News Nation Logo
Banner

जम्मू-कश्मीर में हुए आइईडी ब्लास्ट में उत्तराखंड का लाल शहीद, 7 मार्च को होनी थी शादी

शनिवार को एलओसी(LOC) पर राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) यानी देसी बम को डिफ्यूज करते वक्त धमाका हुआ.

News Nation Bureau | Edited By : Yogesh Bhadauriya | Updated on: 18 Feb 2019, 12:24:13 AM
दूसरे बम को डिफ्यूज करते वक्त गई मेजर चित्रेश की जान

दूसरे बम को डिफ्यूज करते वक्त गई मेजर चित्रेश की जान

नई दिल्ली:

पाकिस्तान की नापाक हरकत के चलते शनिवार शाम देश ने अपना एक और लाल खो दिया. शनिवार को एलओसी(LOC) पर राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) यानी देसी बम को डिफ्यूज करते वक्त धमाका हुआ..इस धमाके में सेना के मेजर चित्रेश सिंह बिष्ट शहीद हो गए. वहीं इसी क्षेत्र में पाकिस्तान की ओर से संघर्ष विराम उल्लंघन में एक जवान घायल हो गया. रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टीनेंट देवेंद्र आनंद ने कहा, 'राजौरी के नौशेरा सेक्टर में आईईडी विस्फोट में मेजर चित्रेश शहीद हो गए.'

यह भी पढ़ें- पुलवामा आतंकी हमला: CRPF जवान पर हमला कैसे हुआ, काफिले में मौजूद जवानों ने सुनाई आपबीती

मार्च में होनी थी चित्रेश की शादी

31 साल के चित्रेश अगले महीने 7 मार्च को शादी के बंधन में बंधने वाले थे. वह देहरादून के रहने वाले थे और उनके पिता उत्तराखंड पुलिस में इंस्पेक्टर थे.

दूसरे बम को डिफ्यूज करते वक्त गई जान

अधिकारियों ने बताया कि बम डिफ्यूज करने के दौरान मेजर चित्रेश सिंह बिष्ठ शहीद हो गए. हालांकि उत्तराखंड के देहरादून के रहने वाले चित्रेश सिंह बिष्ठ ने एक आईईडी बम को सफलता पूर्वक डिफ्यूज कर दिया था. लेकिन दूसरे बम को डिफ्यूज करने के दौरान यह हादसा हुआ. अधिकारी ने कहा कि विस्फोट नियंत्रण रेखा से 1.5 किलोमीटर दूर लाम झांगर क्षेत्र में हुआ. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हो सकता है आईईडी आतंकवादियों ने लगाए हों.

First Published : 17 Feb 2019, 12:06:34 AM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

×