News Nation Logo

कोरोना वायरस फैलने को मजहबी रंग देने वालों को कोई कानून नहीं बचा पाएगा- सीएम उद्धव ठाकरे

हिमाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राजीव बिंदल ने आरोप लगाया कि तबलीगी जमात के सदस्यों ने ‘मानव बम’ की तरह घूमते हुए कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देश के प्रयासों पर पानी फेर दिया.

News Nation Bureau | Edited By : Aditi Sharma | Updated on: 05 Apr 2020, 07:48:07 AM
uddhav thackrey

महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे (Photo Credit: फाइल फोटो)

मुंबई/चेन्नई:

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने शनिवार को कहा कि कोरोना वायरस के अलावा ‘बांटने वाला’ एक वायरस भी है. ठाकरे और तमिलनाडु के उनके समकक्ष के पलानीस्वामी ने देश में वायरस के फैलने को मजहबी रंग नहीं देने की अपील की. ठाकरे ने कहा, 'कोरोना वायरस के अलावा बांटने वाला भी एक वायरस है. मैं ऐसे लोगों को चेतावनी देता हूं कि मैं यह सुनिश्चित करूंगा कि कोई कानून आपको न बचा पाए.' ठाकरे और पलानीस्वामी की अपील ऐसे दिन आयी जब उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरोप लगाया कि लॉकडाउन के बावजूद जानबूझकर सामाजिक दूरी बरतने के नियमों का उल्लंघन किया गया और अराजकता फैलायी गय. यह उन लोगों की सोची समझी साजिश का हिस्सा है जिन्होंने पिछले महीने दिल्ली में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में हिस्सा लिया था.

हिमाचल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राजीव बिंदल ने आरोप लगाया कि तबलीगी जमात के सदस्यों ने ‘मानव बम’ की तरह घूमते हुए कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए देश के प्रयासों पर पानी फेर दिया. पलानीस्वामी ने कोरोना वायरस के प्रसार को मजहबी रंग नहीं देने की अपील की और लोगों से धार्मिक जमावड़ा से परहेज करने और सामजिक मेल मिलाप से दूरी बनाए रखने की अपील की.

यह भी पढ़ें:Corona Lockdown 12th Day: 3 हजार के पार पहुंचा कोरोना मरीजों का आंकड़ा, करीब 100 लोगों की मौत

वहीं दूसरी तरफ भारत में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण के संकट को बढ़ाने वाले तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) के लोगों पर नर्सों के साथ अश्लील हरकत करने और डॉक्टरों पर थूकने को लेकर मामला दर्ज होने के बावजूद यह लोग नहीं सुधरे और शनिवार को भी देश के अलग-अलग राज्यों में अस्पताल कर्मियों को परेशान करने वाला रवैया जारी रहा. गाजियाबाद के एक अस्पताल में तबलीगी जमात में आइसोलेटेड कोरोना संदिग्धों द्वारा अश्लील हरकतें और छेड़छाड़ करने का मामला सामने आने के बाद अब दिल्ली के ताहिरपुर स्थित राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल से भी ऐसी ही शर्मनाक घटना सामने आई है.

यह भी पढ़ें: जेएनयू के 'लिबरल' छात्र ने सुरक्षाकर्मी पर थूक कर कोरोना फैलाने की धमकी दी, मामला दर्ज

नर्सिंग स्टाफ से कर दी छेड़छाड़

अस्पताल सूत्रों के मुताबिक यहां कार्यरत दो नर्सिंग स्टाफ ने आरोप लगाया है कि शुक्रवार की रात उनके साथ कुछ जमातियों ने छेड़छाड़ की. उन्हें अश्लील इशारे किए और अपशब्द कहे. इस संबंध में अस्पताल प्रशासन को शिकायत दी गई है. अस्पताल प्रशासन के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि इस बाबत पुलिस को भी सूचना दी गई. पुलिस छानबीन के लिए भी पहुंची थी. यह अलग बात है कि फिलहाल वरिष्ठ पुलिस अधिकारी कोई लिखित शिकायत मिलने से इंकार कर रहे हैं. दूसरी और सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि अस्पताल प्रशासन को जमातियों द्वारा छेड़छाड़ की शिकायत की गई है. बता दें की कुछ दिन पहले दिल्ली के ही राजीव गांधी अस्पताल में एक जमाती ने छठी मंजिल से सुसाइड करने की कोशिश का ड्रामा किया था. यह खबर भी न्यूज़ नेशन ने सबसे पहले ब्रेक की थी.

(भाषा से इनपुट)

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 05 Apr 2020, 07:44:43 AM