News Nation Logo
Banner

काबुल में हवाई अड्डे पर मची भीड़ के कारण वाणिज्यिक उड़ानें निलंबित

काबुल में हवाई अड्डे पर मची भीड़ के कारण वाणिज्यिक उड़ानें निलंबित

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 16 Aug 2021, 07:40:01 PM
Commercial flight

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

काबुल: काबुल के हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सभी वाणिज्यिक उड़ानें निलंबित कर दी गई हैं।

अफगान मीडिया के अनुसार, बयान में जनता से हवाईअड्डे पर भीड़ नहीं लगाने का आग्रह किया गया है।

काबुल हवाईअड्डा रविवार की रात को भर गया था, जहां 2,000 से अधिक लोग देश छोड़ने के लिए वाणिज्यिक उड़ानों में सवार होने की उम्मीद कर रहे थे।

इस बीच, अमेरिकी बलों द्वारा सुगम निकासी के प्रयास जारी हैं।

पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी रविवार को एक मध्य एशियाई देश के लिए रवाना हुए।

सूत्रों ने बताया कि भीड़ बढ़ने के कारण सोमवार सुबह हवाई अड्डे पर गोलीबारी में कुछ लोग मारे गए और घायल हो गए।

सोशल मीडिया पर साझा किए गए फुटेज में अफगान नागरिकों को उड़ान भरने की तैयारी कर रहे एक अमेरिकी सैन्य विमान के किनारे से चिपके हुए देखा गया है। ये वह लोग थे, जो जहाज में घुसने में कामयाब नहीं हो सके तो उसके बाहरी हिस्सों से ही चिपक गए और ऐसे ही विमान के साथ जाने की कोशिश करने लगे।

बीबीसी ने बताया कि वीडियो में, कई लोग स्पष्ट रूप से अमेरिकी सैन्य परिवहन विमान के बाहरी हिस्से में लटके हुए दिखाई दे रहे हैं, जबकि यह रनवे से चल रहा है और इसके साथ-साथ सैकड़ों लोगों की भीड़ भी दौड़ रही है।

कुछ रिपोटरें के अनुसार, जिनकी पुष्टि अभी नहीं हुई है, एक विमान के उड़ान भरने के बाद उससे चिपके हुए लोगों में से गिरने से कम से कम दो लोगों की मौत हो गई है।

ऐसी वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं, जिनमें उड़ते हुए जहाज से कुछ गिरता नजर आ रहा है और दावा किया जा रहा है कि यह वही लोग नीचे गिर रहे हैं, जो जहाज के बाहरी हिस्से में किसी तरह चिपककर सफर करना चाह रहे थे, मगर जैसे ही विमान कुछ ऊंचाई पर पहुंचा तो वह नीचे गिर गए। हालांकि अभी इस विडियो को लेकर किए जा रहे दावों की पुष्टि नहीं हुई है।

कम से कम दो अन्य लोग कथित तौर पर पहले उसी हवाई अड्डे पर मारे गए थे, क्योंकि यात्रियों की एक बड़ी भीड़ देश से भागने का प्रयास कर रही थी। यह स्पष्ट नहीं है कि उनकी मौत भगदड़ में हुई या गोली लगने के कारण।

सरकार गिरने और राष्ट्रपति अशरफ गनी के विदेश भाग जाने के बाद तालिबान ने रविवार को काबुल में प्रवेश किया और लगभग 20 वर्षों में पहली बार अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया।

काबुल में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर हजारों लोगों के धावा बोलने के बाद तीन लोगों को, जो एक विमान से लटककर यात्रा करना चाह रहे थे, आकाश से नीचे गिरते देखा गया। देखने में यह विमान अमेरिका का लग रहा था।

अमेरिका ने काबुल स्थित अपने दूतावास के कर्मचारियों और उनके अफगान सहयोगियों को निकालना शुरू कर दिया है।

इस बीच, संयुक्त राज्य अमेरिका ने हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का प्रभार लेने की घोषणा की है।

फिलहाल काबुल हवाई अड्डे पर न कोई फ्लाइट आ रही है और न ही यहां से जा रही है।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 16 Aug 2021, 07:40:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.