News Nation Logo
कोविड के खिलाफ लड़ाई में भी भारत और रूस के बीच सहयोग: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में 85 फीसदी पात्र आबादी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगा दी गई है: मनसुख मंडाविया दिल्ली में इस साल डेंगू से अब तक 15 मरीजों की मौत बीते 6 साल में डेंगू से मौत का सबसे बड़ा आंकड़ा शाही ईदगाह मस्जिद की जगह पर भव्य श्रीकृष्ण मंदिर के निर्माण के लिए संकल्प यज्ञ किया गया ओमिक्रोन के अलर्ट के बीच पटना में 100 विदेशियों की तलाश भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से हराकर टेस्ट मैच श्रृंखला 1-0 से जीती टीम इंडिया ने घर में लगातार 14वीं टेस्ट सीरीज जीती न्यूजीलैंड पर 372 रनों से जीत रनों के लिहाज से भारत की टेस्ट मैचों में सबसे बड़ी जीत है उत्तराखंड के चमोली में देवल ब्लॉक के ब्रह्मताल ट्रेक मार्ग पर बर्फबारी हुई रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव ने भारत के विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ नई दिल्ली में बैठक की

भारत में 'Corona Attack' की साजिश रचने वाला 'जालिम' नेपाल में गिरफ्तार, जमात के लोगों को दी थी पनाह

नेपाल (Nepal) में रहकर भारत विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा और राजनीतिक-आर्थिक शह देने वाले जालिम मुखिया (Jalim Mukhia) को गिरफ्तार कर लिया गया है. यह गिरफ्तारी भारत में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमितों की घुसपैठ कराने के आरोप पर हुई है.

News State | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 13 Apr 2020, 12:13:47 PM
Jalim Mukhia Jamaat

भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम दे रहा जालिम मुखिया गिरफ्तार. (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

highlights

  • भारत विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा देने वाले जालिम मुखिया को गिरफ्तार किया गया.
  • भारत में कोरोना वायरस संक्रमितों की घुसपैठ कराने के आरोप पर हुई गिरफ्तारी.
  • इन लोगों को मकसद भारत खासकर बिहार में कोरोना का संक्रमण फैलाना है.

नई दिल्ली:

मी़डिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नेपाल (Nepal) में रहकर भारत विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा और राजनीतिक-आर्थिक शह देने वाले जालिम मुखिया (Jalim Mukhia) को गिरफ्तार कर लिया गया है. यह गिरफ्तारी भारत में कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमितों की घुसपैठ कराने के आरोप पर हुई है. इसके साथ ही जालिम मुखिया पर भारत से गए तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) से जुड़े लोगों को पनाह देने का भी बड़ा आरोप है. इन आरोपों के बाद रविवार को नेपाल पुलिस ने जग्गनाथपुर के मेयर जालिम मुखिया को गिरफ्तार कर लिया. जालीम मुखिया के लिए राजनीति महज मुखौटा भर है, उसका असली काम अपने लोगों से नकली नोट और हथियारों की तस्करी कराना है. सूत्रों का कहना है कि जालीम मुखिया का नेपाल के एक मंत्री से भी गहरे रिश्ते हैं, जिसकी शह पर वह भारत विरोधी गतिविधियों को अंजाम दिया जा रहा है.

यह भी पढ़ेंः रूस के राष्ट्रपति और सऊदी के क्राउन प्रिंस को डोनाल्‍ड ट्रंप ने क्‍यों कहा शुक्रिया

कोरोना संक्रमितों की घुसपैठ कराने का आरोप
बीते दिनों एसएसबी को सूचना मिली थी कि जालिम मुखिया भारत में कोरोना संक्रमित मुसलमानों की घुसपैठ कराना चाह रहा है. इस कुत्सित उद्देश्य के लिए जालिम मुखिया ने पहले तो उन्हें नेपाल में प्रवेश कराया, फिर बाद में उन्हें भारतीय सीमा पार करा बड़े पैमाने पर भारतीयों को कोरोना संक्रमण बांटने की फिराक में था. नेपाल में जालिम मुखिया पर आरोप हैं कि उसने जमातियों को पनाह दी थी. आरोप है कि रक्सौल सीमा पर भारतीय सुरक्षाकर्मियों ने पाकिस्तान, इंडोनेशिया और भारत के कुछ जमातियों को रोका था, लेकिन वे किसी तरह नेपाल की सीमा में प्रवेश करने में सफल रहे थे. बताया जा रहा है कि ये जमाती दिल्ली के निजामुद्दीन में हुई जमात में शामिल होकर लौटे थे. इनकी संख्या करीब 24 बताई जा रही है, जिसमें से 3 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं.

यह भी पढ़ेंः Corona Lockdown 20th day Live: 8300 के पार पहुंचा कुल मरीजों का आंकड़ा, 273 लोगों की मौत

भारत विरोधी गतिविधियों को बढ़ावा देता है मुखिया
नेपाल के जिला पारसा के सेरवा थाना अंतर्गत जग्गनाथपुर गांव का रहने वाला जालीम मुखिया हथियारों का तस्कर और परसा जिले के जगन्नाथपुर का मेयर भी है. मिली जानकारी के मुताबिक जालिम मुखिया नेपाल कम्यूनिस्ट पार्टी का सक्रिय सदस्य है और माओवादी ग्रुप का भी सदस्य रह चुका है. पिछली बार हुए नेपाल के चुनाव में उसकी महत्वपूर्ण भूमिका रही थी. जगन्नाथपुर की सीमा बेतिया के सिकटा इनरवा सीमा से लगी हुई है. गौरतलब है कि एसएसबी ने बेतिया के डीएम और एसपी को पत्र लिखकर कहा था कि नेपाल की सीमा से भारत में 40-50 कोरोना संक्रमित संदिग्ध भारत में दाखिल होने वाले हैं. इन लोगों को मकसद भारत खासकर बिहार में कोरोना का संक्रमण फैलाना है.

First Published : 13 Apr 2020, 10:56:36 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो