News Nation Logo
Banner

लोकसभा में आज तीन तलाक विधेयक पर चर्चा और पारित होने की संभावना, विपक्ष डाल सकता है अड़ंगा

विधेयक में एक साथ, अचानक तीन तलाक दिए जाने को अपराध करार दिया गया है और साथ ही दोषी को जेल की सजा सुनाए जाने का भी प्रावधान

BHASHA | Edited By : Sushil Kumar | Updated on: 25 Jul 2019, 07:00:29 AM
Chance of discussions and passage of the three Divorce Bill in the LS

नई दिल्ली:

केंद्र सरकार ने लोकसभा में कल विवादास्पद ‘तीन तलाक’ विधेयक पर चर्चा के बाद उसे पारित किए जाने के लिए सूचीबद्ध किया है. आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को बताया कि सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने अपने सांसदों को इसके लिए व्हिप जारी किया है और उनसे सदन में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करने को कहा है. विधेयक में एक साथ, अचानक तीन तलाक दिए जाने को अपराध करार दिया गया है और साथ ही दोषी को जेल की सजा सुनाए जाने का भी प्रावधान किया गया है.

यह भी पढ़ें - बिहार के मधुबनी जिले में आसमान से गिरा उल्का पिंड बरामद, CM नीतीश कुमार ने किया अवलोकन

नरेन्द्र मोदी सरकार ने मई में अपना दूसरा कार्यभार संभालने के बाद संसद के इस पहले सत्र में सबसे पहले इस विधेयक का मसौदा पेश किया था. कई विपक्षी दलों ने इसका कड़ा विरोध किया है लेकिन सरकार का यह कहना है कि यह विधेयक लैंगिक समानता और न्याय की दिशा में एक कदम है. कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और द्रमुक मांग कर रही हैं कि इसे जांच पड़ताल के लिए संसदीय समिति को सौंपा जाए.

यह भी पढ़ें - भारत में 10 में से 7 महिलाएं देती हैं पति को धोखा, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

भाजपा की अगुवाई वाली राजग सरकार के पास निचले सदन में पूर्ण बहुमत है और उसके लिए इसे पारित कराना कोई मुश्किल काम नहीं होगा. लेकिन राज्यसभा में सरकार को कड़ी परीक्षा का सामना करना पड़ सकता है जहां संख्या बल के लिहाज से सत्ता पक्ष पर विपक्ष भारी है. जनता दल (यू) जैसे भाजपा के कुछ सहयोगी दल भी विधेयक के बारे में अपनी आपत्ति जाहिर कर चुके हैं .

First Published : 24 Jul 2019, 11:27:37 PM

For all the Latest India News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.