News Nation Logo
Banner

कांग्रेस नेता शाम को मिलेंगे उद्धव ठाकरे से, देशमुख मामले में बढ़ी रार

पाटिल ने कहा कि उन्होंने राज्य के नेताओं से इस मामले पर रिपोर्ट मांगी है. इस सिलसिले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सोमवार शाम को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात करेंगे.

News Nation Bureau | Edited By : Nihar Saxena | Updated on: 22 Mar 2021, 02:14:22 PM
H K Patil

महाराष्ट्र कांग्रेस प्रभारी एचके पाटील. (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • देशमुख मामले में कांग्रेस नेता आज मिलेंगे उद्धव ठाकरे से
  • सोनिया के निर्देश पर कमलनाथ ने की पवार से मुलाकात
  • फिलहाल कोई बयान देने से बच रही है कांग्रेस

मुंबई:

कांग्रेस ने अपनी महाराष्ट्र इकाई से राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख पर लगाए गए आरोपों को लेकर रिपोर्ट मांगी है. रविवार की देर शाम पार्टी के कोर ग्रुप की वर्चुअल मीटिंग में महाराष्ट्र के राज्य प्रभारी एचके पाटिल ने देशमुख पर लगे आरोपों के बाद बनी स्थिति पर चर्चा की. इस बैठक में प्रदेश की कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष नाना पटोले, विधायक दल के नेता बालासाहेब थोरात समेत अन्य नेता मौजूद थे. मीटिंग के बाद पाटिल ने कहा कि उन्होंने राज्य के नेताओं से इस मामले पर रिपोर्ट मांगी है. इस सिलसिले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सोमवार शाम को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात करेंगे. 

पवार-कमलनाथ की हुई मुलाकात
वहीं सोनिया गांधी ने रविवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) सुप्रीमो शरद पवार से मिलने के लिए कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ को भेजा था. साथ ही यह जानकारी लेनी चाही थी कि क्या राज्य मेंसरकार को कोई खतरा तो नहीं है. राकांपा ने रविवार को कहा कि मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त परम बीर सिंह द्वारा लगाए गए सनसनीखेज आरोपों को लेकर अनिल देशमुख का इस्तीफा देने का कोई सवाल ही नहीं उठता है.

पवार एक कदम आगे दो कदम पीछे की रीति पर
6 जनपथ स्थित शरद पवार के आवास पर मैराथन बैठक के बाद राकांपा की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख जयंत पाटिल ने कहा, 'अनिल देशमुख के इस्तीफा देने का कोई सवाल ही नहीं उठता है. एंटीलिया बम मामले और मनसुख हिरेन की हत्या के मामले में महाराष्ट्र एटीएस और एनआईए जांच कर रहे हैं और सभी का मानना है कि दोषी को जल्द सजा दी जाएगी. हमें एटीएस और एनआईए की जांच पर पूरा भरोसा है और विश्वास है कि मुख्य अपराधी पकड़ा जाएगा. इस पूरे मामले में महाराष्ट्र की सरकार जांच में सहयोग कर रही है.'

जांच पर जताया भरोसा
इससे पहले एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए पवार ने कहा था, 'यह वास्तव में महत्वपूर्ण और संवेदनशील मामला है. इस मामले में गहन पूछताछ होनी चाहिए.' बता दें कि मुंबई के पूर्व पुलिस प्रमुख परम बीर सिंह के शनिवार को यह कहते ही बवाल मच गया कि देशमुख ने निलंबित सहायक पुलिस निरीक्षक सचिन वाजे से मुंबई के रेस्तरां, बार, पब आदि से हर महीने 100 करोड़ रुपये इकट्ठा करने के लिए कहा था. वाजे वही अधिकारी हैं जिन्हें एसयूवी मामले में गिरफ्तार किया गया है.

LIVE TV NN

NS

NS

First Published : 22 Mar 2021, 02:14:22 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.