News Nation Logo
Banner

गुजरात कांग्रेस को बड़ा झटका, MLA अल्पेश ठाकोर ने पार्टी से दिया इस्तीफा

गुजरात कांग्रेस को बड़ा झटका, MLA अल्पेश ठाकोर ने पार्टी से दिया इस्तीफा

News Nation Bureau | Edited By : Kunal Kaushal | Updated on: 10 Apr 2019, 06:27:26 PM
अल्पेश ठाकोर (फाइल फोटो)

अल्पेश ठाकोर (फाइल फोटो)

अहमदाबाद:

गुजरात कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण की वोटिंग से महज कुछ घंटे पहले कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर ने पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया. अल्पेश ठाकोर गुजरात के राधनपुर विधासभा सीट से कांग्रेस के विधायक थे. बीते कई महीनों से उनका पार्टी नेतृत्व के साथ विवाद चल रहा था और अल्पेश आरोप लगा रहे थे कि गुजरात कांग्रेस ईकाई के नेता उनकी बात नहीं सुनते हैं. अल्पेश ठाकोर के कांग्रेस छोड़ने के बाद उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलों को अब बल मिल रहा है.

इससे पहले 9 मार्च को अल्पेश ठाकोर ने कांग्रेस छोड़ने की खबर को अफवाह करार दिया था और कहा था कि वो पार्टी नहीं छोड़ेंगे. ओबीसी(अन्य पिछड़ा वर्ग) नेता अल्पेश ठाकोर ने उन अटकलों को भी पहले खारिज कर दिया था जिसमें कहा गया था कि वो कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले हैं. उन्होंने कहा था कि उनके मुद्दे फिलहाल सुलझ गए हैं.

अल्पेश 2017 के विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस में शामिल हुए थे. उन्होंने लगभग एक पखवाड़ा पहले मुख्यमंत्री रूपानी और गुजरात बीजेपी अध्यक्ष जीतूभाई वाघवानी से मुलाकात कर कांग्रेस नेतृत्व की रातों की नींद उड़ा दी थी.

यहां एक संवाददाता सम्मेलन में अल्पेश ने स्वीकार किया कि वह मंत्री पद चाह रहे थे, लेकिन कांग्रेस नेतृत्व के साथ बैठक के बाद उन्होंने अपना इरादा बदल दिया. उन्होंने शुक्रवार को नई दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल से मुलाकात कर अपनी समस्याएं बताई थीं. इस बैठक में गुजरात कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अर्जुन मोढवाडिया भी उपस्थित रहे थे.

ठाकोर ने कहा, "एक समय मैं अपने समुदाय की बेहतर सेवा करने के लिए मंत्री पद चाह रहा था, लेकिन अब संघर्ष करने का फैसला कर लिया है." उन्होंने कहा, "अगर मैं भाजपा में चला जाता तो मैं छह महीने पीछे चला जाता."

ठाकोर ने यह भी स्वीकार किया कि वह प्रदेश में कांग्रेस के कुछ नेताओं की कार्यप्रणाली से भी असंतुष्ट थे, लेकिन अब यह बीती बात हो चुकी है.

राधनपुर से विधायक अल्पेश ने उन अटकलों को खारिज कर दिया जिसमें कहा जा रहा था कि वह आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से टिकट चाहते हैं. वह उन सवालों पर हंसने लगे, जिसमें कहा गया कि वह सांसद बनना चाहते हैं और उसके बाद अपनी विधानसभा सीट से अपनी पत्नी को लाना चाहते हैं.

उन्होंने कहा, "मेरी पत्नी राजनीति में कभी नहीं आएगी." उन्होंने कहा कि वह आगे भी गरीबों, बेरोजगारों, किसानों, दलितों और आदिवासियों के अधिकारों के लिए संघर्ष करते रहेंगे.

First Published : 10 Apr 2019, 06:09:03 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो