News Nation Logo
Banner

इस्तीफे के अटकलों के बीच जेपी नड्डा से मिले सीएम येदियुरप्पा

कर्नाटक की सियासत में एक अहम परिवर्तन होने वाला है. खासतौर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी और राज्य सरकार में कुछ अहम बदलाव हो सकते है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा जल्द अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं.

News Nation Bureau | Edited By : Shailendra Kumar | Updated on: 17 Jul 2021, 12:23:12 PM
CM Yediyurappa arrives to meet JP Nadda

इस्तीफे के अटकलों के बीच जेपी नड्डा से मिले सीएम येदियुरप्पा (Photo Credit: न्यूज नेशन)

highlights

  • कर्नाटक की सियासत में एक अहम परिवर्तन होने वाला है
  • राज्य सरकार में कुछ अहम बदलाव हो सकते है
  • कल पीएम से मिलने के बाद आज जेपी नड्डा से मिले सीएम

नई दिल्ली:

कर्नाटक की सियासत में एक अहम परिवर्तन होने वाला है. खासतौर प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी और राज्य सरकार में कुछ अहम बदलाव हो सकते है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा जल्द अपने पद से इस्तीफा दे सकते हैं. हालांकि येदियुरप्पा ने इस बात से इनकार कर दिया है. येदियुरप्पा ने अपने इस्तीफे की अफवाहों को खारिज करते हुए कहा है कि यह बिल्कुल सच नहीं है. बता दें कि शुक्रवार को येदियुरप्पा प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की थी अब  वह शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात करने पहुंचे हैं.

सूत्रों के अनुसार, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपने इस्तीफे की पेशकश की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के दौरान भी बीएस येदियुरप्पा ने अपने इस्तीफे की पेशकश किया था. बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा के सामने भी अपने इस्तीफे की बात कही हैं. सूत्रों का कहना है बीएस येदियुरप्पा स्वास्थ्य आधार पर इस्तीफा दे सकते हैं पार्टी ने उन्हें अपने पद पर तब तक बने रहने के लिए कहा है जब तक कोई उचित उत्तराधिकारी का चुनाव ना हो जाए.

बता दें कि येदियुरप्पा का दिल्ली दौरा ऐसे समय में हुआ है जब राज्य में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर तमाम तरह की चर्चाएं हैं. प्रदेश में मंत्रिपरिषद में फेरबदल के बारे में पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बारे में यदि उनकी शीर्ष नेताओं से कोई चर्चा होगी तो वह जरूर बताएंगे. येदियुरप्पा के साथ दिल्ली दौरे पर राज्य सरकार का कोई अन्य मंत्री नहीं आया है. येदियुरप्पा ने कहा कि मेकेदातु परियोजना किसी भी तरह से तमिलनाडु को प्रभावित नहीं करेगी और यह परियोजना निश्चित रूप से अस्तित्व में आएगी.

येदियुरप्पा ने कहा, मैंने पहले ही उनसे (तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन) अपील की है और उन्हें एक पत्र लिखा है कि मेकेदातु पेयजल परियोजना के चालू होने से तमिलनाडु पर कोई असर नहीं पड़ेगा. उन्होंने कहा कि वह शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे और शनिवार को शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और कर्नाटक से नए केंद्रीय मंत्रियों सहित अन्य मंत्रियों से मुलाकात करेंगे.

उन्होंने कहा, मैं सभी के साथ मेकेदातु परियोजना पर चर्चा करूंगा और हम इसे पूरा करने के लिए ईमानदारी से प्रयास करेंगे. उन्होंने कर्नाटक के लोगों को आश्वासन दिया कि यह परियोजना 100 प्रतिशत लागू होगी. येदियुरप्पा ने कहा, इसके बारे में कोई भ्रम नहीं होने दें. मैं कर्नाटक के लोगों को आश्वस्त करता हूं कि इस परियोजना को 100 प्रतिशत लागू किया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें इस बात की परवाह नहीं है कि तमिलनाडु और पुडुचेरी परियोजना का विरोध कर रहे हैं.

First Published : 17 Jul 2021, 10:52:34 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.