News Nation Logo

Corona Virus: जनता कर्फ्यू रहा सफल, आज से कई राज्यों में लॉकडाउन; मोदी ने कोरोना से जंग का ऐलान

कोरोना वायरस (corona virus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा रविवार को जनता कर्फ्यू लगाने का किये गए आह्वान को देश में भारी जनसमर्थन मिला और करोड़ों लोग घरों में ही रहे.

News Nation Bureau | Edited By : Deepak Pandey | Updated on: 22 Mar 2020, 11:56:32 PM
covid 19

कोरोना वायरस (Photo Credit: फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कोरोना वायरस (corona virus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) द्वारा रविवार को जनता कर्फ्यू लगाने का किये गए आह्वान को देश में भारी जनसमर्थन मिला और करोड़ों लोग घरों में ही रहे और केवल शाम पांच बजे कुछ समय के लिए शंख, ताली-थाली और घंटी बजाकर स्वास्थ्य कर्मियों और अन्य आवश्यक लोगों की सेवा में लगे कर्मचारियों के प्रति आभार व्यक्त किया. प्रधानमंत्री ने इस समर्थन के लिए लोगों का आभार व्यक्त किया लेकिन साथ ही कहा कि यह लंबी लड़ाई की शुरुआत है. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे कोरोना वायरस से संक्रमण का चक्र तोड़ने के लिए सामाजिक मेल मिलाप से दूरी का अनुपालन करें. वहीं, राजस्थान, पंजाब समेत कई राज्यों में 31 मार्च लॉकडाउन रहेगा.

यह भी पढ़ेंःCorona Virus: गुजरात सरकार ने निर्वाचन आयोग से राज्यसभा चुनाव स्थगित करने का किया अनुरोध

भारत में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या पहुंची सात 

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण से रविवार को तीन और लोगों की मौत होने से मृतकों की संख्या सात हो गई. मृतकों में बिहार और गुजरात में हुई एक-एक व्यक्ति की मौत का मामला भी शामिल हैं. कोविड-19 के मामलों की संख्या बढ़कर 360 हो गई है. इस बीच इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 22 मार्च की मध्य रात्रि से 31 मार्च की मध्यरात्रि तक सभी यात्री ट्रेन और अंतरराज्यीय बस सेवाओं को बंद करने की रविवार को घोषणा की गई और अभूतपूर्व कदम उठाते हुए 80 जिलों में लॉकडाउन किया गया है.

कोरोना वायरस के खतरे को कम करने के लिए पूरे देश में रेल से लेकर हवाई सेवाएं 31 मार्च तक बंद कर दी गई हैं. रेलवे बोर्ड ने 31 मार्च तक सभी यात्री ट्रेनों को बंद कर दिया है. रेलवे ने बताया है कि सभी लंबी दूरी की ट्रेनें, एक्सप्रेस और इंटरसिटी ट्रेन (प्रीमियम ट्रेन भी शामिल) का परिचालन 31 मार्च की रात 12 बजे तक बंद रहेगा. यात्री टिकट रद्द होने के बाद 21 जून तक रिफंड ले सकेंगे.

इन राज्यों में लॉकडाउन

कोरोना वायरस को लेकर जहां बिहार, झारखंड, दिल्ली, पंजाब, राजस्थान, जम्मू-कश्मीर में 31 मार्च पूरी तरह लॉकडाउन है तो वहीं, उत्तर प्रदेश के लखनऊ, नोएडा, गाजियाबाद, वाराणसी सहित सूरत, मुंबई, पुणे आदि शहर भी बंद हैं. उत्तर प्रदेश के 15 जिलों को लॉकडाउन कर दिया गया है. जिन जिलों में कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं उन्हें लॉकडाउन कर दिया गया है.

जनता कर्फ्यू के दौरान कई शहर पूरी तरह थमे

जनता कर्फ्यू के दौरान रविवार को कभी नहीं सोने वाली मुंबई हो या पटना या अहमदाबाद जैसे शहर पूरी तरह से थम गए. देश में सड़क, रेलवे स्टेशन और हवाई अड्डे वीरान रहे और आवश्यक वस्तुओं की दुकानों को छोड़ सभी प्रतिष्ठान सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू के दौरान बंद रहे. राष्ट्रीय राजधानी की सड़कें जो सामान्य दिनों में वाहनों के दवाब से जाम रहती हैं रविवार को वीरान रहीं और कुछ निजी वाहन और बसें दौड़ती दिखाई दीं. दिल्ली पुलिस ने घर से बाहर निकलने वाले लोगों को फूल देकर उन्हें घर में ही रहने की सलाह दी. कुछ इलाकों में पुलिस ने कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए मास्क और सैनिटाइजर बांटे.

यह भी पढ़ेंःकोरोना वायरस के चलते जम्मू-कश्मीर में भी 31 मार्च तक लॉकडाउन, सिर्फ खुली रहेंगी ये दुकानें

शाम को घड़ी की सुई के पांच बजने का इशारा करते ही चारों तरफ से ताली, शंखनाद, थाली और घंटी बजाने की आवाज आने लगी. लोग अपने-अपने घरों की बालकनी में चिकित्सा कर्मियों और अन्य आवश्यक सेवाओं में संलग्न लोगों का आभार व्यक्त करने के लिए इस अभियान में शामिल हुए. प्रधानमंत्री की अपील पर महानगरों से लेकर गांवों तक बच्चे, बूढ़े, आम जन और खास सभी अपने घर की बालकनी, लॉन और छत पर आए और ताली, थाली और घंटी बजाकर आवश्यक सेवाओं में लगे कर्मचारियों का उत्साह बढ़ाया. कई लोग पांच बजने से पहले ही प्लेट, बर्तन आदि बजाने के लिए अपने-अपने घरों की बालकनी आदि में पहुंच चुके थे जबकि कुछ ने शंखनाद किया जबकि कुछ लोगों ने फोन और म्यूजिक सिस्टम बजाए. कई जगहों पर पुलिस के साइरन भी सुनाई दिए.लोगों ने सोशल मीडिया के जरिये अपने-अपने इलाके में अभियान का उत्साह साझा किया.

प्रधानमंत्री ने लोगों की इस भावना के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया

प्रधानमंत्री ने लोगों की इस भावना के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘कोरोना वायरस की लड़ाई का नेतृत्व करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को देश ने एक मन होकर धन्यवाद अर्पित किया. देशवासियों का बहुत-बहुत आभार.’’ एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘‘ ये धन्यवाद का नाद है, लेकिन साथ ही एक लंबी लड़ाई में विजय की शुरुआत का भी नाद है. आइए, इसी संकल्प के साथ, इसी संयम के साथ एक लंबी लड़ाई के लिए अपने आप को बंधनों (सामाजिक दूरी) में बांध लें.’’ मोदी कहा, ‘‘आज का जनता कर्फ्यू भले ही रात 9 बजे खत्म हो जाएगा, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम सेलिब्रेशन शुरू कर दें. इसको सफलता न मानें. यह एक लम्बी लड़ाई की शुरुआत है.आज देशवासियों ने बता दिया कि हम सक्षम हैं, निर्णय कर लें तो बड़ी से बड़ी चुनौती को एक होकर हरा सकते हैं.’’ उन्होंने लॉकडाउन वाले इलाकों में रहने वाले लोगों से अपील की कि वे अपने घरों से बाहर नहीं निकलें.

यह भी पढ़ेंः रोहित शर्मा ने ICC पर फिकरा कसा, कहा- घर से काम करना इतना आसान नहीं हैं, क्योंकि...

शाम होने तक प्रशासन ने अभूतपूर्व पाबंदियों की घोषणा कर दी जिसमें पूरे देश में सभी अंतरराज्यीय बस सेवाएं, यात्री ट्रेन और मेट्रो पर रोक शामिल है. इसके साथ ही 18 राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों जहां कोरोना वायरस संक्रमण के मामले आए थे वहां के 80 जिलों में पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में लॉकडाउन 23 मार्च से 31 मार्च तक रहेगा. आर्थिक राजधानी जिसके लिए प्राकृतिक और मानव निर्मित आपदा नहीं है अप्रत्याशित रूप से रविवार को बंद रही. ऐतिहासिक गेट वे ऑफ इंडिया, जुहू बीच और बांद्रा वर्ली सी लिंक जो हमेशा लोगों से भरा रहता है लेकिन रविवार को यह खाली रहा. छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस और अन्य उपनगरीय रेलवे स्टेशन भी असमान्य तौर पर खाली रहे और लोग जनता कर्फ्यू के समर्थन में घर में ही रहे. मुंबई में फोर्ट, दादर, अंधेरी, बोरिवली, घाटकोपर, बांद्रा कुर्ला काम्प्लेक्स और अन्य इलाकों के बाजार खाली रहे और इन भीड़भाड़ वाले इलाकों से दूरी बनाकर कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई को मजबूत किया.

गोवा के गिरजाघरों ने रविवार की सामूहिक प्रार्थना स्थगित कर दी

गोवा के गिरजाघरों ने रविवार की सामूहिक प्रार्थना स्थगित कर दी. प्रमुख मंदिर बंद रहे जबकि सभी धर्मों के महत्वपूर्ण स्थलों में सामुदायिक प्रार्थना स्थगित रही. शहरों के अधिकतर गेट बंद कॉलोनी और अपार्टमेंट में भीतर से ताला लगा रहा और नगर निकायों ने इस दौरान सार्वजनिक स्थलों जैसे पार्क और बस स्टैंड को विसंक्रमित करने का काम किया. कोलकाता में एस्प्लानेड और डलहौजी इलाकों में आम दौर पर भीड़ होती है लेकिन रविवार हवाई अड्डे और रेलवे स्टेशन के साथ ये भी खाली रहे. गुजरात के चार प्रमुख शहरों अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा और राजकोट की सड़कों, रेलवे स्टेशन और हवाई अड्डों पर गिने-चुने लोग दिखे. तमिलनाडु में कई अहम सड़कें जैसे चेन्नई के अन्ना सलाई और जीएसटी रोड, प्रमुख रेलवे स्टेशन आम दिनों में वाहनों और लोगों से भरे रहते हैं खाली रहे. चेन्नई की पहचान मरीना बीच और इल्लियॉट बीच भी खाली रहा. पार्टी लाइन से इतर जाकर मुख्यमंत्रियों और अन्य नेताओं ने स्व लागू कर्फ्यू का अनुपालन करने का आह्वान किया और सहयोग के लिए लोगों को धन्यवाद ज्ञापित किया.

दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई सहित सभी मेट्रो सेवाएं भी जनता कर्फ्यू के लिए स्थगित रहीं

शनिवार मध्य रात्रि के बाद से देश के किसी भी रेलवे स्टेशन से कोई भी यात्री रेलगाड़ी रवाना नहीं हुई. दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई सहित सभी मेट्रो सेवाएं भी जनता कर्फ्यू के लिए स्थगित रहीं. विमानन कंपनी गो एयर, इंडिगो और विस्तार ने भी घरेलू उड़ानों में कटौती की और कारोबारियों के अखिल भारतीय संगठन ‘कांफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने भी रविवार को देश में अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखने की घोषणा की थी. उल्लेखनीय है कि गुरुवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में मोदी ने चिकित्सा पेशवेरों, सफाई कर्मियों, विमान चालक दल के सदस्यों, घर तक सामान पहुंचाने वालों और मीडिया कर्मियों के काम की प्रशंसा की थी और उनके प्रति आभार व्यक्ति करने के लिए रविवार शाम पांच बजे ताली, थाली और घंटी बजाने की अपील की थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों से अपील की थी कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लोग रविवार सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू का पालन करें और इस संकट के दौर में भी काम कर रहे डॉक्टरों, पैरा मेडिकल कर्मी, पुलिस और अन्य जरूरी सेवाओं से जुड़़े कर्मियों की प्रशंसा के लिए शाम पांच बजे अपने घरों पर ताली, थाली और घंटी बजाकर उनका उत्साह बढ़ाएं. जनता कर्फ्यू शुरू होने से पहले मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘जनता कर्फ्यू शुरू हो रहा है... मेरी विनती है कि सभी नागरिक इस देशव्यापी अभियान का हिस्सा बनें और कोरोना के खिलाफ लड़ाई को सफल बनाएं. हमारा संयम और संकल्प इस महामारी को परास्त करके रहेगा. 

ये जिले रहेंगे बंद

उत्तर प्रदेश - लखनऊ, कानपुर, मेरठ, प्रयागराज, आगरा, नोएडा, सहारनपुर, मुरादाबाद, बाराबंकी, गोरखपुर, बरेली, गाजियाबाद, लखीमपुर, वाराणसी, आजमगढ़, पीलीभीत

आंध्रप्रदेश - प्राकसम, विजयवाड़ा, विजाग

चंडीगढ़- चंडीगढ़

छत्तीसगढ़- राजयपुर

गुजरात- कच्छ, राजकोट, गांधीनगर, सूरत, वडोदरा, अहमदाबाद,

हरियाणा- फफरीदाबाद, गुरुग्राम, रोहतक, झज्जर, सोनीपत, पानीपत और पंचकुला

हिमाचल प्रदेश- कांगड़ा,

कर्नाटक - बेंगलुरु, चिकाबल्लापुरा, मैसूर, कोडागू, कलबुर्गी,

केरल- अलापुझा, एर्नाकुलम, ईडुकी, कन्नूर, कोट्टायम, मलाप्पुरम, त्रिवेंद्रम, त्रिशूर, पथानमथीता

लद्धाख- कारगिल, लेह

मध्य प्रदेश - जबलपुर, ग्वालियर आदि जिले

महाराष्ट्र - अहमदनगर, औरंगाबाद, मुंबई, नागपुर, पुणे, रत्नागिरी, रायगढ़, ठाणे, यवतमाल,

ओडिशा - खुर्दा

पुडुचेरी - माहे

तमिलनाडु - चेन्नई, ईरोड, कांचीपुरम,

तेलंगाना - भदराद्री कोथागुदम, हैदराबाद, मेडचई, रंगारेड्डी, संगारेड्डी,

उत्तराखंड - देहरादून

पश्चिम बंगाल - कोलकाता, नॉर्थ 24 परगना

First Published : 22 Mar 2020, 11:21:19 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.