News Nation Logo
Banner

Corona virus: विदेश मंत्री एस जयशंकर बोले- लोगों को चीन से निकालने के लिए विमान भेजा जा रहा है

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हमरा दूतावास (Embassy)चीनी सरकार के संपर्क में है.

News Nation Bureau | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 28 Jan 2020, 07:38:38 PM
विदेश मंत्री एस जयशंकर

विदेश मंत्री एस जयशंकर (Photo Credit: ANI)

नई दिल्ली:

चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी है. अब तक कई लोगों को मौत की नींद सुला दी है. इस कहर से बचने के लिए लोग अपने वतन वापसी कर रहे हैं. इसको लेकर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि हमरा दूतावास (Embassy)चीनी सरकार के संपर्क में है. हमलोग वुहान शहर से लोगों को अपने देश लाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. जिसमें ज्यादातर स्टूडेंट्स है. उनलोगों को लाने के लिए प्लेन भेजा जा रहा है. उन्होंने कहा कि हमलोग लगातार कोशिश कर रहे हैं.

 

उन्होंने लोगों को आश्वस्त करते हुए कहा कि इस मामले में भारत सरकार गंभीरता से काम कर रही है. बहुत ही जल्द इसका समाधान कर लिया जाएगा. लोगों को चीन के वुहान से जल्द ही निकाला जाएगा. लोगों को डरने की जरूरत नहीं है. भारत सरकार इसपर काम कर रही है. नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने भारतीय नागरिकों को चीन के वुहान से निकालने के लिए एयर इंडिया की उड़ान को मंजूरी दी है. वुहान से सभी भारतीयों को देश वापस लाया जाएगा. वुहान में काफी संख्य़ा में छात्र वहां रहकर पढ़ाई करते हैं. उसको वापस लाया जाएगा. वहीं तमिलनाडु में मदुराई एय़रपोर्ट पर दो मेडिकल कैंप लगाए गए हैं. विदेश से जो भी लोग यहां आ रहे हैं उसका स्क्रीनिंग किया जा रहा है. ताकि संक्रमित लोगों को तुरंत अस्पताल में भर्ती किया जा सके.

यह भी पढ़ें- केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर को चुनाव आयोग का नोटिस, 30 जनवरी तक मांगा जवाब; जानें क्यों

मध्य प्रदेश के उज्जैन में कोरोना वायरस का एक संदिग्ध मरीज मिला है, उसे अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है, जहां उसका इलाज जारी है. वायरस की पुष्टि के लिए नमूना जांच के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (एनआईवी) पुणे भेजा गया है. स्वास्थ्य अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार, उज्जैन निवासी छात्र चीन के वुहान में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है और यहां लौटा है.

यह भी पढ़ें- वसंत पंचमी के दिन मां सरस्वती को अर्पित करें यह चीजें, बदल जाएगी आपकी जिंदगी

भारत के हवाईअड्डों पर जब चीन से लौट रहे लोगों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई, उसके पहले ही वह उज्जैन आ चुका था. उसे सर्दी, जुकाम व बुखार की तकलीफ है. कुछ दिन तक घर में रहने के बाद अब उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. महावीर खंडेलवाल ने संवाददाताओं को बताया है कि, छात्र को माधव नगर के अस्पताल के आईसोलेशन वार्ड में रखा गया है, वायरस की पुष्टि के लिए सैंपल को पुणे जांच के लिए भेजा गया है. रिपोर्ट आने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी.

First Published : 28 Jan 2020, 04:55:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो‹

×