News Nation Logo
Banner

महाराष्ट्र: सोनिया गांधी के घर से निकले कांग्रेसी नेताओं ने शिवसेना को समर्थन देने पर कही ये बात

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जहां बीजेपी और शिवसेना के बीच खींचतान चल रही है तो वहीं शिवसेना को समर्थन देने के मुद्दे पर कांग्रेस बंटी नजर आ रही है.

By : Deepak Pandey | Updated on: 01 Nov 2019, 11:57:51 PM
कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Photo Credit: न्यूज स्टेट)

नई दिल्ली:

महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जहां बीजेपी और शिवसेना के बीच खींचतान चल रही है तो वहीं शिवसेना को समर्थन देने के मुद्दे पर कांग्रेस बंटी नजर आ रही है. इसे लेकर महाराष्ट्र कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेता शुक्रवार को दिल्ली स्थित 10 जनपथ पहुंचे और पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की. काफी देर चली मीटिंग के बाद कांग्रेस नेताओं ने कहा कि हमने सिर्फ आज की पॉलीटिकल सिचुएशन के बारे में मैडम को बताया है. हालांकि, उन्होंने शिवसेना को समर्थन देने पर कोई टिप्पणी नहीं की.

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस विपक्ष में बैठने के लिए तैयार है. इससे स्पष्ट है कि महाराष्ट्र में कांग्रेस जोड़तोड़ के दम पर सरकार नहीं बनाएगी और विपक्ष में ही बैठना उचित समझ रही है. हालांकि, इससे पहले ऐसी सूचना मिल रही थी कि महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं की सोनिया गांधी से मुलाकात नहीं हो पाई. बताया गया कि नेता बिना मिले ही मुंबई लौट गए, लेकिन अब 10 जनपथ पर नेताओं की सोनिया से मुलाकात जारी है. इस बैठक में महाराष्ट्र के पूर्व सीएम अशोक चव्हाण, बालासाहेब थोरट, मणिरॉव ठाकरे और पृथ्वीराज चौहान मौजूद हैं.

आपको बता दें कि अगर कांग्रेस विपक्ष में बैठती है तो शिवसेना को बड़ा झटका लगेगा. शिवसेना की सरकार बनाने के अरमानों पर पानी फिर जाएगा. बता दें कि शिवसेना ने शुक्रवार को ही कहा कि महाराष्ट्र का सीएम शिवसेना का ही होगा. राज्य में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर बीजेपी से जारी खींचतान के बीच शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस की ओर देख रही थी. शिवसेना को उम्मीद है कि वह एनसीपी और कांग्रेस के समर्थन से सरकार बना लेगी. लेकिन अब जब कांग्रेस विपक्ष में बैठने को तैयार है तो इससे साफ है कि शिवसेना की उम्मीदों को तगड़ा झटका लगा है.

शिवसेना बार-बार बीजेपी को 50-50 फॉर्मूले की याद दिलाई रही है और बीजेपी इसपर राजी नहीं है. वहीं शिवसेना भी पीछे नहीं हट रही है और लगातार बयानबाजी कर रही है. शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा. इसके अलावा उन्होंने ट्वीट के जरिए भी बिना नाम लिए बीजेपी पर निशाना साधा. संजय राउत का ये बयान तब आया है जब गुरुवार को उन्होंने एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात की थी.

महाराष्ट्र में ये है सीटों का गणित

288 सीटों वाली महाराष्ट्र विधानसभा में बहुमत के लिए 145 सीट चाहिए. शिवसेना के 56 और एनसीपी के 54 विधायक हैं. ये कुल 110 विधायक ही होते हैं जो बहुमत के मैजिक नंबर से 35 कम है. ऐसे में उन्हें कांग्रेस के 44 विधायकों के समर्थन की जरूरत होती है, लेकिन अब जब कांग्रेस विपक्ष में बैठने को तैयार है तो शिवसेना के लिए बिना बीजेपी के सरकार बनाना बेहद मुश्किल होगा.

वहीं, विधानसभा चुनाव में सबसे ज्यादा सीटें जीतने वाली बीजेपी सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त है. बीजेपी ने शपथ ग्रहण समारोह के लिए मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम को बुक कर दिया है. सूत्रों के मुताबिक, बीजेपी ने स्टेडियम को 5 नवंबर के लिए बुक किया है. भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) से इजाजत के बाद स्टेडियम शपथ ग्रहण के लिए बीजेपी को मिल सकेगा.

First Published : 01 Nov 2019, 07:58:10 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.