News Nation Logo

BREAKING

Banner

पीएसयू कर्मियों के महंगाई भत्ते फ्रीज होने पर कांग्रेस ने केंद्र पर साधा निशाना

राहुल ने ट्वीट किया, खाद्य पदार्थो की महंगाई दर 11.1 फीसदी पार! लेकिन मोदी सरकार सेंट्रल पीएसयू कर्मचारियों का डीए बढ़ाने की बजाय फ्रीज कर रही है. सरकारी कर्मचारियों की हालत पस्त, पूंजीपति 'मित्र' मुनाफा कमाने में मस्त!

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 20 Nov 2020, 09:27:06 PM
rahul gandhi 20 11

राहुल गांधी (Photo Credit: आईएएनएस)

नई दिल्ली:

कांग्रेस ने शुक्रवार को केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रमों के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते को फ्रीज करने के फैसले पर केंद्र को आड़े हाथों लिया और कहा कि यह डूबती अर्थव्यवस्था का एक और संकेत है. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि खाद्य पदार्थों में मुद्रास्फीति 11 फीसदी से ज्यादा हो गई है, लेकिन मोदी सरकार केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रमों (पीएसयू) के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता (डीए) बढ़ाने की बजाय फ्रीज कर रही है. उन्होंने कहा कि एक ओर सरकारी कर्मचारियों की हालत पस्त है और दूसरी ओर पूंजीपति 'मित्र' मुनाफा कमाने में मस्त हैं.


राहुल ने ट्वीट किया, खाद्य पदार्थो की महंगाई दर 11.1 फीसदी पार! लेकिन मोदी सरकार सेंट्रल पीएसयू कर्मचारियों का डीए बढ़ाने की बजाय फ्रीज कर रही है. सरकारी कर्मचारियों की हालत पस्त, पूंजीपति 'मित्र' मुनाफा कमाने में मस्त!

वहीं पार्टी नेता सुप्रिया श्रीनेत ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, अर्थव्यवस्था नियंत्रण से बाहर है और हर कोई परेशानी में है. यह सिर्फ असंगठित क्षेत्र नहीं है जो परेशानी झेल रहा है, बल्कि सरकारी कर्मचारी भी भारतीय अर्थव्यवस्था की अक्षमता का खामियाजा भुगत रहे हैं.

कांग्रेस नेता ने कहा कि दिक्कतें सिर्फ असंगठित क्षेत्र में ही नहीं है, बल्कि यहां तक कि सरकारी कर्मचारी भी सरकार के आर्थिक कुप्रबंधन का खामियाजा भुगत रहे हैं. उन्होंने कहा, तेजी से बढ़ती महंगाई ने मुश्किलें और भी बढ़ा दी हैं. अक्टूबर माह में महंगाई दर में 7.61 फीसदी की वृद्धि, विशेष रूप से खाद्य पदार्थों में 11.6 फीसदी की वृद्धि गहन चिंता का कारण है.

First Published : 20 Nov 2020, 09:27:06 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो