है.

यह भी पढ़ें: अयोध्या के विवादित ढांचा विध्वंस मामले में 30 सितंबर को आएगा फैसला

कार्गो ऑपरेटर्स की नौकरियां भी गईं

नागरिक उड्डयन मंत्री (Union Civil Aviation Minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) के द्वारा संसद में दी गई जानकारी के मुताबिक ग्राउंड हैंडलिंग एजेंसी में 31 मार्च 2020 तक जहां 37720 लोग काम किया करते थे 29 जुलाई 2020 को घटकर 29254 पर जा पहुंचा है. कार्गो ऑपरेटर्स के साथ 31 मार्च 2020 तक 9555 हां लोग काम किया करते थे वह 25 जुलाई 2020 को घटकर 8538 पर जा पहुंचा है.

यह भी पढ़ें: पायल रोहतगी ने की जया की खिंचाई, करण की 'ड्रग्स पार्टी' पर भी सवाल

सस्ती हो सकती है हवाई यात्रा, एक्साइज ड्यूटी में हो सकती कमी

हवाई यात्रा करने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी निकलकर सामने आ रही है. दरअसल, आने वाले दिनों में हवाई यात्रा (Air Travel) सस्ती हो सकती है. केंद्र की नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार कोविड-19 संकट के बीच एयरलाइंस कंपनियों को बड़ी राहत दे सकती है. बता दें कि कोरोना वायरस महामारी की वजह से नुकसान का सामना कर रही एविएशन इंडस्ट्री ने मोदी सरकार से मांग की थी कि एटीएफ के ऊपर लगने वाली 11 फीसदी एक्साइज ड्यूटी को घटाकर शून्य कर दिया जाए. नागरिक उड्डयन मंत्री (Union Civil Aviation Minister) हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) ने राज्यसभा में इस मामले पर जवाब दिया है कि सरकार के पास एविएशन इंडस्ट्री की ओर से एटीएफ के ऊपर लगने वाली 11 फीसदी एक्साइज ड्यूटी को घटाकर शून्य करने की मांग आई है. उन्होंने कहा है कि सरकार एक्साइज ड्यूटी को घटाने पर विचार कर रही है. एटीएफ के दाम प्रति 15 दिनों में तय होंगी. फिलहाल प्रति माह एटीएफ की दरें तय होती हैं.

First Published : 16 Sep 2020, 02:03:28 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.