News Nation Logo

ALERT : तबलिगी जमात से निकले 'कोरोना बम' देश भर में फैले, अब सिर्फ सावधानी से ही बच सकते हैं आप

तब्लीगी जमात को लेकर दिल्ली के नार्थ ईस्ट जिले की 5 मस्जिदों से 48 विदेशियों को तलाशा गया है. पता चला है कि ये सभी मरकज़ में शामिल होने के बाद नार्थ ईस्ट जिले में आए थे जिसकी जानकारी दिल्ली पुलिस ने जिला प्रशासन को दी है.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 01 Apr 2020, 10:04:35 AM
Tablighi Jamat

BE ALERT : तबलिगी जमात से निकले 'कोरोना बम' देश भर में फैले (Photo Credit: Twitter)

नई दिल्ली :

तब्लीगी जमात (Tablighi Jamat) को लेकर दिल्ली के नार्थ ईस्ट जिले की 5 मस्जिदों से 48 विदेशियों को तलाशा गया है. पता चला है कि ये सभी मरकज़ में शामिल होने के बाद नार्थ ईस्ट जिले में आए थे जिसकी जानकारी दिल्ली पुलिस ने जिला प्रशासन को दी है. इन सभी का मेडिकल चेकअप किया जा रहा है. शास्त्री पार्क, सीलमपुर, दयालपुर और वेलकम इलाके में ये लोग मस्जिद में रह रहे थे. इस समय जिला प्रशासन की हेल्थ टीम ने दयालपुर इलाके में कुछ विदेशियों को जांच के बाद क्वारंटाइन किया है. दिल्ली के भारत नगर इलाके के संगम पार्क में भी ऐसे विदेशी लोगों का पता चला है जो निजामुद्दीन इलाके में मरकज में शामिल हुए थे. अभी भी पुलिस ऐसे 1600 लोगों को तलाश रही है जो या तो इस जमात में शामिल हुए है या इनके सम्पर्क में आए हैं.

यह भी पढ़ें : PSU Banks Merger: इन सरकारी बैंकों के लिए आज ऐतिहासिक दिन, अब कभी नजर नहीं आएंगे

जाँच में पुलिस को संगम पार्क इलाके के एक घर में 8 विदेशी लोगों के ठहरने का पता चला. ये लोग 19 मार्च से यहाँ ठहरे थे और निजामुद्दीन मरकज में शामिल हुए थे. ये 8 विदेशी नागरिक किर्गिस्तान के बताये जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि फ्लाइट रद्द होने से ये रुके हुए थे. बहरहाल इन सभी को कोन्टाइन के लिए बाहरी दिल्ली के सुल्तान पूरी इलाके में भेज दिया गया है.

निजामुद्दीन में कोरोना वायरस का केंद्र बने मरकज में राजस्थान के भी 64 लोग मिले हैं. राजस्थान में सबसे ज़्यादा 20 लोग श्रीगंगानगर में, 16 भारतपुर में, 12 बाडमेर , 6 हनुमानगढ़, 5 उदयपुर, 4 टोंक और 1 अजमेर में मिले हैं. इनमें से ज़्यादातर को क्वारंटाइन कर दिया गया है.

उधर, उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्धनगर (नॉएडा) से खबर है कि 7 मार्च को 11 व्यक्ति एवं 12 मार्च को 10 व्यक्ति, थाना इकोटेक 3 से 6 व थाना दनकौर से 17 लोगों का जमात के कार्यक्रम में शामिल होने के बारे में पता चला है. हालाँकि इनकी जाँच में कोरोना कि जाँच नेगेटिव आयी है.

यह भी पढ़ें : तबलीगी जमात अलकायदा, तालिबान और कश्मीरी आतंकियों की आड़, फंड वीजा में इस्तेमाल

खबर है कि जमात में शामिल 9 मौलाना प्रयागराज में मिले हैं. वे 22 मार्च से अब्दुल्ला मस्जिद रेलवे स्टेशन के मुसाफिर खाना में ठहरे थे. इनमे से 7 लोग इंडोनेशिया के बताये जा रहे हैं, जबकि एक केरल और एक पश्चिम बंगाल का निवासी है. सूचना मिलने पर पुलिस प्रशासन ने सभी 9 लोगों को क्वारंटाइन करा दिया. इनके साथ रहने वाले ३७ लोगों को भी आइसोलेट किया गया है.

कानपुर से सुचना मिली है कि वहां तब्लीगी जमात में दिल्ली गए 22 लोग मिले हैं. सभी को मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में क्वारंटीन किया गया है. इनमें 8 विदेशी भी शामिल हैं. विदेशियों में 6 अफगानिस्तान, 1 ब्रिटेन और 1 ईरान से आए थे.

यह भी पढ़ें : तबलीगी जमात : संदिग्धों की तलाश में छापे शुरू, राजधानी में 15 विदेशी मिले

महाराष्ट्र के पिंपरी चिंचवड मे (पुणे) में तबलीगी जमात के 29 लोग पाए गए हैं, वहीं गुजरात कि बात करें तो वहां से भी कई लोग जमात में शामिल होने के लिए दिल्ली आए हुए थे. सूरत में 73, अहमदाबाद में 35, भावनगर में 13, जूनागढ़ में 5, वडोदरा में 4, राजकोट मोरबी और डभोई में 3 और नवसारी में 1 आदमी की पहचान हुई है. गौरतलब है कि बीते दिनों भावनगर में जीत बुजुर्ग की मौत हुई थी वह भी निजामुद्दीन पर मरकज में हाजिरी देकर भावनगर लौटा था.

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

First Published : 01 Apr 2020, 09:57:06 AM