News Nation Logo

पाकिस्‍तान गए कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने अलापा रोहिंग्‍या मुसलमानों का राग, जानें और क्‍या बोले

लाहौर में मणिशंकर अय्यर ने कहा, मैं अपन देश के माहौल से निराश हूं. मुझे ऐसा नहीं लगता कि 2014 के बाद मैं उसी मुल्क में रह रहा हूं, जहां मैं 1941 में पैदा हुआ और 6 साल की उम्र में खुद को आजाद भारत का नागरिक महसूस किया.

News Nation Bureau | Edited By : Sunil Mishra | Updated on: 15 Jan 2020, 09:08:43 AM
पाकिस्‍तान गए कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने अलापा रोहिंग्‍या राग

पाकिस्‍तान गए कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने अलापा रोहिंग्‍या राग (Photo Credit: File Photo)

नई दिल्‍ली:

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर (Congress Leader Mani Shankar Aiyer) ने एक बार फिर ऐसा कारनामा किया है, जिससे बीजेपी को हमलावर होने का मौका मिलेगा तो कांग्रेस बचाव की मुद्रा में आ जाएगी. मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्‍तान जाकर लाहौर में आयोजित एक कार्यक्रम में मुझे ऐसा नहीं लगता कि 2014 के बाद मैं उसी मुल्क में रह रहा हूं, जहां मैं 1941 में पैदा हुआ और 6 साल की उम्र में खुद को आजाद भारत का नागरिक महसूस किया. मणिशंकर अय्यर ने यह भी कहा, फिलहाल ऐसा नहीं लगता कि भारत PoK के बारे में कुछ सोच रहा है. उन्‍होंने कहा, छह माह पहले हम लोकसभा चुनाव में हार के बाद कन्‍फ्यूज थे, लेकिन नागरिकता संशोधन कानून के विरोध के बाद हमें ऊर्जा मिली है.

यह भी पढ़ें : ईरान ने फिर किया हमला, इराक में जिस एयरबेस का अमेरिका करता है इस्‍तेमाल, उसे बनाया निशाना

लाहौर में मणिशंकर अय्यर ने कहा, “मैं अपन देश के माहौल से निराश हूं. मुझे ऐसा नहीं लगता कि 2014 के बाद मैं उसी मुल्क में रह रहा हूं, जहां मैं 1941 में पैदा हुआ और 6 साल की उम्र में खुद को आजाद भारत का नागरिक महसूस किया.” अय्यर बोले, “मैं काफी आशा के साथ आया हूं क्योंकि भारत में पिछले चार हफ्ते में जो कुछ हुआ, उसमें वो पॉपुलर काउंटर रिवोल्यूशन है. अब देश को विचाराधारा के नाम पर बांटा जा रहा है.

अय्यर ने कहा, “भारत का जो विचार महात्मा गांधी और नेहरू ने आजादी के बाद सौंपा था, उसे अब हिंदुत्व के उस विचार से चुनौती मिल रही है, जो 100 साल पहले 1923 में पनपा था और इसे अचानक जीत मिली. तीन हफ्तों से सरकार के विरोध में जो क्रांति देखी जा रही है, उसमें साउथ वेस्ट दिल्ली के शाहीन बाग का प्रोटेस्ट काफी असरदार है. वहां महिलाएं पिछले तीन हफ्तों से लगातार 24 घंटे प्रदर्शन कर रही हैं.”

यह भी पढ़ें : दिल्ली चुनावः AAP ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट, नई दिल्ली से लड़ेंगे केजरीवाल

अय्यर ने कहा, “जब CAA लाया गया तो BJP ने कहा था कि इसका किसी भारतीय से कोई लेना-देना नहीं है लेकिन एक्ट कहता है कि एक तरफ जहां पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से भागकर आए धार्मिक अल्पसंख्यकों को नागरिकता मिलेगी. दूसरी तरफ एक्ट कहता है कि मुस्लिम शरणार्थी शामिल नहीं होंगे और रोहिंग्या इसका उदाहरण हैं. भारत में 36 से 40 हजार रोहिंग्या हैं लेकिन उन्हें शरण नहीं मिलेगी.”

POK को लेकर पूछे गए सवालों को लेकर मणिशंकर अय्यर बोले, “अभी ऐसा नहीं लगता कि भारत PoK के बारे में सोच रहा है क्योंकि मोदी के साथ काफी बुद्धिमान लोग हैं. पुलवामा आतंकी हमले के दौरान और फिर डेवलपमेंट हुआ, उसके बाद तो मोदी के लिए सपोर्ट बढ़ता चला गया, इसलिए हम कन्फ्यूज थे ऐसे नतीजे कैसे आए गए.”

यह भी पढ़ें : निर्भया Case: डेथ वारंट के खिलाफ कोर्ट पहुंचा दोषी मुकेश सिंह, आज होगी सुनवाई

पाकिस्‍तान से लौटकर सीधे शाहीन बाग गए

लाहौर में भारत सरकार का मजाक उड़ाने के बाद देश लौटे मणिशंकर अय्यर सीधे दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में प्रदर्शनकारियों से मिलने गए. वहां उन्‍होंने पीएम मोदी का बिना नाम लिए कातिल तक करार दिया. अय्यर ने कहा, “जो भी कुर्बानियों देनी हों, उसमें मैं भी शामिल होने के लिए तैयार हूं. अब देखें कि किसका हाथ मजबूत है, हमारा या उस कातिल का.” उन्होंने कहा, “इनका मकसद आप लोगों को तंग करना है. शाहीन बाग के रहने वालों से सवाल पूछा जाएगा जो हिंदुओं से नहीं पूछा जाएगा. आपको मुबारकबाद देना चाहता हूं कि आपने इस बात को समझ लिया है कि इन नापाक लोगों का मकसद क्या है.”

First Published : 15 Jan 2020, 08:15:38 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.