News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

CoronaVirus के चलते पुणे में तबाह हुई पोल्ट्री इंडस्ट्री, 10 रुपये किलो में बिक रहा चिकन

कोरोना की दहशत का अंदाजा हम इसी बात से लगा सकते हैं कि भारत सरकार ने इसे महामारी घोषित कर दी है और मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान भी कर दिया है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 14 Mar 2020, 10:09:54 PM
Poultry Industry ruined in Pune

पुणे की पोल्ट्री इंडस्ट्री में तबाही (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्‍ली:

चीन के वुहान शहर से शुरू हुआ कोरोनावायरस (Corona Virus) दुनिया के 100 से भी ज्यादा देशों में फैल चुका है. कोरोनावायरस (Corona Virus) के कहर का खौफ अब भारत में भी दिखाई देने लगा है. भारत में कोरोना वायरस के संक्रमण से दो लोगों की मौत भी हो गई है. वहीं अमेरिका में कोरोना वायरस की वजह से 40 लोग काल के गाल में समा गए हैं. कोरोना की दहशत का अंदाजा हम इसी बात से लगा सकते हैं कि भारत सरकार ने इसे महामारी घोषित कर दी है और मृतकों के परिजनों के लिए मुआवजे का ऐलान भी कर दिया है. कोरोना की दहशत से आधे भारत में बंद की स्थिति है. वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी शुक्रवार की रात देश में नेशनल इमर्जेंसी (राष्ट्रीय आपातकाल) की घोषणा कर दी है. भारत में अब तक कोरोना वायरस के 84 मामले नजर में आए हैं जिनमें से 67 भारतीय और 17 विदेशी शामिल हैं.

कोरोना की दस्तक से भारत में पोल्ट्री फॉर्म हाउसों को बड़ा नुकसान हुआ है महाराष्ट्र के पुणे में तो यह इंडस्ट्री तबाह होने के करीब आ गई है. मुर्गी पालन करने वाले किसान कोरोना वायरस के अफवाह के चलते महज 10 किलो तक मुर्गियां बेचने को तैयार हैं फिर भी उन्हें खरीददार नहीं मिल रहे हैं. लोगों ने कोरोना वायरस के खौफ के चलते चिकन से दूरी बना लेने में ही भलाई समझी है. जानकारी के मुताबिक यहां के मुर्गी पालन का धंधा करने वाले किसान शत प्रतिशत का नुकसान उठा रहे हैं.

अबतक पोल्ट्री इंडस्ट्री को 700 करोड़ का नुकसान
महाराष्ट्र में पुणे के किसानों का कहना है कि कोरोना वायरस के चलते चिकन की मांग पूरी तरह से ठप हो गई है. अभी कुछ ही सप्ताह पहले 100 से 110 रुपये किलो बिकने वाला चिकन अचानक से घटकर 10 रुपये किलो बिकने लगा है. पोल्ट्री फार्मर्स की मानें तो पुणे में कोरोना वायरस की वजह से अब तक 700 करोड़ से भी ज्यादा का नुकसान हो चुका है.

यह भी पढ़ें-कोरोना वायरस को लेकर ब्रटिश एयरवेज रोजगार कम करेगी: सीईओ

इन राज्यों में इतने में मिल रहा है चिकन
उत्तर प्रदेश के पोल्ट्री फार्म एसेसिएशन के अध्यक्ष नवाब अली ने मीडिया से बातचीत में बताया है कि मौजूदा समय में कोरोना वायरस की वजह से सबसे सस्ता चिकन कर्नाटक में है वहां 10 रुपये किलो चिकन बिक रहा है जबकि महाराष्ट्र में भी 10 रुपये किलो वहीं तेलंगाना में 11 रुपये किलो तो आंध्र प्रदेश में 12 रुपये किलो, मध्य प्रदेश में 18 रुपये किलो तक है तो वहीं ओडिशा में 22 रुपये किलो चिकन बिक रहा है. गुजरात में भी इसका असर दिखाई दिया वहां पर चिकन 14 रुपये से 28 रुपये प्रतिकिलो तक बिक रहा है.

यह भी पढ़ें-कोरोना वायरस से निपटने के लिए दक्षेस देश मजबूत रणनीति बना सकते है : मोदी

6000 मुर्गियां जिंदा जमीन में दफन की
कर्नाटक के बेलगावी में एक किसान ने कोरोना की वजह से चिकन और मटन के दामों में गिरावट से बौखला गया और उसके बाद उसने ऐसा कदम उठाया कि हर कोई हैरान रह गया. इस किसान ने कोरोना की वजह से चिकन के दामों में भारी गिरावट के बाद से अपनी 6 हजार मुर्गियों को जिंदा जमीन में ही गाड़ दिया. यह किसान चिकन के दामों में कोरोना की वजह से आई गिरावट से बौखला गया था जिसके बाद उसने यह कदम उठाया. कोरोना वायरस की वजह से 200 रुपये किलो बिकने वाला चिकन अब 20 से 40 रुपये प्रतिकिलो तक बिक रहा है.

First Published : 14 Mar 2020, 06:27:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो