News Nation Logo
Banner

कांग्रेसी सांसद ने पाक की जेलों में बंद भारतीय मछुआरों का मुद्दा उठाया

भारत और पाकिस्तान ने 2020 में कैदियों की सूची का आदान-प्रदान किया था. इसके अनुसार, 270 भारतीय मछुआरे और 54 नागरिक पाकिस्तान की जेलों में हैं. इनमें से, लगभग 100 भारतीय मछुआरों ने पहले ही अपनी सजा पूरी कर ली है.

News Nation Bureau | Edited By : Ravindra Singh | Updated on: 10 Feb 2021, 11:40:45 AM
Congress MP Shakti Singh Gohil

कांग्रेस सांसद शक्ति सिंह गोहिल (Photo Credit: फाइल फोटो)

highlights

  • कांग्रेस सांसद ने सदन में उठाया भारतीय मछुआरों का मुद्दा
  • ये भारतीय मछुआरे पाकिस्तान की जेलों में बंद हैं
  • गुजरात से कांग्रेस सांसद शक्ति सिंह गोहिल ने की मांग

नई दिल्ली:

गुजरात के कांग्रेस सांसद शक्ति सिंह गोहिल ने बुधवार को राज्यसभा में पाकिस्तान की जेलों में बंद मछुआरों के मुद्दे को उठाया. गोहिल ने कहा, गुजरात की समुद्री सीमाएं पाकिस्तान से लगती हैं और पाकिस्तान की मरीन मछुआरों को गिरफ्तार कर उनकी नौकाओं को कब्जे में ले लेती है और मछुआरों को जेल में डाल देती हैं. पाकिस्तान की कैद में 400 मछुआरे और 1,100 जहाज हैं. उन्होंने सरकार से मछुआरों की रिहाई और जहाजों को छुड़ाने के लिए कुछ करने का अनुरोध किया. उन्होंने पाकिस्तानी समुद्री सुरक्षा एजेंसी (एमएसए) द्वारा मछुआरों को पकड़े जाने से रोकने के लिए भारतीय बलों द्वारा गश्त बढ़ाने की भी मांग की.

रिपोर्टों के अनुसार भारत और पाकिस्तान ने 2020 में कैदियों की सूची का आदान-प्रदान किया था. इसके अनुसार, 270 भारतीय मछुआरे और 54 नागरिक पाकिस्तान की जेलों में हैं. इनमें से, लगभग 100 भारतीय मछुआरों ने पहले ही अपनी सजा पूरी कर ली है और उनकी राष्ट्रीयता की भी पुष्टि हो गई है. मछली पकड़ने की नौकाओं को भी जब्त कर लिया जाता है जब मछुआरों को गिरफ्तार किया जाता है. ये नौकाएं उनकी आजीविका का प्राथमिक स्रोत होती हैं. भारतीय मछुआरों की 1,000 से अधिक मछली पकड़ने वाली नौकाओं को पाकिस्तान की समुद्री सुरक्षा एजेंसी ने कब्जे में ले रखा है.

यह भी पढ़ेंःश्रीलंकाई नौसेना का वादा, भारतीय मछुआरे की हत्या पर होगी विस्तृत जांच

साल 2016 में कराची की अदालत ने 66 भारतीय मछुआरों को जेल में डाला था
कराची की एक अदालत ने 66 भारतीय मछुआरों को शनिवार को जेल भेज दिया. इन मछुआरों को पाकिस्तानी जल सीमा में मछली पकड़ने के आरोप में शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था. पुलिस ने अदालत से कहा कि भारतीय मछुआरों को अरब सागर में पाकिस्तानी जल सीमा में अवैध रूप से मछली पकड़ने को लेकर गिरफ्तार किया गया था. पाकिस्तान समुद्री सुरक्षा एजेंसी ने मछुआरों की पांच नौकाओं को भी जब्त किया है.

यह भी पढ़ेंःकोरोना के कारण ईरान में फंसे 900 भारतीय मछुआरे भुखमरी के कगार पर

2016 में ही पाक ने रिहा किए थे 220 मछुआरे
पाकिस्तान तथा भारत एक दूसरे की जल सीमा में मछली पकड़ने को लेकर मछुआरों को गिरफ्तार करते रहते हैं, क्योंकि दोनों देशों की जल सीमा अच्छी तरह परिभाषित नहीं है और जगह का पता लगाने की प्रौद्योगिकी के न होने से अक्सर मछुआरे एक दूसरे के क्षेत्र में प्रवेश कर जाते हैं. वहीं इसके 6 दिन पहले ही पाकिस्तान ने 25 दिसंबर को सद्भावना संकेत के रूप में 220 भारतीय मछुआरों को रिहा किया था.

First Published : 10 Feb 2021, 11:38:43 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.