News Nation Logo

कांग्रेस को जून अंत तक मिल जाएगा फुल टाइम अध्यक्ष, 23 को चुनाव

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और चुनाव समिति के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने संकेत दिया है कि देश की सबसे पुरानी पार्टी को जून के अंत तक फुल टाइम पार्टी अध्यक्ष मिल जाएगा.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 10 May 2021, 01:31:10 PM
Gandhi Family

अंततः लंबे इंतजार के बाद कांग्रेस को मिल जाएगा पार्टी अध्यक्ष. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • जून के अंत तक कांग्रेस को मिल जाएगा पूर्णकालिक पार्टी अध्यक्ष
  • चुनाव समिति के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने दिए संकेत
  • पार्टी अध्यक्ष की चुनाव प्रक्रिया शुरू हुई
  •  

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव के बाद लगातार हर छोटा-बड़ा चुनाव हार रही कांग्रेस के लिए यह एक राहत भरी खबर है. कांग्रेस वर्किंग कमेटी की सोमवार को हुई वर्चुअल बैठक के बीच वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और चुनाव समिति के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री ने संकेत दिया है कि देश की सबसे पुरानी पार्टी को जून के अंत तक फुल टाइम पार्टी अध्यक्ष मिल जाएगा. उनके मुताबिक पार्टी अध्यक्ष के चुनाव के लिए प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. जानकारी मिल रही है 23 जून को पार्टी अध्यक्ष पद के लिए चुनाव हो सकते हैं. गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव में मिली हार के बाद तो कांग्रेस के संगठनात्मक फेरबदल को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने पुरजोर आवाज उठाई थी. हालांकि अब देखने वाली बात यह होगी कि पार्टी अध्यक्ष गांधी परिवार से ही बनता है या फिर बाहर से आता है. 

फिर खड़ा हुआ पूर्णकालिक अध्यक्ष का सवाल
जैसा अपेक्षित था कांग्रेस पार्टी के सामने अपना पूर्णकालिक अध्यक्ष चुनने का सवाल फिर खड़ा हुआ. कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेता पांच राज्यों के चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं. एक पूर्व महासचिव का भी कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष को कुछ बदलाव पर अमल करना चाहिए. कुछ जिद छोड़ देनी चाहिए. एक अन्य वरिष्ठ नेता ने कहा कि राहुल या फिर प्रियंका को हर बार मुख्य चेहरा बनाने के बजाय अन्य चेहरों को भी अजमा लेना चाहिए. सूत्र का कहना है कि पांच राज्यों के चुनाव में हमारे सहयोगी दलों के खाते में बहुत कुछ आया, लेकिन कांग्रेस तो घाटे में ही रही. इससे तो राजनीति में पार्टी पिछड़ती चली जाएगी.

अध्यक्ष गांधी परिवार से या बाहर का
जाहिर है बंगाल समेत हाल ही में संपन्न पांच विधानसभा चुनावों के बाद एक बार फिर से कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र को लेकर आवाजें बुलंद होने लगी थी. सबसे मुखर आवाज यही रही कि आखिर कब तक कांग्रेस बीजेपी की हार पर खुश होती रह उसे हराने वाले क्षेत्रीय क्षत्रप को बधाई संदेश देती रहेगी. इशके पहले लेटर बम फूटने के बाद भी ऐसे ही स्वर उठे थे. तब भी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव तक मामले को लटका दिया था. अब जब जून अंत तक पार्टी अध्यक्ष मिलने की बात कह दी गई है, तो इससे जुड़े उतार-चढ़ाव देखने वाले होंगे. 

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 10 May 2021, 12:55:29 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो