News Nation Logo
अनन्या पांडे से सोमवार को फिर पूछताछ करेगी NCB अभिनेत्री अनन्या पांडे एनसीबी कार्यालय से रवाना हुईं, करीब 4 घंटे चली पूछताछ DRDO ने ओडिशा के चांदीपुर रेंज से हाई-स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट (HEAT) का सफल परीक्षण किया कल जम्मू-कश्मीर जाएंगे गृहमंत्री अमित शाह दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक 27 अक्टूबर को, छठ पूजा उत्सव के लिए ली जाएगी अनुमति 1971 के भारत-पाक युद्ध ने दक्षिण एशियाई उपमहाद्वीप के भूगोल को बदल दिया: सीडीएस जनरल बिपिन रावत माता वैष्णों देवी मंदिर में तीर्थयात्रियों के बीच कोरोना का प्रसार रोकने के लिए नए दिशा-निर्देश जारी दिल्ली जा रही फ्लाइट में एक आदमी की अचानक तबीयत ख़राब होने पर फ्लाइट की इंदौर में इमरजेंसी लैंडिंग 1971 का युद्ध, इसमें भारतीयों की जीत और युद्ध का आधार बेहद खास है: राजनाथ सिंह केंद्र सरकार की टीम उत्तराखंड में आपदा से हुई क्षति का आकलन कर रही है: पुष्कर सिंह धामी रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने आज बेंगलुरु में वैमानिकी विकास प्रतिष्ठान का दौरा किया शिवराज सिंह चौहान ने शोपियां मुठभेड़ में शहीद जवान कर्णवीर सिंह को सतना में श्रद्धांजलि दी मुंबई के लालबाग इलाके में 60 मंजिला इमारत में लगी भीषण आग उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव: कल शाम छह बजे सोनिया गांधी के आवास पर कांग्रेस सीईसी की बैठक

अब कैमरों में रिकॉर्ड होगी चीनी सैनिकों की हरकतें, भारतीय सेना ने उठाया बड़ा कदम

लद्दाख की गलवान घाटी (Galwan Valley) में भारत-चीनी सैनिकों ( India-China Dispute ) के बीच हुए खूनी संघर्ष के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बना हुआ है.

News Nation Bureau | Edited By : Mohit Sharma | Updated on: 27 Jul 2021, 12:08:25 AM
china

china (Photo Credit: Google)

highlights

  • गलवान घाटी में भारत-चीनी सैनिकों के बीच हुए खूनी संघर्ष के बाद दोनों देशों के बीच तनाव
  • चीनी सैनिकों पर पैनी नजर रखने के लिए भारतीय सेना ने LAC पर कैमरे फिट कर दिए हैं

नई दिल्ली:

लद्दाख की गलवान घाटी (Galwan Valley) में भारत-चीनी सैनिकों ( India-China Dispute ) के बीच हुए खूनी संघर्ष के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बना हुआ है. हालांकि गतिरोध सुलझाने के क्रम में दोनों देशों में सैन्य कमांडर स्तर की कई वार्ता का क्रम जारी है. बावजूद चीन अपनी चालाकी से बाज आता दिखाई नहीं पड़ रहा. यही वजह है कि भारतीय सेना ( Indian Army ) ने भी चीन के नापाक मंसूबों को नाकामयाब क रने के लिए प्रयास तेज कर दिए हैं. चीनी सैनिकों ( chinese soldiers) की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने के लिए भारतीय सेना ने LAC पर कैमरे और सेंसर फिट कर दिए हैं.

यह भी पढ़ेंःकांग्रेस के संगठन महासचिव और पार्टी के प्रभारी महासचिव जयपुर के लिए रवाना

भारत-चीन सीमा पर कैमरों और सेंसर का नेटवर्क

इसके साथ ही सेना भारत-चीन सीमा पर कैमरों और सेंसर का एक नेटवर्क तैयार कर रहे हैं, ताकि चीन की हर चाल का मुंहतोड़  जवाब दिया जा सके. दरअसल, भारतीय सेना अब चीन को लेकर कोई ढुलमुल रवैया नहीं रखना चाहती. यही वजह है कि सीमा पर हर तरह के हालातों से निपटने के लिए अब बॉर्डर पर तैनात सैनिकों को तैयार किया जा रहा है. इसके साथ ही जवानों को आधुनिक हथियारों से लैस किया जा रहा है, जबकि ऑपरेशनल एरिया को भी नए-नए उपकरणों से पूर्ण रखा जा रहा है. सरकारी सूत्रों के अनुसार पूर्वी लद्दाख से लेकर अरुणाचल प्रदेश तक चीनी सैनिकों की हर एक गतिविधी पर नजर रखने के लिए कैमरे और सेंसर में बदलाव किए गए हैं. इसके साथ ही इनकी संख्या भी बढ़ाई जा रही है.

यह भी पढ़ेंःमीनाक्षी लेखी ने पहले किसानों को 'मवाली' कहा, विवाद बढ़ा तो मांगी माफी

15 हजार सैनिको किए तैनात

भारतीय सेना ( Indian Army ) ने जम्मू-कश्मीर ( Jammu-Kashmir ) से अपनी आतंक विरोधी अभियान वाली यूनिट्स ट्रांसफर कर पूर्वी लद्दाख सेक्टर में तैनात कर दिया. भारतीय सेना के इस कदम के पीछे लद्दाख क्षेत्र में चीनी आक्रमण को रोकना है. जानकारी के अनुसार कई महीने पहले लद्दाख मोर्चे पर चीनी सेना को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए लगभग 15 हजार सैनिकों को जम्मू-कश्मीर से वहां पर शिफ्ट किया गया था. बताया जा रहा है कि ये जवान भविष्य में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ( PLA ) द्वारा उठाए गए किसी भी कदम से निपटने में लेह स्थित 14 कोर हेडक्वार्टर की मदद करेंगे. 

First Published : 26 Jul 2021, 11:58:01 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.

वीडियो