News Nation Logo
Banner

पंजाब के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा, गुड बाय टू कांग्रेस

पंजाब के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा, गुड बाय टू कांग्रेस

IANS | Edited By : IANS | Updated on: 14 May 2022, 07:30:02 PM
Chandigarh Punjab

(source : IANS) (Photo Credit: (source : IANS))

नई दिल्ली:   कांग्रेस पार्टी में चिंतन और मंथन के दौर के बीच पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कांग्रेस छोड़ दी है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुनील जाखड़ ने फेसबुक पर लाइव होकर कांग्रेस छोड़ने का ऐलान करते हुए कहा, आज कांग्रेस पार्टी खटिया पर नजर आ रही है, गुड लक एंड गुड बाय टू कांग्रेस पार्टी। उन्होंने कांग्रेस में जातिगत समीकरण को ध्यान में रखकर की जा रही राजनीति पर सवाल उठाए और आलकमान पर भी निशाना साधा। जाखड़ ने कहा, पंजाब में जो कांग्रेस के इंचार्ज थे उन्हें नोटिस न देकर हमें दिया। अगर मेरी वजह से पंजाब में सरकार नहीं बनी तो हमें निकला क्यों नहीं। नोटिस देकर मेरा क्या बिगाड़ लेंगे। चापलूसों के साथ रहना आपको मुबारक हो, लेकिन फैसले तो लीजिए। सही हो या गलत हो ये तो समय ही बताएगा।

उन्होंने कहा कि अंबिका सोनी द्वारा कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफा देने के बाद दिए बयान को लेकर हमला किया। अंबिका सोनी ने यह कह कर कि पंजाब का अपमान किया कि राज्य में कोई हिंदू नेता को सीएम बनाने पर पंजाब में आग लग जाएगी।

जाखड़ ने पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रभारी हरीश रावत पर भी हमला बोलते हुए पार्टी में विवाद के दौरान उनकी भूमिका पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा, खुद को कांग्रेस अनुशासन कमेटी द्वारा मुझे नोटिस देना बहुत ही चोट पहुंचाने वाला है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अनुशासन कमेटी की रिपोर्ट पर मुझे पार्टी के सभी पदों से हटाने का पत्र जारी किया। यह सिवाय मजाक सिवा कुछ नहीं है। सोनिया गांधी बताएं कि मैं किस पद पर था जो मुझे हटाया गया। हकीकत यह है कि मैं पार्टी में किसी पद पर था ही नहीं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस में अंबिका सोनी जैसी नेताओं की मंडली काम कर रही है। इनसे सोनिया गांधी को मुक्ति पानी होगी।

हालांकि जाखड़ ने राहुल गांधी की प्रशंसा करते हुए उन्हें एक अच्छा इंसान बताया और कहा कि वह पार्टी की बागडोर अपने हाथों में ले। सुनील जाखड़ ने राहुल गांधी को सलाह देते हुए उन्हें चापलूसों से खुद को दूर करने का आग्रह किया। उन्होंने गुड लक और अलविदा कांग्रेस कहते हुए अपनी बातें समाप्त की।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश पर कमेटी बनाते जहां विधानसभा चुनाव में करीब 290 सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवारों को दो हजार से भी कम वोट मिले। इतने वोट तो पंचायत चुनाव में मिल जाते हैं। उन्होंने कहा कि दिल्ली में बैठे कांग्रेस नेताओं ने पंजाब में पार्टी को बर्बाद कर दिया। राज्य में कांग्रेस को एक गरीब बसपा के रूप में पेश करने का भी प्रयास किया गया था। उन्होंने भावनात्मक आक्रोश में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से कहा कि आप अपनी विचारधारा से मत हटिए।

उल्लेखनीय है कि सुनील जाखड़ ने ये ऐलान ऐसे वक्त किया जब कांग्रेस पार्टी राजस्थान के उदयपुर में चिंतन शिविर कर रही है। जिसमें दिग्गज नेता मिलकर आगे की रणनीति तय कर रहे हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस ने हाल ही में सुनील जाखड़ के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की थी। उन्हें पार्टी के सभी पदों से हटा दिया गया था।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

First Published : 14 May 2022, 07:30:02 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.