News Nation Logo

Coronavirus (Covid-19) : 93.5 प्रतिशत लोगों को भरोसा, संकट से अच्छे से निपटेगी मोदी सरकार

देश में 93.5 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप को प्रभावी ढंग से संभाल रही है और इससे अच्छे से निपट लेगी.

IANS | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 23 Apr 2020, 12:16:19 PM
PM Narendra Modi

93.5 प्रतिशत को भरोसा, संकट से अच्छे से निपटेगी मोदी सरकार (Photo Credit: ANI Twitter)

नई दिल्ली:  

देश में 93.5 फीसदी लोगों का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अगुवाई वाली केंद्र सरकार कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप को प्रभावी ढंग से संभाल रही है और इससे अच्छे से निपट लेगी. आईएएनएस/सी-वोटर के सर्वे में गुरुवार को यह बात सामने आई. केंद्र सरकार (Modi Sarkar) ने कोरोनावायरस संक्रमण (Corona Virus Infection) की रोकथाम के मद्देनजर 25 मार्च को लागू किए गए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की अवधि को 15 अप्रैल के बाद भी संभावित चुनौतियों को देखते हुए 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया था.

यह भी पढ़ें : कोरोना संकट के समय किसानों और एमएसएमई को तत्काल राहत दे मोदी सरकार : सोनिया

सर्वे के अनुसार, 'मोदी सरकार महामारी के प्रकोप को प्रभावी ढंग से संभाल रही है' लॉकडाउन के पहले दिन इस बात को लेकर विश्वास रखने वाले लोगों की कुल संख्या 76.8 प्रतिशत थी, जबकि वर्तमान में 21 अप्रैल तक यह आंकड़ा बढ़कर 93.5 प्रतिशत हो गया है.

16 मार्च से 21 अप्रैल के बीच लोगों से पूछे गए सवालों पर आधारित सर्वे में पूछा गया, 'मुझे लगाता है कि भारत सरकार कोरोनावायरस महामारी के प्रकोप को प्रभावी ढंग से संभाल रही है' इसके जवाब में 16 अप्रैल को 75.8 प्रतिशत लोगों ने कहा कि उन्हें सरकार पर भरोसा है, लेकिन देश में कड़े प्रतिबंध लगाए जाने के बाद इनकी संख्या में वृद्धि हुई और प्रतिशत बढ़ गया.

यह भी पढ़ें : WHO प्रमुख ने कहा- इस्तीफा देने का सवाल ही नहीं, अमेरिका से वित्तीय मदद की अपील की

दिलचस्प बात यह है कि कुल मिलाकर सरकार को लेकर आत्मविश्वास में तेजी 1 अप्रैल को देखी गई, जब 89.9 प्रतिशत ने माना कि सरकार अच्छा काम कर रही है. 31 मार्च तक यह आंकड़ा 79.4 था.

First Published : 23 Apr 2020, 12:16:19 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.