News Nation Logo
Quick Heal चुनाव 2022

आज से लगेगी 15-18 साल के बच्चों को Corona Vaccine, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

अब सरकार ने 15 से 18 साल के किशोर-किशोरियों को भी कोरोना वैक्सीन लगाने का फैसला किया है. इस क्रम में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कल यानी सोमवार से 15 से 18 उम्र वालों को वैक्सीन लगाने की शुरुआत करेगी. 

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 02 Jan 2022, 11:57:51 PM
child corona vaccination

child corona vaccination (Photo Credit: सांकेतिक तस्वीर)

नई दिल्ली:

देश में कोरोना वायरस और उसके नए वेरिएंट ओमिक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार भारत में ओमिक्रॉन (Omicron) के केस बढ़कर अब 1525 हो चुके हैं. हालांकि, कुल मरीजों में से 560 लोग ठीक होकर अपने घरों को लौट गए हैं. ओमिक्रॉन देश में अब तक 23 राज्यों को अपनी चपेट में ले चुका है. हालांकि इस बीच एक राहत देने वाली खबर सामने आई है. अब सरकार ने 15 से 18 साल के किशोर-किशोरियों को भी कोरोना वैक्सीन लगाने का फैसला किया है. इस क्रम में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार कल यानी सोमवार से 15 से 18 उम्र वालों को वैक्सीन लगाने की शुरुआत करेगी. 

स्वास्थ्य मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार 15 से 18 उम्र कैटेगरी वालों के लिए पहले ही वैक्सीनेशन का ड्राई रन कराया जा चुका है. दरअसल, राज्य में बच्चों के टीकाकरण के लिए पंजीकरण की शुरुआत नए साल के पहले दिन एक जनवरी से हो चुकी है. बच्‍चों के वैक्सीनेशन के लिए कोविन पोर्टल पर पंजीकरण कराकर अपना स्लॉट बुक करा सकते हैं. इसके लिए 10वीं कक्षा का आईडी कार्ड मान्य किया गया है. प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने आज यानी रविवार को हेल्थ डिपार्टमेंट को केंद्र के अधिकारियों से कोऑर्डिनेट करने को कहा है. स्टेट इम्मयूनाइजेशन ऑफिसर डॉ. अजय घई ने जानकारी देते हुए बताया कि यूपी में 15 से 18 साल की उम्र के लगभग 1 करोड़ 40 लाख बच्‍चे हैं.

cowin app एप पर पंजीकरण

वैक्सीनेशन कराने के लिए बच्चों को सबसे पहले cowin app एप पर पंजीकरण करना होगा. इसके बाद वैक्सीनेशन के लिए डेस्क पर पंजीकरण दिखाना होगा. बिलिंग डेस्क से बिल जाएगा जिसके बाद पेरेंट्स बच्चों को लेकर वैक्सीनेशन जोन में चले जाएंगे. टीकाकरण जोन में पहले बच्चों का vital test होगा, जिसमें उनकी हेल्थ रिपोर्ट भरनी होगी. फिर बच्चों से एक कंसेंट फॉर्म और डिक्लेरेशन भराया जाएगा. इसके बाद बच्चों को कोवैक्सीन रूम में भेज दिया जाएगा और उनको पहला डोज लगा दिया जाएगा. 

First Published : 02 Jan 2022, 10:50:12 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.